googlenews
Vagina Tightening
Yoga for Vagina Tightening

Vagina Tightening: कुछ महिलाएं अपनी ढीली वजाइना के कारण काफी परेशान रहती हैं क्योंकि इसका असर उनकी सेक्सुचल लाइफ पर पड़ता है और पति से आएदिन अनबन रहती है। इस समस्या को कई महिलाएं शेयर भी नही कर पाती और मानसिक तनाव झेलती हैं। या फिर अपने रिश्ते को बचाने के लिए तकलीफदेह वजाइनल सर्जैरी तक कराने से पीछे नहीं हटती। लेकिन अगर महिलाएं कुछ बातों का ध्यान रखें और पैल्विक स्ट्रैंथनिंग एक्सरसाइज करती रहें, तो इस समस्या को नियंत्रित कर सकती हैं।

क्या है कारण- वजाइना ढीली होने के 3 मुख्य कारण हैं-

1 जब गर्भस्थ शिशु की वजाइना के माध्यम से नाॅर्मल डिलीवरी होती है, तो वजाइना के आसपास की मसल्स में बहुत ज्यादा असर पड़ता है। उनमें ख्ंिाचाव आता है जिससे वजाइना की कसावट कम होने लगती है। डिलीवरी के बाद अगर ध्यान न रखा जाए तो मसल्स दुबारा अपनी स्थिति में वापस नहीं आ पाती। खासकर महिलाओं को डाइट का ध्यान रखना पडता है जिसमें बादाम, अखरोट, देसी घी जैसे गुड फैट का सेवन करना चाहिए।

2 बढ़ती उम्र के साथ महिलाओं के शरीर में एस्ट्रोजन हार्मोन की कारण वजाइना सूखी और कम लचीली हो जाती है। उसकी मसल्स में शिथिलता आनी शुरू हो जाती है। जिसकी वजह से वजाइना ढीली पड़ जाती है।
3 महिलाओं को बार-बार यूरिनरी ट्रेक्ट इंफेक्शन होना भी वजाइना के ढीलेपन का प्रमुख कारण होता है। इंफेक्शन होने से बैक्टीरिया वहां पनपने लगते हैं जिससे जलन, खुजली रहने लगती है

वजाइना को टाइट करने के लिए क्या करे

वजाइना को टाइट करने के लिए सर्जरी, टेबलेट , लेज़र थेरेपी जैसे कई तरह के मेडिकल विकल्प उपलब्ध हैं। वजाइनल मसल्स को टोन करने के लिए कुछ एक्सरसाइज या योगासन फायदेमंद हैं।हालांकि इसके नतीजे आपको रातोंरात नज़र नहीं आएंगेए पर यदि महिलाएं नियमित रूप से ये एक्सरसाइज़ करेंगी तो फ़ायदा सौ फ़ीसदी होगा। समय के साथ चे बदलाव महसूस करेंगी।

कीगल एक्सरसाइज- दिन में किसी भी समय पैल्विक फ्लोर कीगल एक्सरसाइज की जा सकती है। सबसे अच्छी बात यह है कि जब आप कीगल एक्सरसाइज करती हैं, तो इसके बारे में किसी को पता भी नहीं चलता। बस ध्यान रहे कि इन्हें करने से पहले ब्लैडर खाली होना चाहिए।

1. कीगल एक्सरसाइज

Vagina Tightening
Kegel Exercise

इसके लिए आप बिस्तर पर लेट जाएं। इसमें आपको अपनी योनि और कूल्हे के आसपास वाली कोशिकाओं को अंदर की तरफ खींच कर सिकोड़ें। 10 तक गिनती करें, फिर छोड़े। यह क्रिया दुबारा दोहराएं। यह एक्सरसाइज दिन में 3 बार 10 मिनट के लिए करें। इस एक्सरसाइज से वजाइना के ढीलेपन में 2-3 महीने में सुधार होगा।

2. यूरिन कीगल होल्ड एक्सरसाइज-

यूरिन पास करते वक्त अपना यूरिन बीच में रोकना है और पैल्विक मसल्स को 5-10 सेकंड के लिए सिकोड़े। फिर यूरिन पास करें। शुरू में एक बार यूरिन रोकें जिसे धीरे-धीरे 3 बार रोकें। दिन में यह एक्सरसाइज 3 बार करें।

3. पैल्विक टिल्ट कीगल एक्सरसाइज-

Vagina Tightening
Pelvic Tilt Kegel Exercise

आप यह एक्सरसाइज कभी भी और किसी भी पाॅजिशन (खड़े, बैठे, लेटे हुए) में कर सकती हैं। सबसे पहले गहरी सांस ले। पेट के निचले हिस्से में पैल्विक मसल्स को अंदर की तरफ और ऊपर की ओर खींचकर सिकोड़ें। 3-10 सेकंड तक सांस रोकें। फिर सांस छोड़कर नाॅर्मल पाॅजिशन मंे आ जाएं। यह एक्सरसाइज दिन में 3 बार जरूर करें। इससे आपकी वजाइना वाॅल टाइट होगी।

4. लैग राइजे़स एक्सरसाइज-

Vagina Tightening
Leg Rises Exercise

योगा मैट पर सीधे लेट जाएं। एक पैर धीरे-धीरे सीधे 45 डिग्री के कोण पर ऊपर उठाएं । फिर धीरे-धीरे पैर नीचे लाएं। इसके बाद दूसरा पैर ऊपर उठाएं। कुछ सेकंड रूक कर वापस आ जाएं। इसके बाद दोनों पैर इकट्ठे उठाएं। यह एक्सरसाइज दिन में 3 बार करें।

स्क्वाॅट्स एक्सरसाइज-

Vagina Tightening
Squats Exercise

वजाइना और पेट के निचले हिस्से की मसल्स को टोन करने में उपयोगी है। इसके लिए पैरों को हिप्स के बराबर चैड़ाई में खोल कर खड़े हो जाएं। हिप्स को थोडा-सा पीछे की ओर ले जाएं और घुटनों को हल्का-सा मोड़ते हुए कुर्सी पर बैठने की पाॅजिशन में आएं। ध्यान रखें कि आपकी कमर एकदम सीधी हो और चेस्ट 30 डिग्री कोण पर आगे की ओर मुड़ी हो। 10 तक गिनती गिनते हुए इस पाॅजिशन में रहें। एड़ी से ऊपर की ओर धक्का देते हुए धीरे-धीरे वापस अपनी पाॅजिशन में आ जाएं।

करें योगासन- महिलाओं को दिन में करीब 5-10 मिनट योगाभ्यास करना लाभदायक होता है। खासकर गोमुख, तितली आसन, चाइल्ड पोज़ उन्हें जरूर करना चाहिए।

Vagina Tightening
Vagina Tightening: सेक्स लाइफ एंजाय करने के लिए वजाइना वाॅल को यूं रखें टाइट 8

बैठंे पैर क्राॅस करके- कोशिश करे कि बैठते हुए अपने पैरों को स्ट्रैच करके और क्राॅस करके बैंठे। पैर खोल कर बैठने से वजाइना वाॅल खुली रहेगी। एक के ऊपर एक पैर रखकर बैठने से वजाइना वाॅल पास रहती है।

Vagina Tightening
While sitting, stretch and cross your legs

लेजर मशीन थेरेपी- इसमें लेजर तकनीक से आप अपनी ढीली वजाइना में कसाव ला सकती हैं। इसमें किसी तरह की सर्जरी, या कटिंग नहीं की जाती यानी महिला को किसी तरह की समस्या नहीं होती। इसमें लेज़र मशीन को वजाइना में इंसर्ट किया जाता है जिससे वजाइना की डायमीटर संकुचित हो जाती हैं और टिशूज में कसाव आता है।

बरतें सावधानी- अगर महिलाएं अपनी वजाइना को टाइट रखना चाहती हैं तो कुछ सावधानियां बरतनी जरूरी हंै। उन्हें वजाइना के आसपास की जगह को स्वस्थ और मजबूत रखने के लिए इन कारणों को दूर करने के प्रयास करने होंगे।
वजन कंट्रोल रखें- वजाइना को टाइट रखने के लिए सबसे जरूरी है। शरीर का वजन पड़ने से वजाइना और मोशन का रास्ता प्रभावित होता है। इसके टिशूज ढीले पड़ जाता है।
खांसी-जुकाम या अस्थमा होना- ये भी वजाइना मसल्स के कमजोर होने का एक कारण होते हैं। बार-बार खांसी होने से वजाइना एरिया पर प्रेशर पड़ता है, यूरिन लीकेज की समस्या भी हो सकती है।
कब्ज की शिकायत रहना- कब्ज होने पर प्रेशर लगाने से वजाइना मसल्स कमजोर होकर ढीली पड़ने लगती है।
यूरिन इंफेक्शन- इससे कोलेजन टूटने लग जाता है जिसकी वजह से मांसपेशियां ढीली पडनी शुरू हो जाती हैं। जरूरी है कि महिलाएं इसका इलाज जल्द कराएं।
स्मोकिंग को कहें न- जो महिलाएं किसी भी तरह की स्मोकिंग नीचे की मसल्स को कमजोर करती है और वजाइना ढीली हो सकती है।

Leave a comment