Posted inपेरेंटिंग

बच्चों की बेहतर परवरिश के लिए इन बातों का रखें ध्यान

किसी बात पर अड़ जाना, नाराज़ होना, हठ करना, ऐसा स्वभाव जरूरी नहीं है कि किसी खास आयु वर्ग से जुड़ा है, क्योंकि ऐसा व्यवहार केवल बच्चों में ही नहीं, बल्कि किशोर, वयस्क और यहां तक कि बुजुर्गों में भी देखा जा सकता है। इस तरह के लक्षण ऐसे शख्स के साथ काम करने की चुनौतियों को और बढ़ाते हैं।