12 Plants to Use as a Natural Mosquito Repellent

गर्मियों के मौसम में शाम होते ही मच्छरों का कहर बढ़ने जाता है। आमतौर पर मच्छरों से छुटकारा पाने के लिए लोग बाजार में मिलने वाले कई तरह के प्रोडक्ट्स का इस्तेमाल करते हैं। इन प्रोडक्ट्स में कई तरह के केमिकल्स मिलाए जाते है, जो सेहत को नुकसान पहुंचा सकते हैं। इसके चलते मच्छरों से निजात पाने के लिए नेचर का सहारा ले सकते हैं। आइए जानते हैं उन पौधों के बारे में जो ना सिर्फ घर में मच्छरों को आने से रोकेंगे बल्कि ये आपके घर की सुंदरता को भी चार चांद लगाएंगे  

गेंदे का पौधा

गेंदे का पौधा आसानी से उगने वाला बारहमासी फूलों वाला पौधा है। इसके फूल मच्छरों को दूर रखते हैं। घर में मच्छर न आए इसके लिए किसी भी गमले में आप इस पौधे को लगा कर रख सकते हैं। यह पौधा आपके बगीचे की न सिर्फ खूबसूरती बढ़ाएगा बल्कि इसे पूजा.अर्चना या फिर अन्य कामों में भी इस्तेमाल कर सकती हैं।

लैवेंडर

किसी भी मच्छर या अन्य कीड़े मकोड़े को लैवेंडर के पौधों के आस.पास भटकते नहीं देखा होगा। दरअसल, लैवेंडर की पत्तियों में सुगंध होती हैंए जो मच्छरों को पास आने से रोकती हैं। खास बात है कि आप किसी भी मौसम में इसे गमले में लगा सकती हैं लेकिन गर्म जगह पर यह अधिक विकास करते हैं। मच्छरों को भगाने के लिए होम गार्डेन में लगाना बेस्ट ऑप्शन है।

तुलसी का पौधा

तुलती औषधीय गुणों से भरपूर है और इसका इस्तेमाल पूजा.अर्चना के साथ.साथ भोजन में भी खूब किया जाता है। तुलसी के पौधे को सिर्फ नम और सूरज की रोशनी में रखने की जरूरत है। इसे आप चाहे तो अलग या फिर अन्य पौधों के साथ रख सकती हैं। 

कैटनिप

कैटनिप मिंट की तरह ही होता है, जो लगभग हर जगह पनप सकता है। यह मच्छरों को भगाने के लिए सबसे प्रभावी तरीका है। यही वजह है कि खेतों में कीड़े मारने के लिए इस्तेमाल होने वाले कीटनाशकों में भी कैटनिप का इस्तेमाल खूब किया जाता है। इसे आप अपने घर में किसी गमले में लगा सकती हैं।

रोजमेरी

रोज़मेरी अपने आप में एक प्राकृतिक मॉस्किटो रिप्लीयन्ट है। रोजमेरी का इस्तेमाल मौसमी कुकिंग के लिए भी होता है। गर्मी के दिनों में रोजमेरी प्लाट के गमले को बगीचे में रखें। रोजमेरी मॉस्किटो रिप्लीयन्ट की 4 बूंदों को 1 चौथाई जैतून के तेल के साथ मिलकर भी लगाया जा सकता है लेकिन इसे ठंडे और सूखे स्थान पर रखें।

लेमन बाम 

लेमन बाम भी मच्छरों को दूर रखता है। लेमन बाम तेजी से बढ़ता है और इसकी पत्तियों में सिट्रोनेला की अधिकता होती है। कई कमर्शियल मॉस्किटो रिपलियंट्स में इसका इस्तेमाल होता है। लेमन बाम की कुछ किस्मों में 38 प्रतिशत तक सिट्रोनेला की मात्रा होती है। मच्छरों को दूर रखने के लिए इसे बाड़े में उगाएं। मच्छरों से लड़ने के लिए आप लेमन बाम की पत्तियों को रगड़कर स्किन पर भी लगा सकते हैं।

सिट्रानेला का पौधा

मच्छरों से बचाव के लिए सिट्रानेला का पौधा की काफी कारगर होता हैं।  इस पौधे की खुशबू से मच्छर दूर भागते हैंण् मॉस्किटो रैपलेंट क्रीम में भी सिट्रानेला का प्रयोग होता हैं।

लहसुन का पौधा

कहा जाता है कि लहसुन खाने से खून में एक अलग तरह की महक आने लगती है, जिसे मच्छर बिल्कुल पसंद नहीं करते हैं।  अगर आप खुद लहसुन का सेवन नहीं करना चाहते तो अपने घर में लहसुन का एक पौधा लगा लें। 

स्वास्थ्य संबंधी यह लेख आपको कैसा लगा? अपनी प्रतिक्रियाएं जरूर भेजें। प्रतिक्रियाओं के साथ ही स्वास्थ्य से जुड़े सुझाव व लेख भी हमें ई-मेल करें- editor@grehlakshmi.com

यह भी पढ़ें-

ज़ीरो बजट में तैयार करें किचन गार्डन