दक्षिणमुखी मकान का नाम आते ही प्रायः लोगो के मन में घबराहट और वहम आने लग जाते है, ज्योतिष और वास्तु के हिसाब से कुछ दोष भी बताये गए है दक्षिणमुखी मकान के जो की उस घर में रहने वाले लोगो के जीवन पर अपना प्रभाव डालते है| दक्षिण दिशा यम देवता और मंगल देवता की दिशा है| दक्षिण ध्रुव भी इस दिशा में हैं| इन सबका नकारात्मक असर होता है जो की दक्षिणमुखी मकान में   रहने वाले लोगों को अपनी चपेट में लेता है विद्वानों का कहना है की जिस तरह से दक्षिण दिशा में पैर रखकर सोने से शरीर की सारी ताकत व ऊर्जा दक्षिण दिशा अपने अंदर खीच लेती है उस ही तरह से दक्षिणमुखी मकान भी उस घर में रहने वाले लोगों की सारी ऊर्जा खीच लेता हैं| पर कुछ उपायों को करके इन दोषों से आप काफी हद तक खुद को बचा सकते हैं|

  • घर के मुख्य दरवाजे पर नीम का पेड़ लगाये बड़े पेड़ आजकल घर में लगाने संभव नहीं है तो नीम का बोनसाई पेड़ लगा ले|
  • घर के मुख्य दरवाजे पर पंचमुखी हनुमान जी की तस्वीर लगाये|
  • घर के मुख्य दरवाजे पर अस्टधातु का पिरामिड लगाये|
  • घर के मुख्य दरवाजे और हर कमरे में फिटकरी रखे और हर अमावस्या को उस फिटकरी को घर से बाहर फेक दे और उसकी जगह नयी फिटकरी रख दे|
  • घर के मुख्य दरवाजे पर एक काली कपडे में एक मुठ्ठी पीली सरसों सात साबुत पीली कोड़ी सात काली हल्दी की गाठे रखे और कपडे में सात गाठे लगाकर ऐसे लटका दे की वो किसी को दिखाई ना दे हर दीपावली को इसको उतार कर घर से बाहर रख कर जला दे और नयी पोटली बनाकर लटका दे|
  • घर की मुख्य दरवाजे पर एक आठ कोण का शीशा लगा दे शीशा साफ़ और चमकदार हो साथ ही कही से टूटा हुआ या चटका हुआ ना हो|
  • एक मुठ्ठी काले तिल में 9 साबुत जायफल व 9 गोमती चक्र तीनों को एक काले कपडें में रखकर फिर उसको लाल कलावे से कसकर बाधें और घर के मुख्य दरवाजे पर ऐसे लगाये की किसी की निगाह ना पढ़े उस पर और हर दीवाली पर उसको फैक कर दूसरा नया लगा दे |
  • दक्षिणमुखी मकान के सामने अगर कोई और इमारत उस मकान से दुगुनी ऊँचाई की बनी होती है तो भी दक्षिणमुखी मकान का दोष काफी हद तक समाप्त हो जाता है|
  • दक्षिणमुखी मकान के ठीक सामने अगर गौशाला बनी होती है या कोई गाय को उसके बछरे के साथ लाकर बाध लेता है तथा उसके सेवा करता है तब भी दक्षिण का दोष काफी हद तक कम हो जाता है|
  • घर के इर्शान कोण में फूलों वाले पोधे लगाने से भी दक्षिण दिशा का दोष काफी कम हो जाता है|
  • घर के मुख्य दरवाजे पर अगर रोज शाम को चौमुखी सरसों के तेल का दिया जलाये तो भी दक्षिण दिशा का दोष कम होता है|

ये सब उपाय दक्षिणमुखी मकान के दोष कम कर सकते पर ख़त्म नहीं इस लिए वास्तु के अनुसार ही घर बनाये अगर पहले से बना है तो उसमें सुधार जरुर करे सुधार नहीं कर पाए तो उपरोक्त उपाय करे और खुद को सुरक्षित करे|

यह भी पढ़ें – चकला और बेलन प्रयोग करने के भी होते हैं [नियम]