Posted inआध्यात्म

पीड़ा भी शुभ प्रारंभ हो सकती है

ओशा : पश्चिम में एक नया आंदोलन चलता है, इकोलॉजी की प्रकृति को नष्ट मत करो, अब और नष्ट मत करो। हालांकि हमने कोशिश की थी हल करने की। हमने डीडीटी छिड़का, मच्छर मर जाएं। मच्छर ही नहीं मरते, मच्छरों के हटते ही वह जो जीवन की श्रृंखला है उसमें कुछ टूट जाता है। मच्छर […]