googlenews
प्रेगनेंसी

लिस्टीरियोसिस

‘‘मेरी एक सहेली को गर्भावस्था के दौरान कुछ खास तरह के डेयरी उत्पादों से दूर रहने को कहा गया है क्योंकि वे बीमार कर सकते हैं, क्या यह सच है?”

पाश्चराइज़ न किया गया दूध व उससे बना चीज़, गर्भावस्था के दौरान आपको बीमार कर सकता है। अधपका भोजन, मांस व हॉटडॉग आदि में ‘लिस्टीरिया’ पाया जाता है। कमरोग प्रतिरोध क्षमता वाले किशोर व गर्भवती महिलाएँ लिस्टीरियोसिस के शिकार जल्दी हो जाती हैं। इनके कीटाणु रक्त प्रवाह में घुलकर शिशु तक पहुँचने में देर नहीं लगाते। इसे पहचानना कठिन होता है। संक्रमित भोजन के 12 से 30 घंटों के दौरान कभी भी इसके लक्षण उभर सकते हैं (पेट दर्द, बुखार, ऐंठन,मांसपेशियों में दर्द, जी मिचलाना व डायरिया) कई बार इन लक्षणों को सही तरीके से समझने में भी देर हो जाती है। एंटीबायोटिक की मदद से इनका इलाज हो सकता है।

बेहतर होगा कि आप इस तरह के खाने से दूर रहें ताकि संक्रमण ही न हो। इलाज से परहेज बेहतर होता है। हालांकि इससे पहले आप इस तरह का भोजन ले चुकी हैं तो अब उसके बारे में सोचकर चिंता मोल न लें।

 

ये भी पढ़े-

 

गर्भावस्था में यदि हो जाए सर्दी, खांसी या जुकाम

प्रेगनेंसी में इन वजहों से हो सकता है पेट गड़बड़

क्या करें अगर हो जाए प्रेगनेंसी में यीस्ट इंफेक्शन