googlenews
Benefits of Jamun: स्वास्थ्य, सेहत और सुंदरता का खजाना है- जामुन
Benefits of Java Plum for Health

Benefits of Jamun: जामुन के बहुत-से फायदों से लोग अनभिज्ञ हैं। बारिश के मौसम में मिलने वाले जामुन स्वाद के साथ सेहत से भी भरपूर हैं। आहार और पोषण विशेषज्ञ कविता देवगन बता रही हैं इसके फायदों के बारे में।

बैरीज के बारे में तो हम सभी जानते हैं कि यह सेहत का खजाना है। जामुन भी उन्हीं में से एक है। इसे जावा या ब्लैक प्लम भी कहा जाता है। यदि सबसे प्रमुख फायदे की बात करें तो जामुन हाइपोग्लाइसेमिक है। इस कारण से इसे खाने से ब्लड शुगर को स्थिर रखने में मदद मिलती है। ऐसे में इसे मधुमेह निवारक भोजन कहा जाए तो गलत नहीं होगा। इतना ही नहीं यह खाने के बीच के अंतराल में लगने वाली छोटी भूख के लिए भी एक सेहत से भरा पौष्टिक स्नैक है। यह शरीर को आवश्यक पोषण देते हुए ब्लड शुगर के स्तर को बनाए रखता है। मूल रूप से यह आपकी खराब जीवनशैली, व्यायाम की कमी और शर्करा से भरपूर खाद्य पदार्थों के अधिक सेवन से निपटने के लिए एक साथी की भांति है।

कैलोरी में कम

वे लोग जो कैलोरी को लेकर बड़े सजग रहते हैं वे बिना किसी चिंता के इसे खा सकते हैं। यह कैलोरी में कम है। 100 ग्राम जामुन सिर्फ 62 कैलोरी देता है।

पोषक तत्वों का है खजाना

जामुन पोषक तत्वों से भरपूर होता है। यह कैल्शियम, आयरन, मैग्नीशियम, फॉस्फोरस, सोडियम, विटामिन सी, और मुश्किल से मिलने वाले विटामिन बी थायमिन, राइबोफ्लेविन, फोलिक एसिड, नियासिन, विटामिन बी-6 प्रदान करता है। इसमें आयरन भी भरपूर है। ऐसे में वे लोग जिनमें खून की कमी है उन्हें इसका सेवन अवश्य करना चाहिए। यह एंटी एजिंग भी है यानी कि आपकी उम्र के बढ़ने के प्रभाव को रोकने में सहायक है। हमारी प्रतिरक्षा को पंप करता है, ताकि रोगों से लड़ने की ताकत हमारे शरीर में बने और बढ़े। कैल्शियम, आयरन, पोटैशियम और विटामिन सी की मौजूदगी इसे हड्डियों के लिए सुरक्षा और ऑस्टियोपोरोसिस से रोकथाम का आहार भी बनाती है।

पेट का है दोस्त

यह आपके पेट का दोस्त है और पाचन में सहायता करता है। यह इसके दर्द को दूर करने के लिए जाना जाता है, यह गैस की समस्या का दूर करने में भी सहायक है। इससे पेट फूलने की समस्या भी दूर होती है। इससे पेशाब भी खुलकर आता है। यह खाने के बाद की जलन की समस्या को कम करने में मदद करता है।
यह चयापचय संबंधी विकार (मैटाबॉलिक डिसऑर्डर) जैसे- हृदय रोग, मधुमेह, गठिया को दूर रखने में मददगार है।

दिल पर है नजर

जामुन में पोटैशियम काफी मात्रा में मौजूद होता है। पोटैशियम हृदय की रक्षा करता है, जो हमारे शरीर में रक्तचाप और कोलेस्ट्रॉल को कम रखता है। यह कैंसर की रोकथाम में मददगार है।

जिगर का जिगरी

Benefits of Jamun
Helps prevent and even treat liver diseases such as necrosis and fibrosis

इसके अलावा जामुन जिगर की सुरक्षा करता है। नेक्रोसिस और फाइब्रोसिस जैसे लीवर रोगों को रोकने और यहां तक कि इलाज करने में मदद करता है। यह लिपिड संचय को रोकने के लिए आवश्यक है, जिससे फैटी लीवर, मोटापा, एथेरोस्क्लेरोसिस और कई दूसरी स्वास्थ्य समस्याएं हो सकती हैं।
इतने सारे फायदों को जानने के बाद हम कह सकते हैं जामुन अपने आप में एक संपूर्ण फल है। यह हमारी टेस्टबड्स को तो सुकून देता ही है। वहीं सेहत के मामले में यह देसी बैरी के कम नहीं है। अगर चटपटे के शौकीन हैं तो इसे धोकर फ्रिज में ठंडा करें और नमक और लाल मिर्च बुरक कर खाएं। ब्लड प्रेशर की शिकायत है तो आप सेंधा नमक डाल सकते हैं। इसे खाने से पाचन क्रिया दुरुस्त रहती है वहीं चेहरे की कांति भी इससे बनी रहती है। इसे खाने से न केवल शुगर कंट्रोल रहती है बल्कि डायबटीज की रोकथाम में भी सहायक है।

स्वादिष्ट जामुन चाट

जामुन के इतने फायदे आपने जान ही लिए हैं। ऐसे में जामुन की एक नई रेसिपी ट्राई करें।
8 टीस्पून इमली के रस में 4 टीस्पून पाम शुगर में सोया सॉस डालकर पकाएं। इसे तब तक चलाते रहें जब तक यह सॉस में न बदल जाए। स्वादानुसार नमक डालें। एक बाउल लें इसमें 200 ग्राम बीज रहित जामुन के स्लाइस, कुछ लहसुन के टुकड़े, कटी हुई मिर्च, 100 ग्राम कुटी मूंगफली, 1 टीस्पून नींबू का रस और जरा-सा चाट मसाला छिड़कें। इस पर तैयार की हुई इमली की चटनी डालें। इसे ठंडा कर सर्व करें।

Leave a comment