googlenews
Negative Spouse
Tips to Deal with Negative Spouse

हर समय पति नकारात्मक बातें करता है, या नकारात्मक सोच रखता है, तो क्या करें

निगेटिव पति को मैनेज करना इतना भी मुश्किल नहीं, ये टिप्स काम आएंगे।

Deal With Negative Spouse: किसी के भी जीवन में सकारात्मकता बहुत मायने रखती है। सकारात्मक लोगों के बीच रहकर हम जीवन में वास्तविक खुशी और शांति का अनुभव कर सकते है। सकारात्मकता से भरपूर जीवनसाथी का साथ जीवन के सफर को आसान बना देता है। एक नकारात्मक जीवनसाथी आपकी ऊर्जा खत्म कर सकता है। गुस्सैल जीवनसाथी के नकारात्मक विचारों से आपका मूड भी प्रभावित हो सकता है। पति का नकारात्मक रवैया पत्नी को परेशान कर सकता है और उसके संघर्ष को बढ़ा सकता है। यदि आप भी पति की नकारात्मकता से परेशान हैं, तो जानिए कैसे इससे डील करें…

आपको सबसे पहले जानना होगा कि आखिर पति का रवैया वाकई नकारात्मक है या नहीं। जीवनसाथी का नकारात्मक रवैया और सोच जीवन के स्तर को बिगाड़ता है। पहले ये समझे कि क्या वाकई आपके पति इससे प्रभावित हैं। आइए जानते है नकारात्मक पति किस तरह बरताव करते है।

  • हर चीज में कुछ न कुछ गलत ढूंढ़ना
  • हमेशा छोटी-छोटी बातों की शिकायत करना
  • दुखी महसूस करना या दुखी होने का दिखावा करना
  • आपके सकारात्मक दृष्टिकोण का मजाक बनाना
  • हर चीज में परफेक्ट करने की डिमांड करना
  • ज्यादातर दिमाग को खराब रखना
  • मानसिक स्वास्थ्य समस्याओं से जूझना

इन 5 तरीको से जानें कि नकारात्मक पति के साथ डील कैसे करें


आप अपनी शादी में जितनी ज्यादा पॉजिटिव एक्शन और फीलिंग्स पैदा कर सकते हैं, वो रिश्ता उतना ही हेल्दी होगा। अगर आपको लगता है कि आपका रिश्ता बचाने लायक है, तो यहां दिए गए टिप्स का पालन कर सकते हैं।

पति को पॉजिटिव बनाने की कोशिश बंद करें

किसी रिश्ते की एनर्जी को शिफ्ट करने के लिए काम करते समय सबसे बड़ी गलतियों में से एक यह है कि हम बदलाव की मांग कैसे करते हैं। हम सिर्फ शांति की तलाश नहीं करते हैं। हम चाहते हैं कि दूसरा व्यक्ति पूरी तरह से बदले और सकारात्मकता दिखाए।

लोग बदलना नहीं चाहते जब उन्हें कोई व्यक्ति बार-बार एक ही बात के लिए टोक रहा हो, उन्हें चीजों को खुद देखना होगा। वे महसूस कर सकते हैं कि वे जो हैं, उसके लिए आप उनकी सराहना नहीं करते हैं, जब आप उन्हें यह बताने की कोशिश करते हैं कि उन्हें किस तरह होना चाहिए।
इसकी बजाय अपने आपको रिश्ते में खुद को सबसे पावरफुल एनर्जी के रूप में देखें। अपने साथी से जुड़ें जहां वे आपके स्तर तक बढ़ने की उम्मीद करने के बजाय हैं। सहानुभूति दिखाएं कि वे कैसा महसूस कर रहे हैं और स्थिति को समझे।

अपनी सकारात्मकता को पहचानें और उस पर भरोसा करें

आपकी सकारात्मक ऊर्जा किसी और पर निर्भर नहीं होनी चाहिए। उम्मीदों या अल्टीमेटम के साथ-साथ उनसे डील न करें, आपको खुद को सकारात्मकता के साथ उनके साथ रहना चाहिए। सकारात्मकता वाले पार्टनर के साथ रहने पर पति पर भी कहीं न कहीं असर होगा। आपके पति नोटिस करेंगे कि आपके आस-पास रहना अधिक सुखद है। घर में जब एक व्यक्ति सकारात्मक और एक नकारात्मक है तो दो चीज़ें हो सकती है। या तो सकारात्मक व्यक्ति अपने पावर से नकारात्मक को भी सकारात्मक कर दें।

उन्हें जज करना छोड़ दें कि आप बेहतर जानते हैं


जब हम सोचते हैं कि हम बेहतर जानते हैं और अपने साथी को बदलने की कोशिश करते हैं, तो यह न केवल अक्सर उल्टा पड़ता है, बल्कि यह उनकी ऊर्जा को भी हमारे अंदर लेकर आता है। अगर आप नहीं चाहते कि आपका जीवनसाथी आपकी ऊर्जा को प्रभावित करें, तो ये महत्वपूर्ण है कि उन्हें अपनी पसंद बनाने और अपनी राय रखने की मंजूरी दी जाए।

इसी तरह जज करना हो या चुपचाप किया गया काम हो, ऐसा करने से और ज्यादा आपकी जिंदगी में नकारात्मकता आ सकती है। किसी ऐसे व्यक्ति को समझाने की कोशिश करना छोड़ दें जिसे आप जानते हैं कि उसके लिए सबसे अच्छा क्या है। एक सुखी जीवन जीने के लिए आपकी सकारात्मक ऊर्जा सबसे पावरफुल टूल है, इसलिए इसे बचा कर रखें।

प्रतिक्रिया देने से बचे


क्या आपका पति हमेशा ड्रामा करता है? क्या वे आपका ध्यान आकर्षित करने के लिए आपसे नकारात्मक भावनात्मक प्रतिक्रिया पाने की कोशिश कर रहे हैं? क्या आप अपने पति के बुरे मूड को खुद पर हावी होने देते हैं? यदि आपने “हाँ” का उत्तर दिया है, तो जान लें कि जिस पल आप प्रतिक्रिया करते हैं, आप अपनी शक्ति को छोड़ देते हैं। प्रतिक्रिया देने से उनकी नकारात्मकता और बढ़ जाती है। उनकी नकारात्मकता को मैनेज करने के लिए जरूरी है कि आप रिएक्ट उसी वक्त न करें।

उन्हें भी समय दें कि वे ये सोच सके कि उनकी नकारात्मकता ने आपका दिल दुखाया है। कहीं न कहीं उन्हें इस बात की समझ होगी कि उनकी नेगिटिविटी के कारण उनका परिवार प्रभावित हो रहा है। इस तरह वह खुद भी अपनी इस कमी पर काम करने की कोशिश करेंगे क्योंकि उन्हें खुद एहसास होगा कि उन्होंने दिल दुखाने वाली बात की है लेकिन फिर भी आपका रिएक्शन कुछ नहीं था, तो वह सोचने पर मजबूर होंगे।

कुसूर स्वीकार करना बंद करें


जब नकारात्मकता आपको भी प्रभावित करें तो जितनी जल्दी हो सके दूर करने की पूरी कोशिश करें। लोग हर वक्त हमें उन चीजों के लिए दोषी ठहराते हैं जो हमारे नियंत्रण से बाहर हैं। सिर्फ इसलिए कि कोई आपको दोष देता है, इसका मतलब यह नहीं है कि आपको दोष स्वीकार करना होगा। बेशक, नकारात्मक जीवनसाथी से निपटने का सबसे अच्छा समाधान इसके स्त्रोत पर नकारात्मकता को रोकना है।

नकारात्मक पति को डील करना बहुत मुश्किल नहीं है, बस आपको सही दिशा में एक्शन लेना होगा। इसके लिए आपको खुद को सकारात्मक से नकारात्मक होने से बचाना होगा। रिश्ते में प्यार बनाए रखने के लिए उनकी इस कमी को स्वीकार करते हुए उस पर काम करने के लिए खुद को तैयार करना होगा। इस समस्या से निपटने के लिए आपकी तैयारी बेहद महत्वपूर्ण है।

Leave a comment