googlenews
नवदुर्गा के नाम की महिमा: Navdurga Mantra
Navdurga Mantra

Navdurga Mantra: शारदीय नवरात्र नौ देवियों की पूजा के लिए बेहद खास है। नौ दिनों में जिन अलौकिक शक्तियों का आभास होता है वह अद्भुत है।

  1. नवदुर्गा की प्रथम देवी शैलपुत्री पर्वतराज हिमालय की पुत्री हैं। पार्वती माता का ‘बाल्यरूप शैलपुत्री हैं।
    मंत्र: OM देवी शैलपुत्र्यै नम:
  2. नवरात्र का दूसरा दिन मां ब्रह्मïचारिणी को समर्पित होता है। ये रूप ‘वैराग्य और ‘भक्ति का प्रतिनिधित्व करता है।
    मंत्र: OM देवी ब्रह्मïचारिण्यै नम:
  3. तीसरी देवी चंद्रघंटा ‘शक्ति रूप का प्रतिनिधित्व करती हैं। इनके मस्तक पर घंटे के आकार का आधा चंद्र होता है।
    मंत्र: OM देवी चंद्रघण्टायै नम:
  4. चौथे दिन देवी कुष्मांडा की पूजा होती है। ब्रह्माण्ड को उत्पन्न करने के कारण इन्हें ‘कुष्माण्डा नाम कहा गया है।
    मंत्र: OM ऐं ह्रीं क्लीं कूष्मांडायै नम:
  5. स्कंदमाता पांचवी नवदुर्गा हैं। ये स्कन्द को गोद में पकड़े हुए ‘मातृत्व को दर्शाने वाली देवी हैं।
    मंत्र: देवी स्कन्दमातायै नम:
  6. छठा दिन मां कात्यायनी को समर्पित है। मां कात्यायनी ‘आज्ञा चक्र का प्रतिनिधित्व कर धर्म-अर्थ-काम-मोक्ष की देवी मानी जाती हैं।
    मंत्र: OM देवी कात्यायन्यै नम:
  7. सातवीं देवी मां कालरात्रि हैं, जिन्हें साहस की देवी माना जाता है। इनकी आराधना से बह्माण्ड की समस्त सिद्धियों का द्वार खुल जाता है।
    मंत्र: OM देवी कालरात्र्यै नम:
  8. नवरात्र के आठवें दिन देवी महागौरी की पूजा होती है। देवी महागौरी गौर वर्ण और सौंदर्य की प्रतीक मानी जाती हैं।
    मंत्र: OM देवी महागौर्यै नम:
  9. मां दुर्गा की नौंवी शक्ति देवी सिद्धिदात्री हैं, जिनके नाम से प्रतीत होता है समस्त सिद्धियों को प्रदान करने वाली देवी।
    मंत्र: OM ऐं ह्रीं क्लीं सिद्धिदात्र्यै नम:

Leave a comment