देसी घी (desi ghee)
गर्म दूध में देसी घी मिलाकर पीने से मिलते हैं 5 फायदे

सुपर फूड यानी देसी घी (Desi Ghee) हल्का पीले रंग का चिपचिपा सा मक्खन जैसा दिखने वाला उत्पाद जो हमें गाय के दूध से प्राप्त होता है | जब आप इसके गुणकारी तत्व जान जाएंगी, तो आप आश्चर्यचकित हो जाएंगी।

देसी घी के फायदे जानकर आप हैरान रह जाएंगी। उससे भी ज्यादा आपको यह जानकर हैरानी होगी कि यह देसी घी दूध में मिलाकर पीने से आपको बहुत से भी देता है।

पहले भारत में ही केवल देसी घी का इस्तेमाल किया जाता था | लेकिन वैज्ञानिकों की रिसर्च के बाद दुनिया भर के देशों में देसी घी ने अपनी एक अलग पहचान बनाई है|

इसकी खासियत यह है कि यह हल्का पीले रंग का होता है तथा खुशबू से भरा हुआ होता है साथ ही इसके कई औषधीय गुण भी इसे दूसरे खाद पदार्थों से अलग करते हैं और सुपर फूड की श्रेणी में शामिल करते हैं|

खाने में इस्तेमाल (Desi Ghee In Foods)

भारतीय खाने में देसी घी का इस्तेमाल प्राचीन काल से ही किया जाता रहा है| इसे दाल में खिचड़ी में, दलिया में, हलवे में, आमतौर पर इसका इस्तेमाल रोटियों पर तथा मिठाईयों को बनाने में भी किया जाता है| इसके अलावा इसका इस्तेमाल नवजात शिशुओं के मालिश करने में और गर्भवती स्त्रियों को पोषण देने के लिए भी किया जाता है|

देसी घी एक ऐसा खाद्य पदार्थ है जो कभी खराब नहीं होता है और ऐसा माना जाता है कि यह जितने लंबे समय तक संरक्षित रहेगा इसके औषधीय गुण उतने ही ज्यादा बढ़ते चले जाते हैं|

घी का आयुर्वेद में इस्तेमाल (Desi Ghee In Ayurveda)

सुपरफूड :- गाय का घी

भारतीय परंपरा में गाय के घी का इस्तेमाल बहुत ही आम बात है|  इसका इस्तेमाल दवाइयों को बनाने के साथ साथ पूजा-पाठ में भी किया जाता है| देसी घी एक एंटीऑक्सीडेंट फूड है। इसमें बहुत अधिक मात्रा में औषधीय गुण मौजूद हैं| यह हमारी हड्डियों को मजबूत करता है इसलिए कई लोग गाय के घी को दूध में मिलाकर पीने की सलाह देते हैं |

घी में मौजूद पोषक तत्व (Nutrients In Desi Ghee)

गाय के घी को हम एक संपूर्ण आहार भी कह सकते हैं क्योंकि, इसमें कैल्शियम, प्रोटीन, विटामिन ए विटामिन बी और विटामिन के संतुलित मात्रा में पाया जाता है| 

आमतौर पर जिन लोगों को संक्रमण की बीमारी होती है। या वह बहुत जल्दी किसी भी खाद्य पदार्थ से असहज हो जाते हैं। उन्हें देसी घी का इस्तेमाल अपने खाने में करना चाहिए| इसके अलावा गाय का घी आपके शरीर से विषैले तत्वों को बाहर करता है। इसकी खासियत यह है कि आप इसे कच्चा भी खा सकते हैं, क्योंकि प्राकृतिक तापमान बहुत अधिक उच्च स्तर का होता है। 

भारत में आमतौर पर देसी घी घर में ही बना लिया जाता है। इसके अलावा बहुत सारी कंपनियां बाजार में उपलब्ध हैं जो गाय के घी को अपनी कंपनी के नाम पर देती हैं। मुख्य तौर पर यह घर्षण की एक विधि है, जिसमें गाय के दूध से दही जमा कर और फिर उसको मिक्सी या मथनी से फेंट कर निकाला जाता है।

उपयोग (Uses Of Desi Ghee)

घी का इस्तेमाल नवजात शिशुओं के लिए, गर्भवती स्त्रियों, पुरुष सभी कर सकते हैं| सभी के विकास देसी घी से अति उत्तम माना जाता है| बढ़ते हुए बच्चों की मालिश करने में, सर्दी जुकाम में, कामकाजी महिलाओं और आदमियो क्विक एनर्जी देने के लिए देसी घी का इस्तेमाल किया जा सकता है| इसके कोई लगभग साइड इफेक्ट भी नहीं होते हैं|

हम सब ने देसी घी के बहुत से फायदे सुने होंगे। लेकिन घी को दूध के साथ लेने के फायदे के बारे में बहुत कम जानते होंगे। आयुर्वेद में भी गर्म दूध और घी के फायदे बताए गए हैं। आपको सुनकर अजीब लगा होगा । क्योंकि आपने देसी घी का सेवन अक्सर दाल रोटी या चावल के साथ ही किया होगा। लेकिन गर्म दूध के साथ घी का सेवन आपको चौका रहा होगा।

पाचन शक्ति में होता है सुधार (Desi Ghee Improves Digestion)

पाचन शक्ति में होता है सुधार

गर्म दूध के साथ घी पीने से आपकी पाचन शक्ति बढ़ती है। यही नहीं यह शरीर में सीक्रेट होने वाले डाइजेस्टिव एंजाइम्स को भी बॉडी के अंदर स्ट्रांग बनाती है। एंजाइम का कार्य हमारे शरीर में कांपलेक्स फूड यानी कि जटिल खाद्य को तोड़कर सरल यानी कि सिंपल फूड में बदलना है। जिसकी वजह से हमारा डाइजेशन तेज और सुचारू होता है। घी और दूध का मिक्सचर आपके शरीर में किसी भी प्रकार के कब्ज को होने से बचाता है।

मेटाबॉलिज्म को तेज करता है (Consuming Milk With Desi Ghee Boost Metabolism)

जब आप गर्म दूध में घी को मिलाकर पीते हैं तो यह आपके शरीर में डिटॉक्सिफाइंग एजेंट के जैसे कार्य करता है। साथ ही आपके शरीर से हानिकारक विषाक्त पदार्थों को दूर करता है। साथ ही यह मिक्सचर आपको एनर्जी व ताकत देता है। जिससे आप का मेटाबॉलिज्म बढ़ता है।

शरीर में डिटॉक्सिफाइंग एजेंट के जैसे कार्य करता है।

जोड़ों का दर्द कम होता है (Desi Ghee Reduces Joints Pain)

जोड़ों का दर्द कम होता है

घी को आज से नहीं बल्कि सदियों से एक लुब्रिकेंट भी माना जाता है। जो कि आपके शरीर में हड्डियों की सूजन को कम करने का काम करता है। जब दूध के साथ घी का सेवन किया जाता है, तो हड्डियां मजबूत होती हैं। घी की वजह से उन पर सकारात्मक प्रभाव पड़ता है। आपको बस चाहिए एक गिलास गर्म दूध और एक छोटा चम्मच देसी घी। दोनों को मिलाकर पिएं।

आपके शरीर के स्टैमिना को बढ़ाता है (Milk With Desi Ghee Developes Stamina)

आपके शरीर के स्टैमिना को बढ़ाता है

घी के साथ दूध का सेवन करने से आपके शरीर की शक्ति बढ़ती है। आपके ओवरऑल स्टेमिना में सुधार होता है। शरीर सुचारू रूप से अपना कार्य कर पाता है। क्योंकि उसको सही तरह से उर्जा और शक्ति मिल रही होती है। यदि आप शारीरिक वर्क ज्यादा करते हैं तो आपको दूध और घी का सेवन जरूर करना चाहिए।

नींद ना आने की समस्या को करता है दूर (Desi Ghee Helps And Cures Sleep)

नींद ना आने की समस्या को करता है दूर

हमारी बदलती जीवनशैली और व्यस्तता के कारण हम अक्सर तनाव में रहते हैं। एक गिलास गर्म दूध, एक चम्मच घी के साथ पीने से आपकी मानसिक उर्जा में वृद्धि होती है। आप मानसिक तौर पर स्ट्रांग बनते हैं। आपको अच्छी नींद आती है। स्वस्थ शरीर के लिए एक हेल्थी नींद भी उतनी ही जरूरी है जितनी की एक अच्छी डाइट।

इसके अलावा यदि आपको जल्दी थकान या कमजोरी महसूस होती है।आप अपने आप को अंदर से असहज महसूस करते हैं तो आपको गाय के घी का सेवन करना चाहिए|अपने रोज के खाने में इसका इस्तेमाल करना चाहिए| लगभग एक  दिन में आपको दो चम्मच देसी घी खाना चाहिए| जिससे कि आप की हड्डियां मजबूत होंगी, आप का रक्तचाप सही होगा| यह आपकी आंखों की रोशनी के लिए भी बहुत अच्छा है |

Leave a comment