वजन घटाने से लेकर थायरॉइड राहत तक, जप के इन स्वास्थ्य लाभों के बारे में शायद आप नहीं जानते होंगे!

ॐ को हिंदू धर्म में एक सबसे बड़ा और शक्तिशाली मंत्र माना जाता है और आम तौर पर इसे काफी लंबे समय तक बोलने की एक्सरसाइज भी की जाती है। इसका उच्चारण करने से आपको काफी सारे लाभ मिल सकते हैं जिनके बारे में शायद आपने कभी सोचा भी नहीं होगा। तो आज हम कुछ ऐसे ही स्वास्थ्य लाभों के बारे में जानेंगे जो केवल ॐ के उच्चारण करने से आपको मिल सकते हैं।। जी हां उच्चारण करने मात्र से आपका थायरॉयड और वजन कम हो सकता है। हो सकता है आप इससे चौंक गए हों लेकिन ऐसे ही कुछ और लाभों के बारे में भी हम आपको बताने वाले हैं। ओम तीन अक्षरों से बना है, पहला ए, जिसका अर्थ है जन्म लेना, दूसरा यू, जिसका अर्थ है विकास और तीसरा हाम, जिसका अर्थ है मौन का अर्थ है ब्रह्म में विलय। ओम को अस्तित्व की आवाज कहा जाता है और इसके कई स्वास्थ्य लाभ भी हैं, आइए जानें ओम के उच्चारण से होने वाले स्वास्थ्य लाभों के बारे में…शरीर से टॉक्सिन्स दूर हो जाते हैं।

  • वोकल कॉर्ड और गले की मांसपेशियां मजबूत होती हैं। खासकर बढ़ती उम्र में यह और भी ज्यादा फायदेमंद होता है।
  • ओम ॐ के नियमित जप से उत्पन्न स्पंदन भी स्वर रज्जु और साइनस को प्रभावित करते हैं।
  • यह रक्तचाप को नियंत्रित करता है।
  • पाचन में सुधार करता है।
  • थकान दूर करने का सबसे अच्छा उपाय है कि कुछ देर ॐ का जाप किया जाए।
  • कुछ लोगों के व्यक्तिगत अनुभव यह भी कहते हैं कि ओम का जाप करने से भी उनके वजन को नियंत्रित करने में मदद मिलती है, क्योंकि इसके कंपन पूरे शरीर को प्रभावित करते हैं और बढ़ते वजन को कम करते हैं।
  • थायराइड नियंत्रित रहता है।
  • यह पाचन में सुधार करता है
  • थकान दूर कर ऊर्जा देता है, विशेष प्रकार के प्राणायाम से इसका जाप करने से फेफड़े मजबूत होते हैं, अच्छी नींद आती है,
  • हड्डियां मजबूत होती हैं, क्योंकि इसकी आवृत्ति से शरीर में एक विशेष प्रकार का कंपन पैदा होता है। इसके अलावा यह मानसिक शांति प्रदान करता है,
  • यही कारण है कि मंत्रों में ॐ का इतना महत्व है।
  • कई प्रकार के नैदानिक ​​शोध यह भी बताते हैं कि ओम के जाप से मस्तिष्क और शरीर में जो कंपन होते हैं, उनका बहुत सकारात्मक प्रभाव पड़ता है।

आइए जानते हैं और विस्तार से

वजन कम करने में सहायक: अगर आप ॐ का नियमित रूप से उच्चारण करते हैं तो इससे आपकी पेट की मसल्स रिलैक्स होती हैं। इससे आपका पाचन तंत्र सुचारू रूप से काम करता है और आपका मेटाबिलिक रेट भी बढ़ता है और यह बात तो आपको पता ही होगा कि वजन कम करने के लिए पहला स्टेप होता है कि आपका पाचन तंत्र अच्छे से काम कर सके। ॐ के उच्चारण से आपका वजन कम होने में मदद मिलती है। इससे आपको पेट दर्द आदि में। भी राहत मिलती है।

आपके मन को शांत करता है: अगर आप अपने दिमाग में। केवल पॉजिटिव चीजों को भरना चाहते हैं तो ऐसा मेनिफेस्ट करने के लिए ॐ का उच्चारण काफी ज्यादा लाभदायक होता है। इसके द्वारा आपके शरीर और दिमाग तक एक पॉजिटिव एनर्जी पहुंचती है जिससे आपका मन काफी शांत और स्टेबल रहता है। अगर आप को गुस्सा बहुत अधिक आता है तो आप केवल ॐ के उच्चारण करने से उसे नियंत्रित कर सकते है।

स्ट्रेस और एंजाइटी कम करने में लाभदायक: ॐ का उच्चारण करने से आपका मन काफी शांत रहता है जिस कारण आपको स्ट्रेस से भी बहुत राहत मिलती है। अगर आपका दिमाग एक जगह स्थिर रहता है और आपको अधिक गुस्सा भी नहीं आता है तो आपको किसी बात की चिंता भी नहीं होगी। अगर आप चाहें तो मेडिटेशन करने के दौरान भी केवल ॐ के उच्चारण का प्रयोग कर सकते हैं।

थायरॉयड में लाभदायक: यह माना जाता है कि ॐ के उच्चारण करने से आपका शरीर बीमारियों से काफी दूर रहता है और इससे एक पॉजिटिव एनर्जी आपके अंदर प्रवाहित होती है।। अगर आप थायरॉयड की समस्या से परेशान हैं तो भी आपको ॐ का उच्चारण करने का प्रयास करना चाहिए।

आपके शरीर को डिटॉक्स करने में सहायक:जैसे ही आप ॐ का उच्चारण करते हैं तो आपके पूरे शरीर में एक एनर्जी उत्पन्न होती है जो आपकी सारी सेल्स को जगा देती है। इससे आपका ब्लड फ्लो भी काफी अच्छे से प्रवाहित होता है और आपके शरीर में ऑक्सीजन भी काफी बढ़िया ढंग से विस्तृत होगी। अगर आप डीप ब्रेथिंग ट्राई करेंगे तो इससे आपके शरीर से सारे टॉक्सिंस निकलने में मदद मिलती है जिससे आपका शरीर काफी डिटॉक्स रहता है।

बढ़िया नींद आने में मदद करता है: स्ट्रेस, ओवर थिंकिंग और डिप्रेशन आदि के कारण आपका शरीर काफी डिस्टर्ब हो जाता है और आपको रात में भी यही सारी बातें याद आती रहती है जिस कारण आपको अच्छी नींद भी नहीं आ पाती है। ॐ का उच्चारण आपको सभी प्रकार की चिंता और बुरे विचारों से दूर रखता है जिस कारण आपको रात में काफी अच्छी और पर्याप्त नींद आ सकती है।

अगर आप अपने दिमाग से नेगेटिविटी को दूर रखना चाहते हैं और अपनी मानसिक और शारीरिक सेहत को बेहतर बनाना चाहते हैं तो आप को आज से ही कुछ देर के लिए ॐ का उच्चारण करने की प्रैक्टिस शुरू कर देनी चाहिए। इससे आपको सही में। बहुत लाभ मिलते हैं और अगर आप मेंटली स्थिर नहीं हैं तो यह आपके लिए और अधिक बेहतर रहने वाला है। शुरुआत में आप दो मिनट से शुरू कर सकते हैं और बाद में 10 मिनट तक जा सकते है।

यह भी पढ़ें-फोलिक एसिड को इन 5 तरह से डाइट में करें शामिल

स्वास्थ्य संबंधी यह लेख आपको कैसा लगा? अपनी प्रतिक्रियाएं जरूर भेजें। प्रतिक्रियाओं के साथ ही स्वास्थ्य से जुड़े सुझाव व लेख भी हमें ई-मेल करें- editor@grehlakshmi.com