Posted inकथा-कहानी

घमंडी गादड़-21 श्रेष्ठ लोक कथाएं हरियाणा

एक गादड़ था। वो अपणा चौंतरा [चबूतरा] बनाकर, लीप-पोतकर, साफ-सुथरा राख्या करता। वो इस साफ-सफाई पर घमण्ड करता था व अन्य जानवरों पर अपने चबूतरे की शान-शौकत का रौब मारता था। चबूतरे पर इस तरह अकड़ कर बैठता जैसे राजा के सिंहासन पर बैठा हो और उसकी मंशा यह रहती कि जंगल के जानवर उसका […]