googlenews
वो 10 बातें जो पुरुष ढूंढते हैं अपनी पार्टनर में: Relationship Goals
वो 10 बातें जो पुरुष ढूंढते हैं अपनी पार्टनर में: Relationship Goals

Relationship Goals: अपने परफेक्ट पार्टनर से मिलना ना सिर्फ लड़कियों का बल्कि लड़कों का भी सपना होता है। यह भी एक वजह है रिश्ते टूटने का, क्योंकि पुरुष और महिला अपने पार्टनर में जिस चीज को ढूंढते हैं, वो उन्हें नहीं मिलती है। हालांकि, अब समय के साथ महिलाएं अपनी भावनाओं, एहसास, जरूरतों और गुणों को लेकर मुखर हो गई हैं। उनकी इसी मुखरता में शामिल है वे बातें जो वे अपने पुरुष पार्टनर में ढूंढती हैं। लेकिन आज तक सच कहा जाए तो यह समझ ही नहीं आया है कि पुरुष अपनी पार्टनर में क्या ढूंढते हैं – खूबसूरती, दिमाग या पर्सनलिटी? या कुछ और? आज इस आर्टिकल में जानते हैं वे 10 बातें जो पुरुष ढूंढते हैं अपनी पार्टनर में। 

1. बेस्ट फ्रेंड की तलाश 

Relationship Goals
Looking for Best Friend

यह सबसे पहला गुण है, जो एक पुरुष अपनी पार्टनर में चाहता है। भले ही लोग इस बात को मानें या ना मानें, दोस्ती कपल्स के बीच रिश्ते को मजबूत करने में अहम भूमिका निभाती है। एक दूसरे के जोक्स पर हंसना, मस्ती करते हुए काम करना और इसके साथ ही इंटिमेट पल बिताना अधिकतर पुरुष की चाहत होती है, जो वह अपनी पार्टनर में देखना चाहता है।  

2. परिवार का साथ 

हर पुरुष की ख्वाहिश होती है कि उसे एक ऐसी पत्नी मिले, जो अपने परिवार के साथ उसके परिवार को भी मान दे। हर रिश्ते में सम्मान बहुत जरूरी है यही कारण है कि हर पुरुष चाहता है कि उसकी पत्नी उसके परिवार का सम्मान करे।

3. एक दूसरे की इज्जत 

Relationship Goals
Respect Each Other

किसी भी स्वस्थ रिश्ते का एक अहम पहलू होता है, एक दूसरे को इज्जत देना। यह एक दूसरे की बाउंड्री, काम या पर्सनल स्पेस को एकसेप्ट करके किया जा सकता है। यदि आप अपने पार्टनर की इज्जत नहीं कर रहे हैं, तो वह दिल से आपको नहीं अपनाएगा। यह बात आपके साथ भी लागू होती है। इसलिए यदि आपको उसकी कोई बात अच्छी नहीं भी लग रही है, तो उसके साथ इज्जत से पेश आएं और सम्मानजनक अपनी बात कहें। आपका यह बर्ताव उसके दिल को पिघला देगा और वह आपकी इज्जत ज्यादा करने लगेगा। 

4. आपसी भरोसा 

किसी भी रिश्ते का एक अहम और जरूरी स्टेज होता है एक दूसरे पर भरोसा करना। इसके लिए एक पुरुष को जितनी मेहनत करनी पड़ती है, उतनी मेहनत ही एक महिला को भी करनी पड़ती है। इसके लिए भले ही आपको लगातार कोशिश करनी पड़े, लेकिन यह बहुत जरूरी है। एक बार आपके पार्टनर ने आप पर भरोसा करना सीख लिया, तो समझिए कि आप एक दूसरे के करीब आ गए हैं। यह एहसास कि मेरी लाइफ चाहे जैसी भी हो जाए, यह लड़की हमेशा मेरा साथ देगी, अलग ही एहसास है। 

5. बराबर की कोशिश 

यह कहना बेकार और बेवजह है कि मैं क्यों उसके लिए चाय बनाऊं या क्यों उसके कपड़े प्रेस करूं। किसी भी रिश्ते की नींव के तौर पर यह बात सबसे ज्यादा काम करती है कि दोनों पार्टनर बराबर की कोशिश करें। रोजाना की लाइफ में की जाने वाली छोटी-छोटी कोशिशें लंबे समय में काम आती हैं। जैसे यदि वह थक कर आए तो आप चाय बना दें। आपके तय करने के लिए बहुत सारे कपड़े हैं, तो वह भी साथ में मदद करें। 

6. सहानुभूति और समझ 

Relationship Goals
Along with support, empathy and understanding is also important.

सपोर्ट के साथ सहानुभूति और समझ भी जरूरी है। ये सब मिलकर ही एक खुशहाल और सफल रिश्ते की नींव बनते हैं। पुरुष हो या महिला, कोई भी यह नहीं चाहता कि उसे ऐसे व्यक्ति का साथ मिले जो हर छोटी छोटी बात पर शिकायत करता रहे। पुरुष भी ऐसी ही पार्टनर चाहते हैं, जो उनके चैलेंज को समझे और समय पड़ने पर उनका साथ दे। इसलिए जब पुरुष को कंधे की जरूरत पड़े तो उन्हें प्रोत्साहित करना और मोटिवेट करना बहुत जरूरी है। 

7. बिना जज किए उनको सुनना  

किसी भी रिश्ते का सबसे पहला नियम है ध्यान से सामने वाले को सुनना कि आपका पार्टनर आपसे क्या कहना चाह रहा है। जब वह खुद को एक्सप्रेस करना बंद कर दे, तभी अपनी बात बोलना या अपनी राय देना चाहिए। इसमें कोई अगर मगर यदि लेकिन नहीं आना चाहिए। और सामने वाले को जज तो बिल्कुल भी नहीं करना चाहिए। 

8. लगाव और दुलार 

Relationship Goals
Affection and caress

कपल्स अक्सर रिश्ते में लगाव और दुलार को भूल जाते हैं, जो कि एक रिश्ते के लिए बेहद जरूरी है। हाथ पकड़ना, गले लगाना या शारीरिक तौर पर अपने पार्टनर के करीब रहना बहुत जरूरी है। इससे न सिर्फ कनेक्शन बनने में मदद मिलती है बल्कि इससे प्यार वाली फीलिंग में भी इजाफा होता है। 

9. एक जैसे मूल्य और सोच 

यह सच है कि कपल्स में से दोनों लोगों की संस्कृति, विश्वास, पसंद और नापसंद सब अलग-अलग होते हैं। ये सब मिलकर जीवन के प्रति मूल्यों का निर्माण करते हैं। ऐसे में यदि बातचीत की जाए और एक दूसरे को समझने के बाद कदम आगे बढ़ाएं जाए तो इससे रिश्ता मजबूत बनता है। यही चाहत हर पुरुष की भी होती है, उसे एक ऐसी पार्टनर मिले जो यह समझे कि वह कहां से है और उसे समझे। 

10. मददगार 

आज की दुनिया में, एक रिश्ता तभी आगे बढ़ता है और मजबूत बनता है जब एक दूसरे के सपने, लक्ष्य और जरूरतों के अलग अलग होने के बावजूद एक दूसरे की मदद के लिए कदम आगे बढ़ाए जाएं। सपोर्ट भी एक ऐसा महत्वपूर्ण गुण है, जो हर पुरुष अपनी पार्टनर में खोजता है। जब आपका पार्टनर यह देखेगा कि आप उसे सपोर्ट कर रही हैं, तो उसे आगे बढ़ने और किसी भी लड़ाई को लड़ने और जीतने का साहस मिलता है। 

Leave a comment