रिश्ते किसी खास उम्र यां फिर खूबसूरती के मोहजात नहीं होते हैं। रिश्ते कोई खास समय देखकर भी नहीं बनाएं जाते हैं। ये तो जहां आपसी तालमेल बैठता है और अपने पन का एहसास होने लगता है ये वहीं बन जाते है। फिर चाहे वो दोस्ती हो यां फिर प्यार का रिश्ता। हमने ऐसे न जाने कितनी ही जोड़ियां देखी है, जो उम्र में तो भले ही एक दूसरे से बड़े है, मगर आपसी प्यार और जुड़ाव आम कपल्स जैसा ही होता है। हांलाकि हमारे समाज में इन रिश्तों को बेमेल कहकर कई बार नकार दिया जाता है। लेकिन अगर हम कई जानी मानी हस्तियों पर भी नज़र दौड़ाएं तो न जाने ऐसे कितने ही कपल्स है, जो सालों से एक दूसरे के साथ अच्छा बॉड शेयर कर रहे हैं। दरअसल, उम्रदराज साथी कई अनुभवों के साथ जीवन में एक खास पर तक पहुंचता है। उसे कई मुश्किलों का सामना करना पड़ता है, जिससे वो जीवन जीना सीख जाते है। अगर आप भी जीवन ंमें किसी ऐसे दोराहे पर खेड़े है निर्णय लेने में असमर्थ है और आप ये समझ नहीं पा रहे कि बड़ी उम्र का लाइफ पार्टनर आपके लिए उचित होगा यां नहीं, तो आइए जानते हैं, कि बड़ी उम्र के पार्टनर के साथ जीवन जीने में आपको कौन से फायदे हो सकते हैं। 

गहरा संबध

अगर आपका साथी उम्रदराज़ है, तो वो तुलना यां फिर किसी प्रकार के काम्पीटिशन में विश्वास नहीं रखेगा। उनके पास जीवन के गहरे और अनूठे ऐसे कई अनुभव होते हैं, जो जीवनभर उनके जीवनसाथी के काम आते हैं। चाहे वर्क फ्रंट का बात करें यां घर की जिम्मेदारियों की वे एक    दोस्त, शिक्षण और मेंटोर की तरह हर मुश्किल डगर में आपके साथ होंगे और उनका नज़रिया आपकी चुनौतियों को हल करके आपके लिए कई नई उपलब्धियों का मार्ग बन सकते हैं।

इमोशनली और प्रोफेशनली मैच्योर

अगर आप अपने पार्टनर से उम्र में छोटे हैं, तो ये आपके लिए एक फायदे का सौदा है। दरअसल, मैच्योर पार्टनर को ज्यादा समझाने और हर बात के लिए उन्हे मनाने की ज़रूरत नहीं होती है। बल्कि जीवन के मुश्किल फैसलों को जब लेने की बारी आती है, तो वो आपको एक सही राह चुनने में आपके मददगार साबित होंगे। अगर आप कभी जिंदगी से किसी मोड़ पर खुद को हारा हुआ मान रहे हैं, तो वो न सिर्फ आपको इमोश्नल स्पोर्ट देंगे बल्कि आपको उस चेलेंज का सामना करने का रास्ता भी बताएंगे। आपके लिए एक उर्जा शक्ति का काम करने वाले उम्रदराज़ पार्टनर प्रोफेशनल लेवल पर हर वक्त आपके लिए एक अच्छे गुरू के समान खड़े रहेंगे, जहां आप खुद को अकेला नहीं पाएंगे। क्यों उनका अनुभव आपके लिए फायदेमंद साबित होगा। 

सुरक्षा की भावना का एहसास

अगर आप बड़ी उम्र के पुरूष के साथ रिश्ते में बंध चुकी हैं, तो उस रिश्ते में हर पल आप खुद को सुरक्षित महसूस करेंगी। उनका मैच्योर व्यवहार छोटे छोटे मनमुटाव और डिस्प्यूटस पर सिमट कर नहीं रह जाएगा। वे अपने भविष्य को लेकर एक दम स्पष्ट नज़र आएंगे। साथ ही फैमिली बजट को लेकर भी वो काफी सतर्क और उचित तरीके से डिसीज़न लेगें। ऐसे में आपको किसी भी प्रकार से कोई डर और परेशानी नहीं झेलनी पड़ती है। इससे आप दोनों न सिर्फ प्यार बढ़ता है बल्कि रिश्ते में एक सुरक्षा की भावना का भी समावेश होता है, जो रिश्तों को मज़बूत बनाने में कारगर साबित होते हैं।

 

जिम्मेदारियों की जानकारी

अगर आपका पार्टनर उम्र से आपसे ज्यादा है, तो वो भली भातिं पारिवारिक जिम्मेदारियों को समझ सकेगा और जीवन में आने वाले उतार चढ़ाव को अपने अनुभव से सुलझा भी लेगा। एक उम्र के बाद आपके भीतर दिखावा और अधिक खर्चीले होने जैसी आदतों पर लगाम लग जाती है। क्यों की उम्र के कुछ साल बीतने के बाद आपको अपनी जिम्मेदारियों को पूर्ण करने का एहसास होने लगता है। आप समझने लगते है कि आपकी आने वाली पीढ़ी आपकी जिम्मेदारी है और इन बातों से आपका नज़रिया बदलने लगता है।  आपसे उम्र में बड़ा हैए तो इसका एक फायदा यह भी है कि वह अपना करियर सेट होने की वजह से अपनी पारिवारिक जिम्मेदारियों को अच्छी तरह निभाएगा। वह आपके प्रति ज्यादा वफादार रहेगा और ऐसे में रिश्तों में मजबूती बनी रहेगी।

विचारों में अंतर

अगर आप उम्र में अपने पार्टनर से छोटी हैं, तो विचारों में अंतर होना स्वाभाविक है। अगर आप आज के ज़माने की सोच रखती हैं, तो आपके पार्टनर के कई विचार आपसे मेल नहीं खाते होंगे। ऐसे में आपके विचारे आपस में कई बार टकरा सकते हैं मगर कई बार अलग अलग विचार होने से आप एक दूसरे को सही और बुरे का फर्क भी समझा पाते है। कभी वो आपके हिसाब से चलेंगे, तो कभी आप भी उनके विचारों से संतुष्ट नज़र आएंगी।

ब्यूटी को नहीं दी जाती प्राथमिकता

एक उम्र के बाद खूबसूरती से ज्यादा आपकी समझदारी और व्यवहार मायने रखते हैं। अगर आपका रिश्ता खूबूसरती से ही शुरू होता है, तो उसका भविष्य कितना उज्जवल होगा, ये कह पाना मुश्किल है। लेकिन अगर आप अपने साथी में धैर्य, सूझबूझ और समझदारी तलाशते हैं, तो ऐसे रिश्ते अटूट होते हैं। अगर आपका पार्टनर आपसे उम्र में बड़ा है तो वो ब्यूटी से ज्यादा आपकी मैच्योरिटी को सराहेगा। साथ ही हर मुश्किल घड़ी में आपका मार्गदर्शक भी बनेगा।   

फाइनेंस को लेकर ज्यादा समझ

एक उम्र तक धूमना फिरना, पैसे खर्च करना और पार्टीज़ में जाना बेहद अच्छा लगता है। दरअसल, उस वक्त मन में कहीं दूर दूर तक भविष्य की चिंता नहीं होती है। अगर कोई समझान की भी कोशिश करे, तो उसे नकार देते हैं। लेकिन अगर आपका अपना पार्टनर आपको सही दिशा दिखाएगा और सही गलत का फर्क समझाकर आपको इनवेस्टमेंट के बारे में जानकारी देगा, तो आप आसानी से अपनी जमा पूंजी का सदुचयोग कर पाएंगे।