googlenews
तेजी से शरीर की चर्बी को कम करता है लौकी का रस: Benefits of gourd juice
Benefits of gourd juice

Benefits of gourd juice: शरीर में इधर- उधर से बढ़ती हुई चर्बी से हममें से अधिकतर लोग परेशान हैं। लेकिन अब आपको परेशान होने की जरूरत नहीं है, यदि आप सब तरीके अपनाकर हार गए हैं तो अब रोजाना लौकी का जूस पीना शुरू कीजिये, फिर देखिये वजन कैसे कम नहीं होता। वजन कम करने के साथ- साथ यह बहुत से स्वास्थ्य लाभ भी देता है।आइये जानते हैं लौकी का रस मोटापा घटाने में किस तरह से फायदेमंद है –

कैलोरी की कम मात्रा

लौकी में बहुत ही कम मात्रा में कैलोरी पायी जाती है। लो कैलोरी होने के कारण यह शरीर में एक्सट्रा चर्बी नहीं बढ़ाती, बल्कि बेकार की चर्बी को घटाने में मदद करती है। इस कारण इसे लो कैलोरी डाइट में शामिल किया जाता है।

फाइबर से भरपूर

96% पानी से बनी लौकी में फाइबर की मात्रा बहुत अधिक होती है, जो काफी लंबे समय तक पेट को भरा हुआ रखती है। साथ ही बार- बार लगने वाली भूख को कम करती है, जो वजन को कम करने में मदद करता है। लौकी में घुलनशील और अघुलनशील दोनों तरह के फाइबर पाये जाते हैं, जो पाचन तंत्र को सही रखते हैं और उसे मजबूत बनाते हैं। पानी और फाइबर की अधिकता के कारण लौकी के जूस में कैलोरी का घनत्व बहुत कम पाया जाता है, जो वजन कम करने में मदद करता है।

कई पोषक तत्वों की खान

लौकी के रस में प्रोटीन, विटामिन्स और कई सारे पोषक तत्व जैसे- आयरन, पोटेशियम, आदि पाये जाते हैं जो शरीर को पोषण देते हैं। ये शरीर में मांसपेशियों के निर्माण और चर्बी को कम करने में सहायता करते हैं। इसके अलावा लौकी में प्रोटीन की अच्छी मात्रा होने से ये मेटाबोलिज्म को बेहतर करके वजन को कम करने में महत्वपूर्ण रोल अदा करती है। इसके अलावा ये बड़ी आंत में मौजूद अच्छे बैक्टीरिया को मेंटेन रखता है जो वजन को कम करने और सेहत के लिहाज से महत्वपूर्ण भूमिका निभाते हैं।

एंटिओक्सीडेंट्स से भरपूर 

लौकी के जूस में एंटि ओक्सीडेंट्स अधिक मात्रा में पाये जाते हैं जो शरीर से विषाक्त तत्वों को बाहर निकालकर वजन को नियंत्रित रखने में मदद करते हैं।

कैसे तैयार करें जूस

सबसे पहले लौकी को छीलकर अच्छे से धो लें। फिर छोटे- छोटे टुकड़ों में काटकर ब्लैंड कर लें, साथ में पुदीने की पत्तियाँ भी मिला सकते हैं। लौकी को अच्छे से पीस लें, इस जूस को छानें नहीं अन्यथा इसमें फाइबर की मात्रा कम हो जाएगी। स्वाद के लिए आप इसमें भुना जीरा, थोड़ा सा नमक और काली मिर्च मिला सकते हैं।  

कब पीना है फायदेमंद

लौकी का जूस खाली पेट पीना बहुत फायदेमंद होता है। वैसे इसे व्यायाम करने के बाद भी पी सकते हैं। इसे पीने से एक्सर्साइज़ के बाद आई ग्लूकोज की कमी दूर होती है। गर्भवती स्त्री भी इसे पी सकती है, इससे शरीर में पोषक तत्वों की कमी दूर होती है।

कुछ सावधानियाँ भी हैं जरूरी

लौकी का जूस सीमित मात्रा में ही पीना चाहिए। यदि लौकी का जूस कड़वा हो तो इसे नहीं पीना चाहिए। यह उल्टी, नोजिया, दस्त आदि का कारण बन सकता है। गर्भवती महिलाओं को तो कड़वा जूस बिलकुल भी नहीं पीना चाहिए, इससे गर्भपात भी हो सकता है।

 

ये भी पढ़ें –

वेट लॉस के लिए ट्राई करें ये 7 होम रेमेडीज़

जरूर ट्राई करें ये 10 फैट बर्न करने वाले फूड

दही करता है वजन कम करने में मदद, जानें फायदे

आप हमें फेसबुकट्विटरगूगल प्लस और यू ट्यूब चैनल पर भी फॉलो कर सकती हैं।