फिल्म इंडस्ट्री में जीरो फिगर का  कांसेप्ट आपने शुरू किया था जो काफी समय बॉलीवुड पर छाया रहा लेकिन आजकल भरी-पूरी फिगर का कांसेप्ट लोकप्रिय हो रहा है, इस बारे में आपका क्या कहना है?

अपनी कोई फिल्म हिट हो या हमारे किसी रोल को पसंद किया जाए तो अच्छा लगता है। वो समय अलग था और कांसेप्ट  अलग। वह फिगर उस फिल्म टशन की डिमांड थी। आजकल जो एक्ट्रेस आ रही हैं वो अपनी फिल्म की जरूरत के अनुसार रोल कर रही हैं। फिगर चाहे कैसी भी हो, जरूरी है तो सिर्फ स्वस्थ और फिट होना।

 

आपकी दिनचर्या क्या रहती है। सुबह उठकर सबसे पहले क्या सोचती हैं?

मैं सुबह उठकर कुछ खास नहीं सोचती, सिर्फ ऊपर वाले से प्रार्थना करती हूं कि वह हमें खुशी दे। हमारा दिन अच्छा गुजरे। मेरे मन में सकारात्मक विचार आएं और मेरा दिन सकारात्मक गुजरे। सुबह फ्रेश होकर मैं नाश्ता करती हूं। नाश्ते में मैं भारतीय व्यंजन लेना ही पसंद करती हूं। जैसे उपमा, इडली, पोहा इत्यादि। इसके बाद अगर मेरा शूट होता है तो मैं शूट पर चली जाती हूं। अगर शूट नहीं है तो मैं जिम चली जाती हूं। जिम से लौटकर टीवी पर कोई  फिल्म देखती हूँ। मुझे बेहतरीन अंग्रेजी फिल्म देखना बहुत पसंद है। घर पर आराम करती हूं। शूट पर जाती हूं तो डिनर काफी देर से होता है- करीब 11-12 बज जाते हैं। लेकिन जब मैं घर पर होती हूं तो डिनर जल्दी लेती हूं- करीब आठ बजे ही मेरा डिनर खत्म हो जाता है। डिनर के बाद मैं कुछ अच्छी किताबें पढऩा पसंद करती हूं। फिर मैं 11 बजे तक सो जाती हूं। मैं जल्दी सोना चाहती तो हूं लेकिन ऐसा कभी हो नहीं पाता।

 

आपका ब्यूटी सीक्रेट क्या है?

मैं हमेशा कहती हूं कि जब इंसान अंदर से खुश होता है तो वह खुशी उसके चेहरे पर झलकती और झिलमिलाती है। लोग मुझसे पूछते हैं कि मैं अपने चेहरे के लिए क्या करती हूं लेकिन जैसा कि लोग समझते हैं, मैं वैसा बिलकुल नहीं करती हूं। मेरा पहला ब्यूटी सीक्रेट है- विवेल। विवेल ही मेरी त्वचा का खास खयाल रखता है। दूसरा सीक्रेट- मैं सोते वक्त अपने चेहरे पर बादाम का तेल लगाती हूं। तीसरा सीक्रेट मेरे पेरेंट्स है जिन्होंने मुझे खूबसूरती विरासत में दी है। इसके लिए मैं अपने पेरेंट्स को धन्यवाद करना चाहूंगी। मेरी मां और पिता दोनों की त्वचा बहुत अच्छी है।

 

कोई ऐसा सपना या आकांक्षा जो अब तक पूरी नहीं हो पाई हो या पूरी करनी हो?

नहीं, ऐसा कोई भी सपना नहीं है जो अधूरा है। मैं भगवान का शुक्रिया अदा करती हूं कि मैंने अपने जीवन में जो सोचा था या चाहा था वह सब कुछ मुझे मिल गया है। मुझे लगता है कि मुझे बहुत कुछ मिला है और इसीलिए और कुछ  मांगना गलत हो जाएगा।

 

 

 

 

आप सैफ के साथ कितना वक्त बिताती हैं, आपको अपने व्यस्त शेड्यूल में ऐसा नहीं लगता कि आप कुछ मिस कर रही हैं?

नहीं, ऐसा बिलकुल नहीं है। लाइफ बिजी जरूर है। मेरी भी और उनकी भी। लेकिन हम अपने करियर के जिस मुकाम पर हैं, वहां रहते हुए अपनी बिजी लाइफ में से भी हम अपने लिए काफी वक्त निकाल लेते हैं। मैं सैफ के साथ
काफी वक्त बिताती हूं।

 

गृहलक्ष्मी की पाठकों के लिए कोई संदेश?

जैसा कि मैं हमेशा कहती हूं कि हर किसी को हर परिस्थिति में खुश रहने की कोशिश करनी चाहिए। हमारी जिंदगी में खुश रहना ही सबसे जरूरी चीज है। इसलिए कुछ भी हो जाए, हमेशा खुश रहें और सुंदर दिखें।