googlenews
कील-मुंहासे

Mausam : हर मौसम में त्वचा की अपनी जरूरतें होती हैं। यही कारण है कि बदलते मौसम में भी त्वचा को विशेष देखभाल की जरूरत होती है ताकि उसकी चमक ना खोए। मौसम तेजी से बदल रहा है, भयंकर गर्मी और लू के थपेड़ों के बीच अब छिटपुट बरसात भी हो रही है। बीच-बीच में उमस भी बढ़ जाती है। इस बदलते मौसम का असर त्वचा पर भी पडऩे लगता है। इसलिए इस मौसम में हमें अपनी त्वचा की खास देखभाल करने की जरूरत होती है। आइए जानें कैसे-

त्वचा रोगों को हल्के में न लें

  • बदलते मौसम में संक्रमण ज्यादा तेजी से फैलताहै जैसे कि फोड़े फुंसिया, स्कैबीज, मुंहासे आदि। 
  • त्वचा के रोगों से बचने के लिए इस मौसम में साफ-सफाई का ध्यान रखना ही रोगों से बचने का पहला उपाय है।
  • चेहरे को बार-बार साफ पानी से धोते रहें, हो सके तो साबुन के बजाए फेसवॉश का प्रयोग करें।
  • चेहरे की बेजान त्वचा को निखारने के लिए फेशियल, स्किन पॉलिशिंग, स्क्रब आदि नियमित रूप से करवाते रहें।
  • पील्स और लेजर ट्रीटमेंट के लिए बारिश के बाद का मौसम अच्छा रहता है क्योंकि ऐसे ट्रीटमेंट के बाद धूप से त्वचा को बचाना होता है।
  • इस मौसम में रोमछिद्रों की डीप क्लीजिंग करते रहना अच्छा रहता है, इससे रोमछिद्र साफ और धूलमिट्टी रहित रहते हैं। क्लीजिंग ग्रेंस को स्किन टॉनिक के साथ मिलाकर हल्के हाथ से गोलाई में त्वचा की मसाज करें।
  • बारिश में चेहरे को कई बार सादे पानी से धोते रहना चाहिए। इन दिनों त्वचा को स्किन टॉनिक देना बेहद जरूरी है।आप चाहें तो इसे घर पर भी बना सकते हैं या फिर बाजार से बने बनाए ले सकते हैं।
  • उमस के कारण त्वचा पर छोटे-छोटे दाने और मुहांसे निकलना एक आम समस्या है। ऐसे में अपनी त्वचा साफ रखें। रूई में स्किन टॉनिक लेकर त्वचा को साफ करें।
  • अगर आप बाहर जाती हैं या जॉब करती हैं तो इसे अपने साथ रखें और जैसे ही मुंह चिपचिपा लगने लगे तो इसका इस्तेमाल करें।

कैसा हो मेकअप

  • मेकअप करने से पहले पूरे चेहरे पर कुछ देर के लिए आइस क्यूब लगाएं और उसके बाद ही मेकअप करें।
  • बदलते मौसम में पाउडर ब्लशऑन का ही प्रयोग करें क्योंकि मौसम कब धूप से बारिश और उमस में बदल जाए कहा नहीं जा सकता। 
  • वाटरपू्रफ आईलाइनर व मस्कारा प्रयोग करें ताकि चेहरे के गीला होने पर भी यह बहे नहीं
  • इस मौसम में लिक्विड बिंदी की बजाय स्टिकर वाली बिंदी का प्रयोग करें
  • सॉफ्ट मैटी लिपस्टिक इस्तेमाल करें।
  • बदलते मौसम में आईब्रो पर भी ध्यान दें और उन्हें शेप देते रहें।

त्वचा की देखभाल के घरेलू तरीके

  • चेहरे की चमक कम हो जाने पर दही के साथ मक्की का आटा डालकर स्क्रब की तरह इस्तेमाल करें। 1 दिन छोड़कर यह पैक इस्तेमाल करें और इसके बाद बादाम का तेल लगाएं। फेस काला पड़ जाए तो मुल्तानी मिट्टी में थोड़ा सा मिल्क पाउडर और एक चम्मच सिरका मिलाकर पैक बनाकर लगाएं।
  • कभी-कभी नाक पर झाईं हो जाती है इसके लिए जायफल को घिसकर नाक पर लगाएं।
  • गुलाब जल, नींबू, दही और खीरे को मिक्स करके चेहरे पर लगाएं, इससे बदलते मौसम का असर कम होगा और त्वचा में भी चमक आएगी।
  • एक चम्मच मुल्तानी मिट्टी में एक चम्मच शहद, एक चम्मच गुलाब जल व दस बूंद संतरे का रस मिलाकर पेस्ट बनाएं। चेहरे पर लगाकर बीस मिनट बाद धो दें।
  • मसूर की दाल का पाउडर बना कर उसमें अंडे की जर्दी मिलाकर पेस्ट तैयार कर लें। इस पेस्ट को धूप में सुखा कर किसी शीशी में भर लें।
  • प्रतिदिन रात को सोने से पहले इस मिश्रण में 2 बूंदें नींबू का रस व 1 बड़ा चम्मच कच्चा दूध मिला कर चेहरे पर लगाएं। आधे घंटे बाद ठंडे पानी से धो लें। इससे चेहरा गोरा होता है।
  • यदि आपकी त्वचा शुष्क होने लगे तो एक बड़े चम्मच दूध का पाउडर, एक छोटा चम्मच चने का आटा और दो बड़े चम्मच गुलाबजल मिलाकर लेप तैयार कर लें। चेहरे, हाथ-पैर पर यह लेप, मालिश के बाद लगाइए। बीस मिनट बाद गुनगुने पानी से धो डालिए।
  • चेहरे की कांति के लिए दो चम्मच शहद, चार बूंदें नींबू का रस, दो चम्मच दही, एक चम्मच टैल्कम पाउडर को खूब अच्छी तरह फेंट कर बनाए गए पेस्ट को मुंह-हाथ पैरों पर 15-20 मिनट लगाएं गुनगुने पानी से धो दें।
  • संतरे के छिलकों को छाया में सुखाकर पीस लें। यह चूर्ण चम्मच भर लेकर थोड़ी सी हल्दी, बेसन व जैतून का तेल मिला दें। इस मिश्रण से स्नान से पहले उबटन करें। कुछ ही दिनों में त्वचा स्निग्ध व निखरी प्रतीत होने लगेगी।
  • हल्दी को दूध में अच्छी तरह भिगोकर उसमें थोड़ी सी मलाई व चंदन का चूरा मिलाकर उबटन करने से त्वचा कोमल व आभायुक्त बनती है।
  • टमाटर का गूदा, पपीते का गूदा व रस निकालने के बाद इसमें संतरे का गूदा मिलाकर चेहरे पर लगाने से गर्मी व धूप से झुलसी त्वचा को आराम मिलता है तथा गर्मी से पड़े त्वचा पर लाल भूरे तिल भी दूर होते हैं।
  • ककड़ी के रस में कुछ बूंदें नींबू के रस की मिला लें और चेहरे पर लगाएं त्वचा निखर जाती है।

मौसम के हिसाब से लें डाइट

उमस और नमी बढऩे से त्वचा तैलीय और चिपचिपी हो जाती है साथ ही त्वचा पर गंदगी और धूल जमा हो जाती है। इसके लिए अपने रोजमर्रा के खाने में प्रोटीन ज्यादा लेना चाहिए।

हरी सब्जी, दालें, अण्डा, मछली, विटामिन सी की कमी से चेहरे पर दाग धब्बे हो जाते हैं। इसलिए इन चीजों की कमी अपने भोजन में ना होने दें।

पानी अधिक से अधिक पीना चाहिए क्योंकि यह शरीर के विषैले पदार्थो को शरीर से बाहर निकालता है।

मौसम के हिसाब से डाइट लेना जरूरी है जैसे- मौसमी फल और सब्जियां।ब्रोकली में विटामिन ए और विटामिन सी भरपूर मात्रा में होता है यह त्वचा के लचीलेपन को बरकरार रखता है इसलिए इसे भोजन में अवश्य शामिल करें।

टमाटर में लाइकोपीन अधिक मात्रा में होता है, जो चेहरे की झुर्रियों को नियंत्रित करता हैं। इससे त्वचा के काले धब्बे भी कम होते हैं। त्वचा में सनबर्न भी नहीं होता।