कोलेजन एक ठोस, अघुलनशील यानि बिना घुलने वाला और रेशेदार प्रोटीन है। शरीर में जितना प्रोटीन होता है, यह उसका एक.तिहाई हिस्सा होता है। अधिकांश कोलेजन के अणु एक दूसरे के साथ मिलकर लंबे और पतले रेशे बनाते हैं, जिन्हे फाइब्रिल  कहा जाता है। यह फाइब्रिल एक साथ बंधे होते हैं जिससे यह एक दूसरे को मजबूती प्रदान करते हैं। और इन्ही से त्वचा को ताकत और लोच मिलती है। कोलाजन बालों की जड़ों वाली स्किन लेयर को प्रोटेक्ट करता है, इसलिए ये एज रिलेटेड हेयर लॉस और बालों के पतला होने या फिर सफेद होने आदि की समस्या को भी दूर करता है। कोलाजन आपकी त्वचा को जरूरी सपोर्ट देता है और बॉडी की इलास्टिसिटी को बढ़ाता है और टिशू को टाइट करता है।

 

आपको अपनी रोजाना की डाइट जैसे कि ड्रिंक्स, ब्रेकफास्ट आदि में कोलाजन को शामिल करना चाहिए। एक रिसर्च के मुताबिक कोलाजन आपकी इम्यूनिटी को भी बेहतर करता है क्योंकि इसमें एंटीऑक्सीडेंट प्रॉपर्टी होती है। आज के दौर में कई लोग कोलाजन का इस्तेमाल करने लगे हैं। इसके लिए कोलाजन शोट्स बहुत ही मशहूर हो रहे हैं। आपको केवल रोजाना 4 से 7 एमएल लिक्विड कोलाजन पीना होता है, जो मार्केट में अलग.अलग फ्लेवर में मिलता है और ये फिटनेस फ्रीक और ब्यूटी कॉन्शियस लोगों का नया पार्टनर है। एक ओर जहां पहले मार्केट में मिलने वाले कोलाजन पाउडर को आपको किसी ना किसी चीज के साथ मिक्स करना पड़ता था उसकी जगह अब आप रेडी टू ड्रिंक कोलाजन शोट्स का सेवन कर सकते हैं। कोलाजन को पीना बहुत ही आसान है। आप चाहें तो इसे पोस्ट वर्कआउट प्रोटीन के तौर पर भी ले सकते हैं या फिर दिन के किसी भी समय इसका सेवन कर सकते हैं।

 

कोलेजन के भोजन 

आप अपने आहार में कुछ खाद्य पदार्थों को शामिल करके कोलेजन के स्तर को बढ़ा सकते हैं। नीचे जानते हैं कोलेजन को बढ़ाने वाले खाद्य पदार्थ।

 

खटे फल 

विटामिन सी से आपके शरीर को कई तरह से लाभ मिलते हैं। साथ ही यह कोलेजन को बढ़ाने में महत्वपूर्ण भूमिका अदा करता है। फ्री रेडिकल्स को कम करने में मदद करता है। विटामिन सी एक ऐसा एंटीऑक्सीडेंट है जो कोलेजन के संश्लेषण को बढ़ाता है। आपको अपने आहार में विटामिन सी युक्त फलों को भी शामिल करना चाहिए और रोजाना नींबू, संतरा और खट्टे फलों को खाना चाहिए।

 

मछली  

मछली में अधिक मात्रा में ओमेगा 3 फैटी एसिड मौजूद होता है, जो आपकी कोशिकाओं के संचार के लिए जरूरी होता है। स्वस्थ कोशिकाएं आपकी त्वचा की बनावट के लिए बेहद महत्वपूर्ण होती हैं। 

 

हरी सब्जियां  

ब्रोकली और पालक जैसी सब्जियां प्रभावशाली ढंग से कोलेजन के स्तर को बढ़ाती हैं। यह धुएं, धूल, सिगरेट के धुएं और अत्यधिक सूर्य के संपर्क के कारण कोलेजन क्षति को रोकने में भी मदद करती हैं। 

 

लाल रंग की सब्जियां 

रिसर्च से पता चला है कि कुछ लाल रंग की सब्जियों में लाइकोपीन नामक एंटीऑक्सीडेंट होता है, जो कोलेजन को बढ़ाने में मदद करता है। चुकंदर, मिर्च और टमाटर से आप इस एंटीऑक्सीडेंट को प्राप्त कर सकते हैं। लाइकोपीन न सिर्फ कोलेजन को बढ़ाने का काम करता है, बल्कि सूर्य की किरणों से भी त्वचा को सुरक्षा प्रदान करता है।

 

नारंगी रंग की सब्जियां  

शकरकंद और गाजर जैसे नारंगी सब्जियों से आप कोलेजन की आवश्यकता को पूरा कर सकते हैं। इस तरह की सब्जियां में विटामिन ए मौजूद होता है, जो कोशिकाओं के निर्माण और त्वचा को स्वस्थ रखने में प्रमुख भूमिका निभात है। नारंगी फल जैसे आम और खुबानी बीटा कैरोटीन के भी मुख्य स्रोत होते हैं, जो शरीर में पहुंचकर विटामिन ए में परिवर्तित हो जाता है। 

 

बेरीज  

बेरीज छोटे आकार के रस भरे फल, त्वचा को स्वस्थ बनाने वाले फल हैं। काले शहतूत, चेरी, जामुन आदी शरीर में कोलेजन के निर्माण में सहायक होते हैं। यह त्वचा के लिए आवश्यक एंटीऑक्सीडेंट से भरपूर होते हैं। 

 

लहसुन और जैतून 

सदियों से सल्फर का उपयोग त्वचा रोग और बालों में रूसी के लिए किया जाता रहा है। लहसुन के अलावा हरे व काले जैतून में भी सल्फर अधिक मात्रा में मौजूद होता हैए जो जोड़ो और त्वचा में कोलेजन को बढ़ाने में अहम माना जाता है। 

 

अंडे  

शरीर के लिए स्वस्थ प्रोटीन की आवश्यक होती हैं और अंडा इसका मुख्य स्त्रोत माना जाता है। अंडा कोलेजन उत्पादन में आवश्यक लाइसाइन और प्रोलिन नामक अमीनो एसिड की पूर्ति करता है। 

 

अनानस  

अनानास और उसका जूस शरीर में कोलेजन को संश्लेषित करने में मदद करता है। इसको खाने से त्वचा में चमकदार बनती है। 

 

कोलेजन के फायदे स्किन के लिए 

कोलेजन त्वचा को चमकदार और स्वस्थ बनाने के लिए उपयोगी होता है। यह आवश्यक प्रोटीन आपकी त्वचा को लोच प्रदान करता है, जिससे आप युवा और स्वस्थ दिखाई देते हैं। लेकिन जैसे ही आपकी उम्र बढ़ती है कोलेजन का स्तर कम होना शुरू हो जाता है, जिसके चलते आपकी त्वचा में रूखापन, ढीलापन और झुर्रियां आने लगती हैं।

 

कोलेजन के लाभ बालों के लिए 

कोलेजन बालों को बढ़ने और दोबारा आने में काफी मदद करता है। इसमें एंटीऑक्सीडेंट गुण होते हैं, जो शरीर में फ्री रेडिकल्स  शरीर में मौजूद हानिकारक तत्व के उत्पादन को कम करते हैं। शरीर में बनने वाले फ्री रेडिकल्स विभिन्न चयापचय मेटाबॉलिज्म प्रक्रियाओं की वजह से बनते हैं और यह बालों के रोम को नुकसान पहुंचाते हैं। यही बालों के झड़ने का कारण भी बनते हैं। लेकिन बालों में पर्याप्त मात्रा में कोलेजन होने से, बाल के रोम मजबूत होते हैं और इससे बाल बढ़ने में मदद मिलती है। कोलेजन लेने से आपके बाल घने होने के साथ ही मजबूत और स्वस्थ बनते हैं।

 

आपको हमारे ब्यूटी टिप्स कैसे लगे? अपनी प्रतिक्रियाएं हमें जरूर भेजें। ब्यूटी-मेकअप से जुड़े टिप्स भी आप हमें ई-मेल कर सकते हैं- editor@grehlakshmi.com

यह भी पढ़े

क्या आप पेट्रोलियम जेली के इन उपयोगों के बारे में जानते हैं आप