डोलो 650 MG टैबलेट वह दवा है, जिसका इस्तेमाल दर्द में आराम और बुखार को कम करने के लिए किया जाता है। यह सिर दर्द, शरीर में दर्द, दांत में दर्द और सामान्य बुखार को ठीक करने के उपयोग भी आता है। यह सिर दर्द और बुखार का कारण बनने वाले कुछ केमिकल्स के निकलने को रोक कर काम करता है।

डोलो 650 MG को अकेले या फिर किसी अन्य दवा के साथ भी प्रेसक्राइब किया जा सकता है। आपको अपने डॉक्टर द्वारा बताए अनुसार इसे नियमित तौर पर लेना चाहिए। इसे अमूमन भोजन के साथ ही लेना चाहिए वरना यह आपके पेट के लिए सही नहीं साबित हो सकता है। जितनी अवधि के लिए इसके सेवन की सलाह दी गई है, उससे ज्यादा समय के लिए डोलो 650 का सेवन करना सही नहीं है। अगर इस दवा का सेवन सही तरीके से किया जाए तो साइड इफ़ेक्ट्स बहुत कम होते हैं। लेकिन इस दवा के सेवन से पेट दर्द, नॉजिया और उलटी की शिकायत कुछ लोगों को हो सकती है। यदि आपको इस तरह के साइड इफ़ेक्ट्स हो रहे हैं तो आपको अपने डॉक्टर से बात करनी चाहिए।

यह दवा सुरक्षित मानी जाती है लेकिन यह सबके लिए सूटेबल भी नहीं है। इसे लेने से पहले बेहतर होगा कि आप अपने डॉक्टर को बताएं यदि आपको लिवर या किडनी की समस्या है या आप खून को पतला करने वाली दवाएं ले रहे हैं। यह इस दवा के डोज और सूटेबिलिटी को प्रभावित कर सकता है। अपने डॉक्टर को उन सभी दवाओं के बारे में बताएं जो आप ले रहे हैं।

दर्द में डोलो 650 MGटैबलेट के लाभ

डोलो 650 एक पैरासेटामॉल है, जिसका इस्तेमाल दर्द निवारक दवा के तौर पर किया जाता है। यह मस्तिष्क में केमिकल मैसेंजर्स को ब्लॉक करके काम करता है। ये केमिकल मैसेंजर्स ही हमें बताते हैं कि हमें दर्द हो रहा है। सिर दर्द, माइग्रेन, नसों में दर्द, दांत में दर्द, गले में खराश, पीरियड में दर्द, आर्थ्रराइटिस और मांसपेशियों के दर्द में यह प्रभावशाली साबित हुआ है। इस दवा का व्यापक तौर पर इस्तेमाल किया जाता है और इसे डॉक्टर द्वारा बताए अनुसार ही लेना चाहिए। प्रेगनेंसी या ब्रेस्टफीडिंग के समय होने वाले दर्द से भी यह राहत दिलाता है।

बुखार में डोलो 650 MG टैबलेट के लाभ

डोलो 650 टैबलेट का इस्तेमाल बुखार कम करने के लिए भी किया जाता है। यह उन केमिकल मैसेंजर्स को ब्लॉक कर देता है, जो बुखार का कारण बनते हैं। इसे अकेले या किसी अन्य दवा के साथ भी दिया जा सकता है।

डोलो 650 MGटैबलेट के साइड इफ़ेक्ट्स

अधिकतर साइड इफ़ेक्ट्स को किसी मेडिकल अटेन्शन की जरूरत नहीं पड़ती है। जैसे ही आपकी बॉडी दवा के साथ एडजस्ट हो जाती है, ये साइड इफ़ेक्ट्स गायब हो जाते हैं। यदि ये खत्म नहीं होते हैं या आप उन्हें लेकर परेशान हैं तो आपको अपने डॉक्टर से मिलना चाहिए। पेट में दर्द, नॉजिया, उलटी इसके कुछ अन्य साइड इफ़ेक्ट्स हैं।

कैसे इस्तेमाल में लाएं डोलो 650 MGटैबलेट

आपको डोलो 650 टैबलेट का इस्तेमाल वैसे ही करना चाहिए, जैसा आपके डॉक्टर आपको सलाह दें। इसे पूरा निगल जाना हैं चबाना नहीं है। आप इसे अपने भोजन के साथ भी ले सकते हैं।

डोलो 650 MGकी सेफ्टी सलाह

अल्कोहल के साथ डोलो 650 टैबलेट का सेवन करना सही नहीं है।

प्रेगनेंसी के दौरान डोलो 650 का इस्तेमाल करना असुरक्षित हो सकता है। इस बारे में हम शोध हुए हैं कि डोलो 650 का शिशु के विकास पर खतरनाक प्रभाव पड़ते हैं। इस बारे में डॉक्टर से सलाह लेना और उसी के अनुसार चलना सही है।

ब्रेस्टफीडिंग के दौरान डोलो 650 का सेवन सुरक्षित है। शोध और स्टडीज बताते हैं कि यह ड्रग शिशु के लिए खतरनाक नहीं है। लेकिन डॉक्टर की सलाह के अनुसार ही इसका सेवन करना चाहिए।

ड्राइविंग के दौरान इसका सेवन अमूमन आपकी गाड़ी चलाने की क्षमता को प्रभावित नहीं करता है।

किडनी का रोग होने पर बिना अपने डॉक्टर की सलाह के डोलो 650 टैबलेट का सेवन नहीं करना चाहिए। हालांकि, डोलो 650 में पैरासेटामॉल होता है, जो किडनी रोगियों के लिए सुरक्षित दर्द निवारक दवा है।

लीवर के रोगियों को भी डॉक्टर की सलाह के साथ ही डोलो 650 टैबलेट का सेवन करना चाहिए। हालांकि, यह लाइव के गंभीर रोगियों के लिए सही नहीं माना जाता है।

अगर डोलो 650 MG टैबलेट लेना भूल जाएं

यदि आप नियमित समय के अनुसार डोलो 650 टैबलेट लेना भूल जाते हैं तो कोई बात नहीं, इसे जल्दी ले लीजिए। हालांकि, अगर आपके अगले डोज का समय है तो मिस किये गए डोज को छोड़ दें। अपने नियमित शेड्यूल पर जाएं और डोज को डबल न करें।

डोलो 650 MGटैबलेट के अन्य डोज

डोलो 650 के अलावा, यह डोलो 500 एमजी और डोलो 1000 एमजी में भी उपलब्ध है। अमूमन, डोज को रोगी के वजन और उम्र के अनुसार कैलकुलेट किया जाता है।

डोलो 650 MGटैबलेट से संबंधित अक्सर पूछे जाने वाले सवाल

अगर डोलो 650 टैबलेट लेने के बाद उलटी हो जाए तो क्या करना चाहिए?

यदि आप डोलो 650 टैबलेट लेने के आधे घंटे के अंदर ही उलटी करते हैं तो उसी डोज को दोबारा लें। यदि आप आधे घंटे के बाद उलटी करते हैं तो आपको एक और डोज लेने की जरूरत नहीं है।

डोलो 650 टैबलेट लेने के कितनी देर बाद बेहतर महसूस होता है?

अमूमन डोलो 650 टैबलेट लेने के आधे घंटे बाद ही आपको बेहतर महसूस होने लगेगा।

कितने समय के अंतराल में डोलो 650 टैबलेट को लिया जा सकता है?

आप 24 घंटे में डोलो 650 टैबलेट के सिर्फ 4 डोज ही ले सकते हैं। डॉ डोज के बीच में कम से कम 4 घंटे का गैप होना चाहिए। अपने डॉक्टर से बात किये बिना 3 दिन से अधिक समय के लिए डोलो 650 टैबलेट का सेवन नहीं करना चाहिए।

डोलो 650 कितनी देर तक आपके शरीर में रहता है?

डोलो 650 लेने के एक घंटे के अंदर ही अपना काम करना शुरू कर देता है। इसका एक्शन 4 से 6 घंटे के अंदर तक रहता है। अधिकतर ड्रग एक दिन में ही पेशाब एक जरिए शरीर से निकल जाते हैं।

 

ये भी पढ़ें – 

अंजीर खाने के फायदे जिससे रहेंगे आप हमेशा सेहतमंद 

हेल्दी गट और बढ़िया पाचन के लिए अपनाएं ये कारगर 5 आयुर्वेदिक टिप्स 

 

स्वास्थ्य संबंधी यह लेख आपको कैसा लगा? अपनी प्रतिक्रियाएं जरूर भेजें। प्रतिक्रियाओं के साथ ही स्वास्थ्य से जुड़े सुझाव व लेख भी हमें ई-मेल करें – editor@grehlakshmi.com