googlenews
abortion

कुछ महिलाएं गर्भपात के बाद दोबारा गर्भवती होने की प्लानिंग करने लगती हैं  जोकि सही नहीं होती है क्योंकि गर्भपात के बाद शरीर का स्वस्थ होना बहुत जरूरी होता है। इसलिए बेहतर होगा कि दोबारा गर्भवती होने के बारे में तब सोचे, जब आपका डॉक्टर आपको गर्भवती होने की सलाह दे । 

‘‘मैं दो बार गर्भपात करवा चुकी हूं। क्या इससे मेरी गर्भावस्था पर कोई असर पड़ेगा?”

पहली तिमाही में कई बार गर्भपात हुआ। हो तो आने वाली गर्भावस्था पर इसका कोई असर नहीं होता। यदि आपका गर्भपात 14सप्ताह से पहले हुआ था तो इसमें घबराने वाली कोई बात नहीं है। 14 से 27 सप्ताह के बीच होने वाले गर्भपात से समय से पहले प्रसव का थोड़ा खतरा बढ़ जाता है। डॉक्टर को इन गर्भपातों के विषय में पहले ही बता दें ताकि आपको पूरी चिकित्सीय देखभाल दी जा सके।

डॉक्टर से कहें

आपकी चिकित्सा या स्त्री रोग का जो भी इतिहास रहा हो उसे डॉक्टर से अवश्य कहें,जैसे-पहली गर्भावस्था, मिसकैरिज, एबॉर्शन,सर्जरी, या फिर कोई संक्रमण। डॉक्टर को इन बातों की जितनी बेहतर जानकारी होगी,आपकी देखभाल उतनी ही बेहतर तरीके से हो पाएगी। वे इन सब बातों को गोपनीय रखेंगे।

ये भी पढ़ें

क्या दूसरा प्रसव पहले प्रसव से ज्यादा तकलीफदेह है

क्या दूसरी प्रेगनेंसी शिशु की सेहत के लिए नुकसानदायक है

आप हमें फेसबुकट्विटरगूगल प्लस और यू ट्यूब चैनल पर भी फॉलो कर सकती  हैं।