googlenews
लगातार खाना छोड़ने से आता है मोटापा: Reasons of Obesity
Reasons of Obesity

Reasons of Obesity: अगर आप अपना वजन कम करना चाहते हैं तो खाना कभी भी न छोड़ें। ऐसा करके आप अपना वजन कभी भी कम नहीं कर पाएंगे। विस्तार से जानते हैं कि ऐसा क्यों होता है-

हर कोई चाहता है कि वो छरहरा दिखे। उसका वजन संतुलित रहे। आज भी ऐसे बहुत से लोग हैं जो मानते हैं कि अगर वह खाना छोड़ेंगे तो वह पतले हो जाएंगे। सबसे पहली बात है कि जब आप खाने को छोड़ते हैं तो आपको एक भूख का अहसास रहता है और जब आप अगले समय खाने बैठते हैं तो भूखे होने की वजह से आप ज्यादा खा लेते हैं। ऐसे में खुद ही सोचें कि अगर आप कैलोरीज को कम करना चाह रहे हैं तो क्या एक समय का खाना छोड़ने का कोई फायदा है? इसलिए इस डगर पर तो चलना ही बेकार है।

पतले नहीं मोटे हो जाते हैं

दूसरी बात यह भी जानें कि खाने को पचाना भी एक कैलोरी बर्नर है। अगर हम समय पर नहीं खाते तो हमारा मैटाबॉलिक रेट धीमा हो जाता है। इसके साथ ही जब आप एक समय का खाना छोड़ते हैं तो हमारे शरीर को सक्रिय हॉर्मोंस और एंजाइम्स डिस्टर्ब हो जाते हैं। इससे हमारे शरीर पर एक नकारात्मक प्रभाव पड़ता है। इसका असर यह होता है कि हमारा शरीर फैट स्टोरिंग एंजाइम्स को रिलीज करना शुरू कर देता है। जब यह एंजाइम बढ़ते हैं तो फैट बॄनग (लिपोलिटिक) एंजाइम घटते हैं। जब आप खाने को छोड़ देने की प्रक्रिया बार-बार करते हैं तो आपका वजन कम नहीं हो पाता क्योंकि शरीर कंजॄवग मोड में आ चुका होता है।
सच यह है कि इससे तो मेटाबॉलिक रेट कम होता चला जाता है। ऐसा इसलिए क्योंकि शरीर को नहीं पता कि अगली कैलोरी की सप्लाई उसे कब मिलेगी? शरीर एक सुरक्षित गेम खेलकर फैट को संरक्षित करने लगता है। इससे आप जान चुके होंगे कि मील्स को छोड़ने से आप पतले नहीं बल्कि मोटे होते चले जाते हैं।

निर्णय लेने की क्षमता होती है प्रभावित

खाने को समय पर नहीं खाने वाले सही तरह से सोच नहीं पाते, गलत निर्णय लेते हैं और उनकी फूड चॉइस भी गड़बड़ होती है। वह पौष्टिक खाने की तुलना में अनहेल्दी खाना खाते हैं। लोगों के साथ उनके रिश्ते घर और ऑफिस दोनों जगह गड़बड़ होते हैं। वह अपनी छोड़ी हुई मील को जंक फूड खाकर पूर्ति करते हैं, इसको भी वह ज्यादा मात्रा में खाते हैं। याद रखें कि खाना छोड़ने से आप कुपोषित हो जाते हैं।

यह तो है एक ईंधन

खाना शरीर के लिए एक ईंधन की भांति है। अगर आप शरीर रूपी गाड़ी में ठीक प्रकार से ईंधन नहीं डालेंगे तो आपके पोषण का स्तर नीचे गिरता चला जाएगा। इससे ब्रेन फॉग और अनअटेंटिवनेस जैसी समस्याएं हो जाती है। इससे हमारी कार्य करने की क्षमता भी प्रभावित होती है। ऐसा इसलिए होता है क्योंकि एक हार्मोन न्यूरोपैपटाइड वाय है जो उन लोगों को अग्रेसिव बना देता है उन्हें भूख लगी होती है और वह कई बार खाना छोड़ देते हैं।
यहां तक कि अगर आप एक समय का खाना भी छोड़ते हैं तो आपके शरीर का ब्लड शुगर लेवल कम हो जाता है। इससे हम थका हुआ महसूस करते हैं। इससे हम काम भी कम कर पाते हैं और हमारी कैलोरी भी कम बर्न होती है।

नींद पर होता है बुरा असर

Reasons of Obesity
If you skip dinner, your sleep is affected

अगर आप रात के खाने को छोड़ते हैं आपकी नींद प्रभावित होती है। आप सही से सो भी नहीं पाते। इससे मेटाबॉलिक चेंज बहुत तेजी से होने लगता है। इसके कई गंभीर परिणाम भी सामने आ सकते हैं। अगर हम सही समय और रेगुलर खाना नहीं खाते हैं तो हमारी मस्तिष्क भी इससे प्रभावित होता है। इससे हम अचानक से दु:खी होने लगते हैं और हम एक तनाव-सा महसूस करते हैं। इससे स्ट्रेस हार्मोन रिलीज होता है। इससे मूड चेंज होता है, एंजाइटी होती है। इसका एक असर यह भी होता है कि हमारा वजन तेजी से बढ़ता है।
सबसे जरूरी बात खाने के छोड़ने को आप बिलकुल भी हल्के में न लें। शाम के समय ज्यादा खाते हैं। इसके अलावा आप मील्स के मध्य में होने वाले नाश्ते को भी ज्यादा करते हैं। इससे हमारे शरीर में हानिकारक मैटाबॉलिक बदलाव हो जाते हैं।

बनाएं एक साप्ताहिक प्लान

अपने खाने का एक साप्ताहिक प्लान बनाएं और उसी के अनुसार बाजार से सामान लेकर आएं। आप अपने वीकएंड्स पर आप इसे बनाने की कुछ तैयारियां करके रख सकते हैं। सब्जियों की कटिंग वगैरह…। उन्हें सही से स्टोर कर सकते हैं। अपने नाश्ते से लेकर डिनर तक की एक दिन पहले तैयारियां कर लें।

कुछ प्रमुख बिंदु

  • हेल्दी नाश्ते की चीजों को अपने हाथ के नीचे रखें। आपकी वर्क ड्रार, बैग में, कार के डैशबोर्ड पर। अगर खाने के बीच में लंबा अंतराल भी होगा तो यह उनकी पूर्ति करेंगे।
  • अपने फोन पर खाने के समय का एक टाइमर भी लगा सकते हैं। इससे आप किसी भी मील को छोड़ नहीं कर पाएंगे।

Leave a comment