अविका गोर एक भारतीय फिल्म अभिनेत्री हैं। अविका अपने एक्टिंग करियर की शुरुआत  बतौर चाइल्ड आर्टिस्ट बालिका वधुधारावाहिक से अपने अभिनय की शुरुआत की थी और बाद में इन्होंनेससुराल सिमर कामें रोली का किरदार 2017 तक निभाया था। 2013 में इन्हें तेलुगू फिल्म “उय्यला जम्पलामेंकामकरनेकामौकामिला, जिसके साथ ही इन्हें तेलुगूफिल्मों में भी काम करने का मौका मिलने लगा। इसके साथ ही इतनी काम उम्र में अविका एक प्रोडूसर भी हैं और अपने जीवन के उतार चढ़ाव और इंडस्टी में15ाल पुरे करने पर उनकी खाश बातचीत हमारी प्रतिनिधि ऋचा मिश्रा तिवारी से।  

मैं एक हेल्पफुल गृहलक्ष्मी हूं। –  मैं अपने वर्क प्लेस पर भी हेल्पफुल गृहलक्ष्मी ही हूं। मुझे दूसरों की मदद करना बहुत ज्यादा पसंद है। मैं मानती हूं की जिन्होंने ने भी मेरे लिए एक छोटा सा भी स्टेप लिया होगा। उसके लिए मैं उनकी मदद करना बेहद पसंद करती हूं। ये मेरे लिए एक फन है। मैं हर जगह एक जैसा रहने की ही कोशिश करती हूं। ]

 

मम्मी की तरह सब चीज़ें मैनेज करती अविका। – ये सब मैनेज करना मेने अपनी मम्मी से सीखा है। मैं उन से काफी ज्यादा इंस्पायर होती हूं। क्योंकि मम्मी इतनी अलर्ट हर चीज़ को लेकर होती है उतना अलर्ट होना  जिंदगी में बहुत बड़ी बात है। इसलिए मैने भी उन्ही से ये सब चीज़ें मैनेज करना सीखी है।

मैं बहुत जिद्दी हूँ। – मेरा मानना है कि मैं बहुत बिगड़ी हुई हूं क्योंकि मुझे मेरे घर वालों ने बहुत प्यार करके बिगाड़ा है। ये इसलिते क्योंकि मैं उनकी सिंगल चाइल्ड हूं। मेरे आज तक हर शॉक पूरे होते आए है। मुझे जो प्यार मिला है वो आप सोच भी नहीं सकते हैं। हालांकि पापा मम्मी ही मुझे चीज़े मैनेज करना भी सिखाते हैं इसलिए सिर्फ वही मुझे संभल  मैं बहुत जिद्दी हूं।

 

पता ही नहीं चला इतनी जल्दी सब हो गया। – ये एक्सपीरयंस मेरे लिए सबसे बढ़ कर है। इसको मैं किसी भी चीज़ से कम्पेयर नहीं कर सकती। मेरे लिए ये जर्नी बहुत स्पेशल रही हैं। क्योंकि मेरे ऑडियंस ने मुझे बहुत प्यार दिया है। अभी भी लोग मुझे आनंदी कह कर ही बुलाते है ये जो प्यार मुझे इतने सालों में मिला है ये सबसे अलग है।  मुझे अभी तक यकीन नहीं होता है कि मुझे अपने इस खूबसूरत सफर में 15 साल पुरे हो चुके हैं। एक आठ साल की बच्ची जिसे डांस करना पसंद था फिर वह एक्टिंग करने लग गई और फिर और फिर बालिका वधु जैसा माइल्ड स्टोन क्रिएट करने वाला शो बन जाता है। उसके बाद ससुराल सिमर का शो भी रिकॉर्ड तोड़ देता है उसके बाद मैं लगातार मूवीज  करने लग गई। इसके बाद मैं खुद प्रोडूसर बन गई। इतना कुछ हो गया पता ही नहीं चला इतनी जल्दी सब हो गया। ये एक्सपीरयंस मेरे लिए सबसे बढ़ कर है।

स्ट्रांगली होकर सारे चैलेंज मैनेज करती हूँ।  – मेरा मानना है कि हमें ये सिखाया जाता है कि हमें स्ट्रांग होना है। हमें सीखी बिहेव करना है। आपका मूड नहीं है तो क्या हुआ आपको लोगों के सामने अच्छा बनना है। लेकिन ऐसा नहीं होता। अगर किसी को रोना आ रहा है रो लो। फील करना है करलो। मेने भी यही किया है। मेरे घर वालों ने भी यही किया है। और मैने भी यही सीखा है। क्योंकि जब भी कोई ऐसी स्थिति मेरे सामने आती है जो मुझे हेल्पलेसनेस महसूस करवाती है तो मैं उसे करवाने देती हूँ। मुझे भूरा लग रहा है मुझे सैड फील हो रहा है मैं होने देती हूं। मैं रो लेती हूं थोड़ा उसके बाद मुझे अपने आप भी अच्छा लगने लग जाता है।

 

एक्सपीरिएंस बेहतरीन रहा है। मेरे लिए सबसे बड़ी प्रॉब्लम लैंग्वेज रही है, क्योंकि मेरे घर में कच्छी बोली जाती है और में मुंबई में रही हूं तो में थोड़ा मराठी समझ लेती हूं लेकिन तेलगु का तो मुझसे कोई कनेक्शन नहीं है। इसलिए सिर्फ लैंग्वेज है जो आज भी मुझे डिफिकल्ट लगती है। लेकिन मेरे लिए ये प्लस पॉइंट रहा है कि मेरी पहली मूवी से अब तक मुझे लैंग्वेज समझ में आने लग गई है। जिसकी वजह से अब मेरी डायलॉग की डिलेवरी भी एक्टर के तौर पर बेहतर हो गई है। इसके अलावा मेरा एक्सपीरिएंस बेहतरीन रहा है।

मूवी देख दोस्तों के साथ टाइम स्पेंड करती है अविका।  – मैं मेरे दोस्तों के साथ मूवीज देखना सबसे ज्यादा पसंद करती हूं। लेकिन अभी लॉकडाउन में सिर्फ उनसे वीडियो कॉल ही हो पता है। लेकिन लॉक डाउन से पहले हम डिनर पर, मूवीज देखने या घूमने जाते थे। जो नॉर्मली लोग करते है वो हम भी करते हैं।

 

मुझे टाइगर श्रॉफ, सलमान खान के साथ काम करना है। – मेरे साथ  प्रॉब्लम ये है कि मुझे सिर्फ एक नहीं कई सरे रोल प्ले करना है। मेरे बहुत सरे सपने है। इनको पूरा करने के लिए मेरे पास अभी बहुत साल है। अभी  मुझे टाइगर श्रॉफ, सलमान खान के साथ काम करना है।

मुझे कभी ये फील नहीं होने दिया कि में बच्ची हूँ। – बालिका वधु के सेट पर मेरा हर एक दिन ऐसा था कि में एक एक्टिंग स्कूल में हूं। क्योंकि मेरे साथ जिन लोगों ने काम किया वह बहुत ज्यादा एक्सपीरयंस एक्टर्स थे। उनके सामने एक सीन कर पाना ही बहुत बड़ी बात है। बड़ी बात ये है कि उन लोगों ने मुझे कभी ये फील नहीं होने दिया कि में बच्ची हूं उन सभी ने मुझे हमेशा एनकरेज किया है। मुझे सेट पर सभी लोगों ने इतना प्यार दिया है कि मैं इसे कभी नहीं भूल पाऊँगी। “ससुराल सिमर का” में जो मेरे कनेक्शन बने है वो लाइफटाइम वाले है। क्योंकि उस सेट पर हमने 6 साल कंटिन्यू काम किया है। इसलिए ये मैं कभी नहीं भूल सकती।

 

सब कुछ खाते हुए किया वेट लॉस।  – मेरा मानना है कि आप जितनी कालरिज कंस्यूम करते हो उतनी ही आप बर्न भी करो। बहुत सिंपल है जितना आप खाते हो उतना आप वर्कआउट भी करो। आप ये मेंटेन करोगे तो आप खुश रहोगे। मैने भी यही किया है। इसके अलावा मैने कभी एक जैसा वर्कआउट नहीं किया है। इसके लिए मैंने एक शेड्यूल बनाया हुआ है। जिसमें अलग अलग दिन का वर्कआउट अलग अलग होता था। मेरा मानना है कि अगर आप खुद को प्यार नहीं करोगे तो आप अच्छे से वर्कआउट नहीं कर पाओगे।

ट्रेडिशनल ड्रेस पहनना पसंद करती है। –  मुझे मेरे पापा के कपड़े पहनना बहुत पसंद है। मैं घर पर अपने पापा के टीशर्ट पहन कर घूमती रेहती हूं। इसके अलावा मुझे लोगों ने अब तक सबसे ज्यादा ट्रेडिशनल में देखा है। मुझे लगता है कि जो मुझ पर सूट हो रहा है वो मैं पहनू। मुझे इंडियन कपड़े पहना बेहद पसंद है।

 

खुद को सिंपल रखना पसंद है।मैं दिन में एक बार सनस्क्रीन जरूर लगाती हूं, क्योंकि उसके अलावा मैं ज्यादा कुछ कर नहीं पाती। मेरी मम्मी मुझे काफी चीज़ें करने का बोलती है लेकिन मैं नहीं सुनती और जब मैं नहीं सुनती तो मुहे बहुत डाट भी पड़ती है।

शिरो के साथ दिन की शुरुआत करती है अविका। –  मैं अपने दिन की शुरुआत बहुत जल्दी करती हूं क्योंकि मुझे जल्दी उठना बहुत पसंद हैं। साथ ही मेरे दिन की शुरुआत मेरे पेट से होती है। उसका नाम शिरो है। हम सुबह खेलते है थोड़ा तो दिन की शुरुआत उसके साथ ही होती है।

 

मुझे आगे बहुत कुछ अलग करना है। – मुझे एक्टिंग में बहुत कुछ करना है। मुझे लैंग्वेज भी बहुत सारी सीखना है। बहुत कुछ प्रोड्यूस करना है। बॉलीवुड में भी डेब्यू करना है। इसके लिए मैने बहुत कुछ सीखा है जैसे एडिटिंग राइटिंग  मुझे आगे बहुत कुछ अलग करना है।

खाना बनाना  बहुत पसंद है। – मुझे मॉम डैड के लिए खाना बनाना बहुत अच्छा लगता है। क्योंकि जब वह खाते है और तारीफ करते है तो बहुत अच्छा लगता है। मेरा पूरा मी टाइम कुकिंग में ही जाता है और में इसको काफी एन्जॉय करती हूं।

 

पंजाबीखानाबनानाअच्छालगताहैं। – जिस सब्जी में काफी ज्यादा पंजाबी ग्रेवी होती है वो मुझे बनाना सबसे ज्यादा अच्छा लगता है। वो मैं बहुत अच्छी बना भी लेती हूं।

धैर्य रखे सब ठीक होगा।मेरा  मानना है कि इस समय आप सभी जितना हो सके अपने घर पर ही रहे हैं। क्योंकि अभी भी सिचुएशन इतनी कंट्रोल में नहीं आ पाई है। साथ ही आप सभी कोरोना के सभी प्रोटोकॉल का अच्छे से पालन करें। इसके अलावा मैं कहूँगी कि जितने भी लोग इस समय स्ट्रगल कर रहे हैं वो अपनीहोप खत्म ना करें। धैर्य रखे सब ठीक होगा।

 

 

यह भी पढ़े। 
Celebrity Gossip: अनुष्का से लेकर आलिया ने बॉलीवुड में अपनी एंट्री से, बॉक्सऑफिस पर मचाया धमाल
बॉलीवुड से जुड़े हमारे लेख आपको कैसे लगे? अगर आपको किसी सेलिब्रिटी के बारे में जानना हैं या हमारे कोई लेख आपको पसंद आया हो तो आप अपनी प्रतिक्रियाएं जरूर भेेजें।  हमें ई-मेल कर सकते हैं- editor@grehlakshmi.com