मुंबई जैसे महानगर के संदर्भ में लोकप्रिय फिल्मी गीत इक बंगला बने न्यारा… अब बहुत अप्रासंगिक- सा लगता है। हालांकि गगनचुंबी इमारतों के बीच यहां बंगला ढूंढना वाकई सुखद है। शहर के संभ्रात इलाकों में कुछ गिने चुने सेलीब्रिटीज़ के ही बंगले देखने को मिलते हैं। वरना ज्यादातर संभ्रात लोग भी अब फ्लैट में रहना पसंद करते हैं।

 

 

 शाहरुख का मन्नत

हाल फिलहाल शाहरुख का बंगला मन्नत काफी चर्चा में रहा। बांद्रा के बैंड स्टैंड इलाके में आज से 12-13 साल पहले शाहरुख ने यह पुराना बंगला 1.3 करोड़ में खरीदा था। उस समय प्रसिद्ध फाइनेंसर भरत भाई शाह ने इसे खरीदने में उनकी काफी मदद की थी। इसकी बाहरी और आंतरिक सज्जा में पूरा डेढ़ साल लगा था। अपने इस बंगले में स्विमिंग पूल से लेकर मिनी थियेटर तक हर तरह की सुविधा किग खान ने जुटा रखी है।

 

बंगले की दीवारों पर कई बार दुर्लभ पेटिंग देखने को मिल जाती हैं। गौरतलब है कि उन दिनों बंगला तैयार होने के बावजूद काफी दिनों तक शाहरूख बांद्रा के अपने पुराने फ्लैट में ही रहे। इस दौरान कई फिल्मों की विफलता और पीठ दर्द की बीमारी के चलते लगा था कि शाहरूख के लिए मन्नत शुभ साबित नहीं हो रहा है। पर बाद में यह बंगला उनके लिए काफी शुभ रहा। शाहरूख के मुताबिक ”मन्नत के रूप में मेरा एक ख्वाब पूरा हुआ है। मैं इसे पैलेस तो नहीं कहूंगा, पर यह मेरे सपनों का घर है। यहीं मेरी तीसरी संतान अबराम का जन्म हुआ है।

 

अमिताभ की प्रतीक्षा

 

जुहू के जेवीपीडी स्कीम के दसवें रास्ते पर लगभग बत्तीस साल पहले अमिताभ ने एक बंगला खरीदा था जिसका नाम उनके कवि पिता ने प्रतीक्षा रखा था। तब से अब तक प्रतीक्षा उनकी गगनचुंबी सफलता का मूक दर्शक रहा है। प्रतीक्षा से लगभग 500 मीटर दूरी पर उनका एक और बंगला जलसा भी है, जिसे उन्होंने लगभग बारह साल पहले खरीदा था। अभि-ऐश की शादी के दौरान यह दोनों बंगले काफी चर्चा में रहे थे। जलसा की सबसे बडी खासियत है इसके बेसमेंट में अमिताभ की लाइब्रेरी। हालांकि 2005 की जुलाई में हुई भयंकर बारिश में उनका पूरा बेसमेंट पानी में डूब गया था। बाद में एक और बंगला जनक भी अमिताभ ने खरीदा। इसी एरिया में शत्रुघ्न सिन्हा, धर्मेंन्द्र, डैनी, बी.आर. चोपड़ा जैसे कई दिग्गजों के भव्य बंगले हैं। 11वीं रोड के प्लॉट नं 22 में धर्मेन्द्र का बंगला धर्मविला है। महानायक धर्मेन्द्र अपने दोनों बेटे सनी, बाबी और पहली पत्नी प्रकाश के साथ यहां रहते हैं। इसी रोड पर अभिनेता डैनी का बंगला ‘डीजोग्रिला मौजूद है। डैनी सिक्किम के रहने वाले हैं। यह उनके बंगले की भीतरी हरियाली से ही झलकता है। 9 वीं रोड पर सांसद और अभिनेता शत्रुघ्न सिन्हा का बंगला रामायण है। इस भव्य बंगले को हाल ही में एक नया रूप दिया गया है। पिछले चुनाव में बीजेपी को पूर्ण बहुमत मिलने के बाद यह बंगला खूब रोशनी से जगमगा रहा था। 

खानों का गैलेक्सी अपार्टमेंट

 

 जुहू से हटकर देखें तो मुंबई के एक और उपनगर बांद्रा में कई फिल्मवालों के बंगले हैं। शाहरुख के बंगले मन्नत से थोड़ी दूर स्थित है एक भव्य इमारत गैलेक्सी अपार्टमेंट। इस पूरी इमारत में खान परिवार रहता है। सलीम खान, उनकी दोनों पत्नियां और दोनों बेटे सलमान-सुहैल।

बांद्रा की ही ला-मेरी बिल्डिंग में कभी ऐश्वर्या रहती थीं, जहां उनके पड़ोसी थे सचिन तेंडुलकर और प्रसिद्ध एड मेकर प्रल्हाद कक्कड। बांद्रा का ही एक इलाका पाली हिल सितारों के बंगले के लिए हमेशा प्रसिद्ध रहा है। पाली हिल में अभिनय सम्राट दिलीप कुमार रहते हैं। इससे थोड़ी ही दूरी पर एवरग्रीन स्टार स्व. देव आनंद का बंगला आनंद है। कभी यहां जुबली कुमार यानी राजेंद्र कुमार का बंगला डिंपल भी था। पर कुछ साल पहले उनके बेटे ने इस बंगले को बेच दिया। अब बंगले की जगह एक भव्य इमारत खड़ी हो गई है। 

आमिर खान 

अभिनेता आमिर खान ने भी 60 करोड़ में बांद्रा के कार्टर रोड स्थित सी फेस में एक घर खरीदा है।उल्लेखनीय है कि पिछले कई माह से आमिर इस फ्लैट में बतौर किरायेदार रह रहे थे जिसका किराया ही 10 लाख था। तभी से उन्हें यह घर इतना पसंद आ गया था कि वह इसे खरीदने के लिए बेताब हो गये थे। अब वह इसमें सफल हो गये हैं। वह इस फ्लैट में रहने भी लगे हैं। उनके घर की सबसे बड़ी खासियत यह है कि यहां के ज्यादातर फ्लैट की साज सज्जा पारंपरिक है। घर के पीछे की खिड़की के पास आमिर और उनकी पत्नी किरण राव के बैठने की खास जगह है। 

प्रियंका चोपडा

अभी कुछ माह पहले हुए एक इंटरव्यू के दौरान अभिनेत्री प्रियंका चोपडा ने कहा था कि उन्हें समुद्र का किनारा बहुत अच्छा लगता है। उनकी इच्छा है कि समुद्र के किनारे उनका भी एक सुंदर आशियाना हो। एक विशेष सूत्र का कहना है कि प्रियंका ने वर्सोवा के सी-फेस में स्थित 15 बेडरूमवाले बंगले में जाने का मन बना लिया है। पता चला है कि पिता की मृत्यु के बाद से ही प्रियंका घर बदलने का मन बना रही हैं। पर अपने 100 करोड़ की लागत वाले इस नये बंगले के बारे में प्रियंका मीडिया को कुछ भी बताना नहीं चाहती हैं। उनके प्रचार मैनेजर ने भी इस खबर के बारे में कुछ भी बताने से इंकार किया है। उसने तो यहां तक कहा है कि अभी तक इस तरह के किसी भी बंगले की डील नहीं हुई है। 

सितारों के घर या मंदिर 

बिपाशा बसु

आम आदमी की तरह सितारे भी घर को एक मंदिर मानते हैं। बिपाशा बसु ने लोखंडवाला मे अपना नया फ्लैट लिया, तो उन्हें इसके फर्श का मार्बल पसंद नहीं आया। लिहाजा उन्होंने अपने घर के इंटीरियर के दौरान फर्श का मार्बल भी इटैलियन मार्बल में बदल दिया गया। ज़ाहिर है घर के पूरे इंटीरियर में भी उन्होंने दिल खोल कर पैसा खर्च किया। उनके हॉल में जो डायमंड कट झाड़-फानूस लगे हैं उनके जलते ही रात में भी पूरा हॉल दिन का एहसास देता है। बिपाशा को पढऩे का बहुत शौक है। इसके लिए अपने हॉल के बायें कोने को उन्होंने पढऩे के लिए रखा है। पूरे कमरे में एक दो महंगी पेटिंग के अलावा कुछ नज़र नहीं आता। सारी दीवारें खाली नजर आती हैं। हां, सारी पेंटिंग जरूर धार्मिक पृष्ठभूमि का एहसास कराती हैं। उन्होंने अपने घर के एक कमरे में एक छोटा सा मंदिर बना रखा है जिसकी साफ सफाई घर पर रहने पर हर रोज वो स्नान कर खुद करना पसंद करती हैं।

 दीपिका पाडुकोण का फ्लैट

अभी एक साल पहले अभिनेत्री दीपिका पाडुकोण ने मुंबई के प्रभादेवी में अपना एक फ्लैट खरीदा है। इसकी कीमत 16 करोड़ है। सूत्र बताते हैं कि इसके इंटीरियर में ही उन्होंने दो करोड खर्च किये हैं। चार बेडरूम वाले उनके इस बंगले की सबसे बड़ी खासियत यह है कि इसके हर कमरे में बहुत महंगी पेंटिग लगी हुई हैं। इसके हॉल में वह दोस्तों के साथ कभी-कभी पार्टी करती हैं। यहां का लाइटिंग सिस्टम लाजवाब है। एक स्विच दबाते ही पूरा कमरा रोशनी से नहा जाता है जबकि दूसरे स्विच से पूरे कमरे में क्षण भर में रोशनी मद्धिम हो जाती है।

मुंबई के सबसे मंहगे वर्ली के एक पॉश इलाके में अभिनेत्री दीपिका पाडुकोण ने अभी दो साल पहले 6 करोड का एक महंगा फ्लैट खरीदा था। तब इसके इंटीरियर पर ही उन्होंने लगभग एक करोड़ खर्च कर दिया था। इस फ्लैट में दीपिका की पसंद की हर बात मौजूद है। उनके रीडिंग रूम से लेकर एक छोटा सा जिम भी यहां मौजूद है। एक छोटा सा मंदिर भी है।अभिनेता इमरान हाशमी ने भी अपने फ्लैट में ऐसी सारी सुविधाएं जुटा रखी हैं।

 

  

सैफ और करीना

सैफ और करीना के फ्लैट का इंटीरियर भी सबको सहज ही आकर्षित करता है। प्रसिद्ध इंटीरियर डेकोरेटर अमित बार्बेकर जिन्होंने कई बड़े स्टार के घरों का इंटीरियर किया, के मुताबिक सितारे घर को सजाते समय खर्च की परवाह नहीं करते। अमित कहते है, ‘कभी-कभी तो फ्लैट की आधी कीमत के बराबर वह घर के इंटीरियर पर खर्च कर देते हैं। इनकी पसंद भी विचित्र होती है।फ्लैट का कोना-कोना वह पढने, एक्सरसाइज, सोने-खाने के लिए तय करते हैं। अब जैसे कि कुछ सितारों को घर के बीच में बैठकर आराम करने की इच्छा होती है, तो हम उनके फ्लैट के इंटीरियर के दौरान वैसी जगह डिजायन करते हैं।

बंगले भव्य इमारत में तब्दील हो गये

  असल में पिछले वर्षो में मुंबई में जमीन की कीमत ने जो उड़ान भरी है, उसकी चपेट में सबसे ज्यादा बंगले आये हैं।जिन बंगलों को कभी स्थापत्य कला का उदाहरण माना जाता था, अब उन पर भी बिल्डर की नजर पडने लगी है। अब उन पर भी बिल्डर की नजर पडने लगी है। महान अभिनेता स्व. प्राण का बंगला बहुत पहले एक  इमारत की शक्ल ले चुका है। इसी तरह सुनील दत्त के बंगले सनराइज की जगह भी एक भव्य इमारत खड़ी है। विश्वजीत, साधना, शशिकला आदि कई पुराने दौर के कलाकारों के बंगलों पर बिल्डरों की गिद्ध दृष्टि बनी हुई है। स्व. अभिनेता राजेन्द्र कुमार के बेटे कुमार गौरव कहते है, ‘बंगलों की मेंटीनेंस वाकई एक कठिन काम हो गया है। फिर जब आसपास बडी इमारतें बन जाती हैं, तो बंगले का पूरा सौंदर्य बिगड़ जाता है। हमारा परिवार छोटा था, इसलिए मुझे इसमें कोई बुराई नहीं लगी। अभिनेता सुरेश ओबेराय का बंगला जुहू में स्थित है। उनका मानना है कि फ्लैट कल्चर ने हालिया वर्षो में बंगले के अस्तित्व को गहरी चोट पहुंचाई है। वे कहते हैं, ‘मुंबई में इन दिनों जमीन की इतनी कमी है कि आपको किसी अहम जगह की बड़ी इमारत से ही अपनी प्रोफेशनल गतिविधि जारी रखनी पडेगी। विवेक की शादी के बाद जब बंगले की साज सज्जा हो रही थी, तो हम भी कुछ दिनों के लिए फ्लैट में शिफ्ट हुए थे। तब आज कल के फ्लैट के माडर्न डिज़ाइन देख कर मैं दंग रह गया। हमारे वक्त में बंगले में रहना शान की बात मानी जाती थी, लेकिन आजकल अगर किसी बिल्डिंग के दो या तीन फ्लोर ले लिए जाएं, तो वो भी काफी सुविधाजनक होते हैं। हम भी फ्लैट में इन्वेस्ट करने के बारे में सोच रहे हैं।

 

बात वाजिब है, पर जिनके पास बंगले हैं, वे इसके अस्तित्व को ले कर द्रढ़ हैं। अमिताभ, राकेश रौशन, डैनी, गोविंदा, मनोज कुमार आदि कई कलाकारों ने बड़े चाव से अपना बंगला बनवाया था जिसकी देखभाल पर इनकी पूरी नज़र रहती है। डैनी गंभीर हो जाते हैं, ‘मुंबई के कंक्रीट के जंगल से मैंने अपने बंगले को बहुत दूर रखा है। हर साल इसकी देखभाल में मेरा काफी पैसा खर्च होता है ताकि इसका सौंदर्य बदस्तूर बना रहे। यह सोच बनी रहे, तो सितारों के बंगलों पर शायद ही बिल्डर की नजर पड़ेगी।