नहाना एक ऐसी प्रक्रिया है, जिसे हम हर दिन दोहराते हैं। खासतौर से, गर्मी के मौसम में तो महिलाएं खुद को रिफ्रेश करने के लिए दिन में दो बार नहाना पसंद करती हैं। हालांकि, अब तक हम सभी बाथिंग या शॉवर के उसी पुराने घिसे-पिटे तरीके को अपनाती आई हैं। बस बॉल्टी या शॉवर की मदद से खुद को क्लीन करना। वैसे बाथिंग सिर्फ खुद को क्लीन करने मात्र का प्रोसेस नहीं है, बल्कि इसकी मदद से आप खुद को बेहद तरोताजा महसूस करती हैं और आपकी सारी थकान दूर हो जाती है। इसलिए अब अगर आप अपने बाथिंग एक्सपीरियंस को नेक्स्ट लेवल पर ले जाना चाहती हैं तो बाथ बम का इस्तेमाल करें। इसकी मदद से घर के बाथरूम में ही आप स्पा फीलिंग पा सकती हैं। तो चलिए आज इस लेख में हम आपको बता रहे हैं कि बाथ बम क्या है और इससे आपको क्या-क्या फायदे मिलते हैं। इतना ही नहीं, हम आपको इसे घर पर बनाने की आसान विधि के बारे में भी बताएंगे-

क्या है बाथ बम

बाथ बम एक ऐसा शब्द है, जो अब तक शायद कई महिलाओं के लिए एकदम नया है। तो चलिए हम आपको बता दें कि बाथ बम काफी हद तक साबुन की तरह ही है। लेकिन इसे स्किन पर नहीं लगाया जाता, बल्कि नहाने के पानी में डाला जाता है। बाथ बम को खासतौर से बाथ टब के लिए डिजाइन किया गया है, ताकि आप पानी के अंदर एक बेहतरीन फील ले सकें। जब बाथ बम को बाथटब में डाला जाता है तो इससे ना सिर्फ पानी में बुलबुले बनते हैं, बल्कि बाथ बम में मौजूद एसेंशियल ऑयल के कारण आपको काफी रिलैक्सिंग और स्ट्रेस फ्री भी महसूस होता है।

होते हैं यह फायदे

बाथ बम का इस्तेमाल करने से आपको एक नहीं, बल्कि कई बेनिफिट्स मिलते हैं। जैसे-

  • बाथ बम में कई तरह के एसेंशियल ऑयल्स का इस्तेमाल किया जाता है, जो आपके मूड को प्रभावित करने और आपके दिमाग को शांत करने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाते हैं। इस तरह आप खुद को अधिक रिलैक्सड महसूस करते हैं।
  • वहीं बाथ बम न केवल त्वचा को साफ करते हैं बल्कि आपके नहाने के पानी में इमोलिएंट्स और सॉफ्टनर की तरह भी काम करते हैं, जिससे त्वचा को मॉइस्चराइज और शांत करने में मदद मिलती है। वे आपकी त्वचा को निखारने में मदद करते हैं और इसे आपको एक यंग, स्मूद और ग्लोइंग स्किन मिलती है।
  • बाथ बम का एक सबसे बड़ा लाभ यह है कि यह नेचुरल होते हैं। इन्हें बनाते समय किसी तरह के केमिकल्स या कृत्रिम पदार्थों का नहीं, बल्कि एसेंशियल ऑयल्स का इस्तेमाल किया जाता है। इसलिए, वे त्वचा पर कठोर नहीं होते हैं और जलन और एलर्जी का कारण नहीं बनते हैं।
  • लंबे व्यस्त दिन के बाद अगर बाथ बम का इस्तेमाल किया जाए तो इससे मांसपेशियों और हड्डियों में दर्द को कम करने में मदद मिलती है। लौंग, मेंहदी, लैवेंडर और पुदीना जैसे एसेंशियल ऑयल दर्द से राहत प्रदान करने में मदद करते हैं।
  • आपको शायद पता ना हो, लेकिन बाथ बम इनसोमनिया की परेशानी को भी दूर करने में काफी हद तक सहायक है। बाथ बम से भरे पानी में नहाना मन और शरीर दोनों को शांति देने का एक सही उपाय है। बाथ बम में लैवेंडर और कैमोमाइल जैसे आवश्यक तेल होते हैं, जो आपको शांत करने वाले प्रभाव के कारण तनाव को दूर करते हैं और आपको एक अच्छी नींद लेने में मदद करते हैं।
  • अधिकतर सभी बाथ बम सोडियम बाइकार्बोनेट और साइट्रिक एसिड का एक संयोजन होते हैं। यह वे मुख्य एजेंट है, जो क्लीनिंग प्रोसेस के लिए जिम्मेदार होते हैं। इस तरह बाथ बम का इस्तेमाल करने से आपको अपनी स्किन को क्लीन करने में मदद मिलती है।
  • आमतौर पर हम सभी नहाने के लिए साबुन का इस्तेमाल करते हैं, लेकिन यह स्किन पर हार्श होते हैं और रूखेपन के अलावा भी कई  तरह की समस्या का कारण बनते हैं। हालांकि, बाथ बम स्किन को नरिश व मॉइश्चराइज करने में मदद करते हैं। इस तरह इनका इस्तेमाल करना अधिक उपयुक्त माना जाता है।

घर पर ऐसे बनाएं बाथ बम

यूं तो बाथ बम आपको बाजार में बेहद आसानी से मिल जाएंगे, लेकिन अगर आप चाहें तो इन्हें घर पर भी बेहद आसानी से बना सकती हैं।

आपको चाहिए

  • 100 ग्राम बाइकार्बोनेट सोडा
  • 50 ग्राम साइट्रिक एसिड
  • 25 ग्राम कॉर्नफ्लोर
  • 25 ग्राम एप्सम नमक (वैकल्पिक)
  • 2 बड़े चम्मच तेल – जैसे सूरजमुखी, नारियल या जैतून का तेल
  • एक चौथाई छोटा चम्मच एसेंशियल ऑयल, जैसे ऑरेंज, लैवेंडर या कैमोमाइल
  • लिक्विड फ़ूड कलरिंग की कुछ बूँदें
  • संतरे के छिलके, लैवेंडर या गुलाब की पंखुड़ियां सजाने के लिए (वैकल्पिक)

 

अन्य आवश्यक चीजें

  • मिक्सिंग बाउल
  • व्हिस्क
  • प्लास्टिक मोल्डस

 

जानिए तरीका

1. एक कटोरे में बाइकार्बोनेट सोडा, साइट्रिक एसिड, कॉर्नफ्लोर और एप्सम नमक डालें, फिर पूरी तरह से मिलाने तक फेंटें।

2. अब एक छोटी कटोरी में बेस ऑयल, एसेंशियल ऑयल और फूड कलरिंग डालें। जितना हो सके रंग के साथ तेल को मिलाकर अच्छी तरह मिलाएं। कुछ देर अच्छी तरह मिक्स करने के बाद कलर ऑयल्स के साथ अच्छी तरह मिक्स हो जाएगा।

3. बहुत धीरे-धीरे तेल के मिश्रण को सूखी सामग्री में थोड़ा-थोड़ा करके डालें। साथ ही इसे बीच-बीच में व्हिस्क करते रहें। जब सारा तेल मिल जाए, तो पानी की कुछ बूंदें डालें और फिर से फेंटें। इस बात का ध्यान रखें कि पानी डालते ही यह फ़िज़ हो जाएगा, इसलिए इसे जल्दी से मिलाएँ। आप देखेंगी कि मिश्रण आपके हाथ में दबाने पर थोड़ा आपस में चिपक जाएगा। इसलिए इसका आकार बनाए रखने के लिए जरूरी है कि यह बहुत गीला नहीं होना चाहिए।

4. अगर आप सजाने के लिए छिलका या फूलों की पंखुड़ियां डाल रही हैं, तो उन्हें अपने मोल्ड के बेस में रख दें। अब अपने मिश्रण को ऊपर से कसकर पैक करें, नीचे दबाएं और एक चम्मच की मदद से ऊपर से चिकना करें।

5. अपने बाथ बम को मोल्ड में 2-4 घंटे के लिए सूखने के लिए छोड़ दें, फिर इसे सावधानी से हटा दें। यह अब स्नान में जाने के लिए तैयार है।

DIY Bath Bomb, Bath Bombs, bath bombs benefits, how to make bath bombs