googlenews
देसी टच ने बनाया गृहलक्ष्मी दोपहर को खास: Grehlakshmi Party Celebration
Grehlakshmi Dophar Celebration

गृहलक्ष्मी दोपहर

Grehlakshmi Party Celebration: करवाचौथ और अहोई अष्टमी के मौके पर गृहलक्ष्मी दोपहर और डीपी क्लब ने मिलकर दिल्ली के प्रसिद्ध बैंक्वेट हॉल, मैपल गोल्ड में एक कार्यक्रम का आयोजन किया। जहां क्लब से जुड़ी सभी महिलाओं ने शिरकत की और त्योहार के गीत गाए। हमेशा की तरह इस बार भी क्लब की महिलाओं ने फूड स्टॉल्स के मजे लिए और खूब सारी खरीदारी की। समारोह की विशेषता उसकी सादगी और वहां आए सभी लोगों का सौहार्दपूर्ण व्यवहार था। केवल इतना ही नहीं, बल्कि वहां का देसी टच और स्टॉल्स में लगे इकोफ्रेंडली सामान लोगों को अपनी ओर आकर्षित कर रहे थे।

स्वच्छ भारत शपथ

हर बार की तरह कार्यक्रम की शुरुआत ‘स्वच्छ भारत शपथ’ से की गई। जहां सभी महिलाओं ने ‘गृहलक्ष्मी दोपहर’ के साथ यह प्रण लिया कि वे अपने घर के साथ अपने आसपास के वातावरण को भी साफ-सुथरा रखने में अपना सहयोग देंगी। इसके अतिरिक्त वे अपना और अपने परिवार की स्वच्छता का भी पूरा ख्याल रखेंगी।

देसी टच

Grehlakshmi Party Celebration
Desi Touch in Grehlakshmi Dopahar

दरअसल, आज दुनिया फैंसी उत्पादों के पीछे ज्यादा भाग रही है, जबकि हमारे यहां 5 हजार साल पुराना आयुर्वेदिक चिकित्सा मौजूद है, जिसे कई बड़ी कम्पनियां अपने ब्यूटी और वेलनेस उत्पादों को बनाने में इस्तेमाल कर रही है। इन अग्रणी कम्पनियों में से एक नाम
दोपहर के ब्रांड पार्टनर ‘टैक- द आयुर्वेदा कंपनी’ का भी है। इनमें कई तरह की औषधियों का प्रयोग किया गया है, जिनके बारे में आयुर्वेद और चरक संहिता में विशेष तौर पर उल्लेख मिलता है। यही बात इसकी गुणवत्ता और प्रमाणिकता को बढाता है। अच्छी बात ये है कि बहुत महंगे हैं। यहां महिलाओं और पुरुषों से लेकर बच्चों तक के स्किनकेयर उत्पाद उपलब्ध हैं। इनकी विशेषता यह है कि ये सभी उत्पाद शरीर की वात-पित्त-दोष प्रकृति को ध्यान में रखकर बनाए गए हैं।

क्लब बना महिलाओं के लिए मंच

Grehlakshmi Party Celebration
Ladies wearing their traditional outfits in Grehlakshmi Dophar

क्लब की प्रेसिडेंट दीपा जैन और प्राची जैन ने सालों से महिलाओं को आपस में जोड़कर रखा है। उनकी मानें तो ये सोशल क्लब उन महिलाओं के लिए एक मंच की तरह है जो आर्थिक रूप से आत्मनिर्भर होना चाहती हैं। यहां उन्हें अपने व्यवसाय को विस्तार देने का अवसर भी मिलता है। और, इस तरह वे अपने खाली वक्त को रचनात्मक और सृजनात्मक कार्यों में लगा पाती हैं। बहरहाल, इस बार के आयोजन में सबसे मजेदार रहा ‘सोलह श्रृंगार’ की प्रतियोगिता। इस प्रतियोगिता में सभी महिलाओं ने जमकर हिस्सा लिया। प्रतियोगिता जीतने वाली गृहणियों को गृहलक्ष्मी पत्रिका और टैक- द आयुर्वेदा कंपनी ने गिफ्ट हैम्पर दिए।

समापन

इस रंगारंग कार्यक्रम का समापन बड़े ही रोचक ढंग से किया गया। महिलाओं ने अहोई अष्टमी और दीपावली की एकदूसरे को बधाई दी, एकदूसरे के कपड़ों की तारीफ की, कुछ महिलाओं ने जमकर नाच-गाना भी किया। कुलमिलाकर सभी महिलाएं फेस्टिव मूड में दिखाई दीं।

Leave a comment