आजकल के समय में किसी भी पुरुष या महिला में टेढ़े.मेढ़े दांतों की परेशानी होना आम बात है। कई बार बचपन में टेढ़े.मेढ़े दांत होते हैं लेकिन, किशोर होते ही ये परेशानी दूर हो जाती हैं। कई बार ये परेशानी ताउम्र भी रहती है। ऐसे में टेढ़े.मेढ़े दांतों को सीधा करने के लिए डेंटल ब्रेसेस बेहद ही महत्वपूर्ण चीज है। अक्सर आपने देखा होगा कि जिनके दांत टेढ़े.मेढ़े होते हैं, वो डेंटल ब्रेसेस दांत में लगाने वाले तार का इस्तेमाल करते हैं।

 

टीथ ब्रेसेस क्या है

टीथ ब्रेसेस तार वाले उपकरण होते हैं जिनका उपयोग ऑर्थोडॉन्टिस्ट अस्तव्यस्त और टेढ़े मेढ़े दांत या जबड़े ठीक करने में करते हैं। इसीलिए इसको दांतों में तार लगाना भी कहा जाता है।

कई लोग जिनको टीथ ब्रेसेस की जरुरत होती हैं उनको ये किशोर अवस्था की शुरूआत में ही लगा दिए जाते हैं किंतु वयस्क लोगों को भी ब्रेसेस लगाने से फायदा हो सकता है।

दांतों में तार लगाने का उद्देश्य आपको भोजन सही से चबाने में सक्षम बनाना और एक खूबसूरत मुस्कान देना है।

 

दांतों में तार लगाने के लाभ

 

ब्रेसेस लगाने का सबसे बड़ा लाभ है कि ये आपके दांतों को सीधा करते हैं। टेढ़े दांत स्वास्थ्य परेशानी तो होते ही हैंए साथ ही सम्मान के लिए भी परेशानी बन जाते हैं। दांतों को सीधा करवा कर व्यक्ति को शारीरिक और मानसिक रूप से अच्छा महसूस होता है।

 

ब्रेसेस मसूड़ों की बीमारी से भी बचाते हैं क्योंकि ये दांतों के बीच कि खाली जगह को भर देते हैं। जिससे यहाँ पर खाने के कण नहीं ठहरते और मसूड़ों में परेशानी पैदा नहीं कर पाते हैं।

 

ब्रेसेस भविष्य में टेढ़े मेढ़े दांतों के कारण होने वाली जबड़ों की कमजोरी और मांसपेशियों के दर्द से भी बचाते हैं।

 

 

माउथवॉश का करें इस्तेमाल

अगर दिन में कई बार ब्रेसेस की सफाई मुमकिन नहीं है तो आप माउथवॉश का इस्तेमाल कर सकते हैं।

ब्रेसेस के साथ ही ये दांतों और मुंह की सफाई करने में भी मदद करेगा।

इसके लिए आप दिन में तीन.चार बार माउथवॉश लिक्विड का इस्तेमाल कर सकते हैं।

बाजार में अब ऐसे माउथवॉश भी उपलब्ध हैं जो खासकर डेंटल ब्रेसेस के लिए ही बनाये गए हैं।

 

ब्रेसेस के इस्तेमाल के बाद न खाएं ये चीजें

टीथ ब्रेसेस में आमतौर पर जो इस्तेमाल किए जाते हैं उनमें मेटल ब्रेसेस, सेरेमिक ब्रेसेस और लिंग्वल ब्रेसेस खास होते हैं।

इनके इस्तेमाल के बाद चॉकलेटए मिठाई और मेवे जैसी चीजों को खाने से बचना चाहिए।

ये चीजें आसानी से डेंटल ब्रेसेस में चिपक जाती हैं जिससे नुकसान हो सकता है।

साथ ही बहुत हार्ड चीजों को खाने से भी बचना चाहिए।

 

साफ.सफाई का रखें ध्यान

अगर आप ऐसा ब्रेसेस लगा रहे हैं जो दांतों से निकाला जा सकता है तो इसको निकाल कर धोएं।

इसके लिए आप एक चम्मच बेकिंग सोडा में एक चम्मच नींबू के रस को मिला लें। अब इस मिश्रण से ब्रेसेस को साफ कर सकते हैं।

अगर आपका ब्रेसेस दांतों में फिक्स है तो आप आधा चम्मच नमक में कुछ बूंदें नींबू के रस को मिलाकर उसी तरह से ब्रश कर सकते हैं।

 

स्वास्थ्य संबंधी यह लेख आपको कैसा लगा? अपनी प्रतिक्रियाएं जरूर भेजें। प्रतिक्रियाओं के साथ ही स्वास्थ्य से जुड़े सुझाव व लेख भी हमें ई-मेल करें- editor@grehlakshmi.com

यह भी पढ़े

इन आयुर्वेदिक उपायों से जल्द कम हाेगा आपका माेटापा