10 cancer symptoms you may overlook
ब्रेस्ट कैंसर उन कॉमन कैंसरों में से एक है जो ज्यादातर महिलाओं को होता है। हालांकि यह कैंसर पुरुषों को भी होता है लेकिन इसकी संभावना पुरूषों में काफी कम होती है। ब्रेस्ट कैंसर में कैंसर सेल्स ब्रेस्ट के टिश्यूज में बनती हैं। ब्रेस्ट के सेल्स से शुरू होकर ब्रेस्ट कैंसर आसपास के टिश्यूज और पूरे शरीर में फैल सकता है। आइए जानते हैं, इस बीमारी के वो लक्षण, जिन्हें अक्सर कर दिया जाता है नज़रअंदाज।
स्किन पर गड्ढा पड़ना या फिर सिकुड़ना 
वैसे तो ब्रेस्ट कैंसर का आम लक्षण नहीं है लेकिन अगर इस स्थिति को नजरअंदाज किया जाए तो धीरेण्धीरे यह ब्रेस्ट कैंसर का रूप ले सकता है। ब्रेस्ट की स्किन में गड्ढे पड़ने की स्थिति में ब्रेस्ट रेड हो जाती हैए सूजन आ जाती है और वह मोटी हो जाती है। यहां तक कि निपल या तो बाहर या फिर अंदर की तरफ हो जाता है।
अंडरआर्म में गांठ
अगर अंडरआर्म में गांठ होती हैए तो इसके स्तनों से संबंधित होने की संभावना बहुत ज़्यादा होती है। स्तन का ऊतक अंडरआर्म्स तक होता है। साथ हीए स्तन के कैंसर हाथों के नीचे मौजूद लिम्फ नोड्स से भी फैल सकते हैं। महिलाओं के जोख़िम वाले कारकों को कम करने के लिए उचित वज़न बनाए रखनाए धूम्रपान और अल्कोहल का सेवन न करना और सब्जियोंए मछली और कम वसा वाले उत्पादों से भरपूर आहार करने जैसे जीवनशैली में बदलाव के साथण्साथ नियमित मैमोग्राम करना भी होता है।
पूरे स्तन या किसी हिस्से में सूजन
स्तन के एक हिस्से या पूरे स्तन में किसी भी तरह की सूजन एक समस्या का कारण है। हालांकि यह संक्रमण या गर्भावस्था जैसी स्थिति में भी हो सकता हैए लेकिन स्तन की त्वचा में जलन औरध्या डिंपलिंग जैसे अन्य लक्षण हैं या नहीं यह खोज करना महत्वपूर्ण है। खुद से की गई स्तन परीक्षण किसी भी असामान्य परिवर्तन की जांच करने में मदद करेगी। ऐसा होने पर महिलाओं को तुरंत चिकित्सक से संपर्क करना चाहिए।
पीठ में दर्द 
कभी ब्रेस्ट कैंसर में पीठ में भी काफी दर्द होता है। 
निप्पल से खून आना
स्तन की त्वचा पर नारंगी धब्बे पड़ना
दोनों ब्रेस्ट के साइज में बदलाव
निप्पल से डिस्चार्जयब्रेस्ट मिल्क नही
कैसे स्तर कैंसर के खतरे से बच सकते हैं।   
1  नियमित रूप से काली चाय का सेवन करना स्तन कैंसर से आपकी रक्षा करता है। इसक प्रमुख कारण इसमें पाया जाने वाला एपिगैलो कैटेचिन गैलेट नामक तत्व हैए जो ट्यूर की कोशिकाओं की अनियंत्रित वृद्धि को रोकने में मदद करता है।
2  ग्रीन टी सेवन भी स्तन कैंसर से रक्षा करने में सहायक है। इसमें पाए जाने वाले एंटीण्इन्फ्लैमेटरी गुण स्तन कैंसर को बढ़ने से रोकने में मदद करते हैं। 
3  चाय को अत्यधिक गर्म करके पीना भी स्तन कैंसर का कारण हो सकता हैए क्योंकि गर्म तापमान कैंसर कोशिकाओं में वृद्धि करते हैं। ऐसे में हल्की गर्म चाय का ही सेवन करें।
 
4  विटामिन डी का सेवन कैंसर कोशिकाओं की वृद्धि रोकने में सहायक है। इसके लिए दूध व दही का सेवन करना फायदेमंद होता है।
5  विटामिन सी भी आपको स्तन कैंसर से बचाता है। यह आपके प्रतिरक्षी तंत्र को मजबूत करके कैंसर कोशिकाओं को बढ़ने से रोकता है। 
6  कैंसर कोशिकाओं को बढ़ने से रोकने के लिए गेहूं के जवारे भी बेहद कारगर उपाय है।
स्वास्थ्य संबंधी यह लेख आपको कैसा लगा? अपनी प्रतिक्रियाएं जरूर भेजें। प्रतिक्रियाओं के साथ ही स्वास्थ्य से जुड़े सुझाव व लेख भी हमें ई-मेल करें- editor@grehlakshmi.com