googlenews
eye makeup looks

Eye Makeup Tips: कुदरत के दिए गए उपहारों में से एक नायाब उपहार हैं— आंखें। इन आंखों से हम दुनिया की खूबसूरती का अवलोकन तो करते ही हैं साथ ही प्रकृति के सारे रंगों को भी निहारते हैं। ऐसे में इन आंखों का भी सुंदर दिखना लाजमी है। आंखों की बनावट और मेकअप सुन्दर हो, तो चेहरा अपने आप खिल उठता है। इनकी बनावट और सुंदरता को बढ़ाने के लिए ही कई नेत्र प्रसाधनों का इस्तेमाल किया जाता है, जैसे-

आई-प्राइमर-

यह आई मेकअप के लिए बेस का काम करता है। इसकी मदद से आंखों पर मेकअप देर तक टिका रहता है और आईशैडो का कलर भी इंटेंस नजर आता है।

आईशैडो-

Eye Makeup Tips
Eye Shadow

नजरों के झुकने व उठने के बीच के पल को रंगीन बनाने के लिए ही आईशैडो का इस्तेमाल किया जाात है। आईशैडो सामान्यतः बाजार में दो फॉर्म में मिलते हैं, जैसे-

क्रीमी आईशैडो-

क्रीमी आईशैडो का इस्तेमाल अधिकतर सर्दियों में किया जाता है, क्योंकि इस मौसम में हमारी त्वचा रूखी हो जाती है। मगर क्रीमी आईशैडो को लगाने से आंखों के ऊपर बारीक लाइनें नजर आ सकती हैं इसलिए इसकी तुलना में पाउडर आईशैडो का इस्तेमाल ज्यादा बेहतर होता है।

पाउडर आईशैडो-

गर्मियों और बारिश के चिपचिपे मौसम में पाउडर बेस्ड आईशैडों का इस्तेमाल बेहतर होता है, क्योंकि ये देर तक टिकता है और इसे लगाने से पसीना भी जल्दी नहीं आता। पाउडर आईशैडो भी तीन फॉर्म में मार्केट में मिलते हैं, जैसे-

मैट आईशैडो-

कई बार कुछ ऐसे मौके भी आते हैं, जब आप खुद को कलरफुल मेकअप में देखना तो चाहती हैं लेकिन सॉफ्रट लुक के साथ। ऐसी स्थिति में मैट आईशैडो आपके लिए परफेक्ट हैं।

शिमर बेस्ड आईशैडो-

यह आई शैडो हल्की सी शाइन लिए होते हैं, इसलिए इन्हें पार्टी में या फिर रात के समय लगाना अच्छा रहता है, क्योंकि रात की रोशनी में ये खूबसूरत दिखते हैं।

ग्लिटर बेस्ड आईशैडो-

अगर आप आंखों पर अलग से ग्लिटर्स का प्रयोग नहीं करना चाहती तो उन्हें ग्लिटर बेस्ड आईशैडो से भी सजा सकती हैं।

आईशैडो लगाने की विधि

  • आईशैडो ब्रश से थोड़ा-सा आईशैडो, आईलिड पर लगाएं और ऊपर की तरफ ब्लेंड कर लें।
  • आईब्रोज के नीचे सिल्वर, गोल्डन, व्हाइट या बेज कलर का आईशैडो लेकर, ऑउटर कॉर्नर से इनर कॉर्नर तक लगाएं और उसे नीचे की तरफ यानी आईब्रो से आईलैशज की तरफ ब्लेंड कर लें।

आईलाइनर-

Eye Makeup
Eyeliner

आंखों की शेप को डिफाइन करने में आईलाइनर की भूमिका अहम होती है। आंखों को आकर्षक लुक देने के लिए सिर्फ ब्लैक आईलाइनर का प्रयोग करना— अब गुजरे जमाने की बात हो चली है। इन दिनों मार्केट में डिफरेंट-डिफरेंट शेड्स के आईलाइनर उपलब्ध हैं, जैसे-

  • ब्लू, ग्रीन, कॉपर, पिंक, ग्रे, सिल्वर, ब्राउन आदि शेड्स इस समय फैशन में इन दिनों बहुत ही प्रचलन में है।
  • आप अपनी सुविधा के अनुसार इन्हें किसी भी रूप में, जैसे-लिक्विड, जैल, पेंसिल, पेन और केक फार्म में इस्तेमाल कर सकती हैं।
  • ये लाइनर शिमर फार्म में भी मिलते हैं। यदि आप कहीं जल्दी में हैं और आईशैडो लगाने का वक्त नहीं है तो आप सिर्फ शिमर मिक्स लाइन का भी प्रयोग कर सकती हैं।
  • गर्मी और बरसात के दिनों में वॉटरप्रूफ लाइनर का इस्तेमाल बेहतर होता है।

लगाने की विधि-

  • आईलाइनर को हमेशा नाक की तरफ से लगाना शुरू करना चाहिए और उसे आईज के ऑउटर कार्नर तक लेकर जाना चाहिए।
  • आईलाइनर लगाते समय आंखों की शेप को जरूर ध्यान में रखें।
  • मोटी आंखों को अगर और भी खूबसूरत बनाना है तो आईलाइनर बाहर की ओर निकलता हुआ लगाएं, इससे बिलकुल मृगनयनी सी आंखें लगेंगी।
  • यदि आंखें छोटी हैं तो पतला लाइनर लगाएं, चाहें तो बीच में और नीचे की ओर मोटा लगा सकती हैं।
  • आप चाहें तो ब्लैक और कलर्ड आईलाइन को एक साथ एप्लाई कर सकती हैं। इसके लिए सबसे पहले आंखों पर ब्लैक लाइनर से एक लाइन बना लें और फिर आई-रिम पर उसके ऊपर टच करते हुए दूसरा कलर लाइनर लगा लें।

काजल-

Eye Makeup
Kajal

काजल न सिर्फ आंखें और चेहरे की खूबसूरती को बढ़ाता है, बल्कि खूबसूरती को नजर लगने से भी बचाता है।

  • काजल— क्रीम, स्टिक, पेंसिल और जैल के रूप में मिलते हैं।
  • स्मजिंग की प्रॉब्लम से बचने के लिए आप वॉटरप्रूफ काजल का इस्तेमाल कर सकती हैं।
  • वैसे यदि काजल लगाने से पहले उसे फ्रिज में रख लें तो वो ज्यादा देर तक आंख पर टिका रहता है। इसके अलावा काजल पेंसिल को फ्रिज में रखने से वो शार्प अच्छे से होती है और यूज करने पर फिनीशिंग भी परफेक्ट आती है।
  • छोटी आंखों वालों को काजल लगाने से थोड़ा बचना चाहिए। आप काजल की बजाय सफेद पेंसिल का इस्तेमाल कर सकती हैं।

मस्कारा-

Eye Makeup
Mascara

हम सभी की जिंदगी में ऐसे कई खास पल आते हैं, जिनमें जुबां कुछ नहीं कह पाती लेकिन पलकें अपना जादू चला जाती हैं। पलकों के इस जादू को नशीला बनाने के लिए मस्कारा का इस्तेमाल किया जाता है। मस्कारा आई-मेकअप को फाइनल टच देता है जिससे आंखें खूबसूरत और बड़ी नजर आती हैं।

मस्करा के प्रकार

  • मस्कारा— जैल, केक और लिक्विड तीनों ही वैरायटी में मार्केट में मिलते हैं। इनकी मदद से आप पलकों को रंगीन व खूबसूरत लुक दे सकती हैं।
  • इन दिनों मस्कारा ब्लैक व ब्राउन के साथ-साथ और भी कई रंगों में मिलते हैं।
  • यदि आपकी लैशिस नैचुरली थिक एंड लॉन्ग हैं, तो ऐसी पलकों पर ट्रांस्पेरेंट मस्कारा भी अच्छा लगता है।
  • इसके अलावा इन दिनों आपकी जरूरत और पसंद के अनुसार भी मार्केट में मस्कारा उपलब्ध हैं। उदाहरण के तौर पर लैशिज को लेंथ देने के लिए लेंदनिंग मस्कारा, घना करने के लिए वॉल्यूमाइजिंग मस्कारा, लैशिज को घुमावदार रूप देने के लिए कर्लिंग मस्कारा और सभी इफैक्ट एक साथ पाने के लिए हाई इंपैक्ट मस्कारा।

मस्कारा लगाने की विधि-

  • मस्कारा लगाने से पहले लैशिज को आईलैश कर्लर से कर्ल कर लें, फिर मस्कारा लगाएं। इससे पलकें ज्यादा घुमावदार लगती हैं।
  • मस्कारा हमेशा पलकों के रूट से होते हुए टिप पर लगाएं, इससे पलकें लंबी और कर्ली दिखाई देती है।
  • ऊपरी पलकों के लिए अपवर्ड स्ट्रोक और निचली पलकों के लिए डाउनवर्ड स्ट्रोक में मस्कारा एप्लाई कीजिए।
  • ब्रश में थोड़ा-थोड़ा मस्कारा ही लें। यदि ब्रश में ज्यादा मस्कारा आ जाए तो उसे टिशू पेपर से पोछ लें।
  • पलकों पर यदि ज्यादा मस्कारा लग जाएं तो उसे ब्रश की मदद से ही हटाएं।
  • यदि मस्कारा लगाते समय आंखों के आस-पास लग जाए तो उसे सूखने के बाद ही हटाएं। हटाने के लिए टिशू पेपर या कॉटन पर पैट्रोलियम जैली लें और हल्के-हल्के से पोंछ लें।
  • मस्कारा का डबल कोट लगाना है तो दूसरा कोट, फर्स्ट कोट के सूखने के बाद ही लगाएं।
  • यदि आपको कॉन्टैक्ट लेंस पहनना है तो मस्कारा लगाने या आई-मेकअप शुरू करने से पहले ही पहन लें।
  • लंबे समय तक आंखों में मस्कारा टिकाने के लिए वॉटरप्रूफ मस्कारा का इस्तेमाल कीजिए।
  • यदि आपकी पलकें बहुत हल्की हैं, तो उन पर केवल मस्कारा लगा लेने से गुज़ारा नहीं होगा। इस स्थिति में आप पलकों को घना व लंबा करने के लिए आर्टीफिशियल लैशिज का इस्तेमाल कर सकती हैं। इन लैशिज को नैचुरल लैशिज के साथ मर्ज करने के लिए उन्हें कर्लर से कर्ल कर लें और फिर उन पर मस्कारा का एक कोट लगाएं।

आईब्रो पेंसिल या आईब्रो कलर-

Eye Makeup
Eye Pencil

खूबसूरती में बाधा डालने वाली छोटी से छोटी प्रॉब्लम का भी मेकअप की दुनिया में सल्यूशन है। आईब्रोज का कलर लाइट है या फिर उनमें कोई कट है तो इस कमी को आप आईब्रो पेंसलि या आईबो कलर लगाकर छुपा सकती हैं।

आईब्रो पेंसिल के प्रकार-

ये ब्लैक और ब्राउन कलर में मिलती हैं। इसे खरीदते वक्त इस बात का खास ख्याल रखें कि ये आपके बालों के कलर से मैच करती हुई हो

आईब्रो पेंसिल या कलर लगाने की विधि-

  • यदि आप पेंसिल लगा रही हैं तो पहले उसे शार्प कर लें और इसे आईब्रो के बालों की ग्रोथ के अनुसार स्ट्रोक्स में लगाएं। इसके अलावा अगर बालों की ग्रोथ बहुत कम या लाइट है तो आप अपनी पसंद व जरूरत के आधार पर आईबो को शेप दें।
  • यदि आप कलर का इस्तेमाल कर रही हैं, तो एंगुयलर ब्रश में अपने बालों से मैच करता हुआ कलर लें और उसे अपनी आईब्रो की शेप के अनुसार लगा लें।

Leave a comment