googlenews
Grahlakshmi
 Hair Care तो सिलसिले को आगे बढ़ाते हुए आज हम आपको कुछ ऐसा बता रहे हैं जिससे न सिर्फ आपकी पर्सनैलिटी में चेंज आएगा बल्कि इससे आपकी खूबसूरती में चार चांद लग जायेंगे। 
 
लड़कियों की पर्सनैलिटी में हेयर कट का अहम रोल होता है। आपके चेहरे के हिसाब से की गई हेयर कटिंग न सिर्फ आपकी सुंदरता बढ़ाती है बल्कि इससे आपकी फीचर्स भी हाइलाइट होते हैं। तो आइए जानते हैं हेयर कट से जुड़ी कुछ बातें- 
हेयर स्टाइलिस्ट से पूछें हेयर कट- 
कई बार ऐसा होता है जब भी हम पार्लर अपने बालों की कटिंग के लिए जाते हैं तो पहले से सोच कर रखते हैं कि अपने बालों को इस बार कैसे कटवाना है। अपने बालों को कटवाने से पहले हेयर स्टाइलिस्ट से ज़रूर पूछें कि आपके फेस पर कौन सा हेयर स्टाइल अच्छा लगेगा। उस हेयर स्टाइल का सैंपल उन्हें दिखाने को कहें और उसके बाद हेयर कटिंग कराएं।
बालों की वॉल्यूम के हिसाब से लें हेयर कट-
जब भी आप हेयर कट के लिए पार्लर जाएं तो अपने बालों की वॉल्यूम के हिसाब से हेयर कट कराएं। अगर आपके बाल बहुत पतले हैं तो भूलकर भी लेजर कट न करवाएं, क्योंकि ये कट बालों को और भी ज्याादा पतला और कम दिखाएगा। पतले बालों में सिंपल कट करवाएं, इनसे बालों में वॉल्यूम आएगा और वे घने भी दिखेंगे।
समय-समय पर हेयर कट करवाना न भूलें-
बालों को स्वस्थ रखने के लिए हर 6 महीने में उन्हें ट्रिम करवाते रहें। इससे वे कमजोर होकर नीचे से दो मुंहे नहीं होंगे। कोई भी हेयर कट कराने से पहले रफ हेयर जरूर कटा लें। हालांकि, इससे लेंथ ज़रूर कम हो जाती है लेकिन ऐसे करने से आपके बाल लम्बे समय तक अच्छे बने रहे और इनके जल्दी ख़राब होने की संभावना कम हो जाती है। समय-समय पर बाल ट्रिम करवाने से बाल और भी ज़्यादा हेल्दी और स्वस्थ दिखते हैं।
गलत हेयर कलर न हो जाए-
हेयर कटिंग के साथ-साथ अगर आपका मन हेयर कलर का भी हो रहा है तो अपनी स्किन टोन के अनुसार ही बालों का कलर चुनें। जैसे अगर आपकी रंगत गोरी है तो आप हल्का ब्राउन या बालों में हाई लाइट्स करा सकती हैं। वहीं, अगर आप थोड़ी सांवली हैं तो भी हाई लाइट्स के साथ आप बरगंडी कलर भी करा सकती हैं। ये दोनों कलर हर तरह के स्किन टोन में अच्छे लगते हैं। 
आमतौर पर भारतीय महिलाओं पर चमकदार रेड, बरगंडी और कॉपर रेड कलर अच्छे लगते हैं लेकिन स्किन टोन को ध्यान रखते हुए हनी बोलोन्ड कलर अच्छा ऑप्शन हो सकता है। ये कलर इन दिनों काफी प्रचलन में है और हर कोई इसे करा भी रहा है।
ब्लो डायर से बचें- 
हेयर कट कराने के बाद कोशिश करें, कि ब्लो डायर न कराएं। इससे बाल डैमेज होने के साथ हेयर कट भी कुछ अजीब दिखने लगता है यानी ब्लो डायर के दौरान आपके बाल सेट नजर आएंगे लेकिन बाद में ये आपको रूखे और बेजान लगेंगे। कई बार हेयर कटिंग के बाद तुरंत ब्लो डायर करवाने से कटिंग सही पता नहीं चलती इससे बाद में आपको निराशा होगी। 
ब्लो डायर से बालों के ख़राब होने के चांस और बढ़ जाते हैं। अगर आपके बाल पतले, और रूखे हैं तो कोशिश करें कि ब्लो डायर से दूर ही रहे। इससे कुछ समय के लिए भले ही आपके बाल अच्छे लगे लेकिन ये जल्दी ख़राब हो जायेंगे।