googlenews
healthy-diet-in-hindi-soybean-essential-diet-for-women

Healthy diet in Hindi : Soybean essential diet for women

Healthy diet in Hindi : सोयाबीन हमारे शरीर को संपूर्ण पोषण देता है। यह महिलाओं में होने वाली स्वास्थ्य संबंधी परेशानियों जैसे- माहवारी और कैल्शियम की कमी में कारगर साबित होता है।

सोयाबीन हमारे भारतीय घरों में खाया ही जाता है। अकसर स्वाद के लिए खाया जाने वाला सोयाबीन हेल्थ के लिए भी बेस्ट है। इसको सम्पूर्ण पोषण भी कहा जा सकता है। आप शायद इसे खाने में शामिल करती हों मगर अभी भी कई लोग इसे खाने से बचते हैं। इसलिए ऐसे लोगों को इसकी खासियत तो पता होनी ही चाहिए।

उनको पता होना चाहिए कि सोयाबीन कैसे फिट बनाए रखने में मदद करता है। इसके सेवन से कैसे सारा जरूरी पोषण मिल जाता है। फिटनेस के लिए ये बेहद जरूरी है। आप भी फिट होने की कोशिशें कर रही हैं तो सोयाबीन को अपना साथी बना लीजिए। इससे मिलने वाला पोषण आपके बहुत काम आएगा। क्यों है सोया सभी के लिए फायदेमंद जान लीजिए

पेड़-पौधों से मिलने वाला प्रोटीन

पेड़-पौधों से मिलने वाले प्रोटीन में सोयाबीन को बेस्ट माना जाता है। शाकाहारी लोग प्रोटीन के लिए इसका इस्तेमाल कर सकते हैं। उन्हें जबरदस्ती अंडा खाने की जरूरत नहीं है। आप सोयाबीन का सेवन करें और फिट रहें।

हड्डियां होंगी मजबूत

आजकल जोड़ों के दर्द की समस्या तो तकरीबन सभी हो है, ऐसे में सोयाबीन आपकी मदद कर सकता है। सोयाबीन में प्रोटीन के साथ आइसोफ्लेवोंस भी होता है। आइसोफ्लेवोंस एक तरह का बायोएक्टिव कम्पाउंड होता है, जो हड्डियों की मजबूती के लिए काम करता है। सोयाबीन के नियमित इस्तेमाल से हड्डियां मजबूत होती जाती है। साथ ही छोटी चोटों में हड्डियां टूटने का खतरा भी कम हो जाता है। आप अंदर से मजबूत हो जाते हैं।

डायबिटीज के लिए सोयाबीन

ये बहुत कम लोग जानते हैं कि सोयाबीन डायबिटीज में भी लाभकारी है। सोयाबीन लो ग्लाइसेमिक इंडेक्स फूड है, इसमें कार्बोहाड्रेट और वसा बहुत कम होते हैं। इस वजह से इसे डायबिटीज के मरीजों के लिए अच्छा माना जाता है। साथ ही इसमें पाया जाने वाला प्रोटीन ग्लूकोज को भी कंट्रोल करता है। इसलिए डायबिटीज है तो सोयाबीन का सेवन बिना किसी चिंता के किया जा सकता है। ये मरीजों को स्वाद देने के साथ सेहत देने का काम भी करेगा।

घटेगी चर्बी

बाकी समस्याओं की तरह मोटापा भी अब एक बड़ा हेल्थ इशू है। लेकिन सोयाबीन यहां भी मदद करता है। सोयाबीन में प्रोटीन होने के चलते इसको पचाने के लिए खूब एनर्जी की जरूरत पड़ती है, जिस वजह से फैट कम होता है। लेकिन हां, आपको एक्सरसाइज भी करनी ही होगी। इसका सेवन करेंगी तो वजन घटाने में काफी मदद मिलेगी और थोड़ी-सी मेहनत के साथ अच्छे रिजल्ट मिलने लगेंगे।

कोलेस्ट्रॉल को भी करे कम

सोयाबीन खाते हुए आपके शरीर का कोलेस्ट्रॉल भी कंट्रोल होता है। सोयाबीन में पाए जाने वाले आइसोफ्लेवोंस कोलेस्ट्रॉल को आसानी से कंट्रोल कर लेते हैं। आजकल के समय में जब कोलेस्ट्रॉल एक बड़ी समस्या बनी हुई है तब सोयाबीन किसी नेचुरल इलाज से कम नहीं है। एक फायदा ये भी है कि इसको खाने से गुड कोलेस्ट्रॉल में कोई कमी नहीं आती है सिर्फ बैड कोलेस्ट्रॉल ही कम होता है। रिजल्ट में आप हो जाती हैं फिट।

हर किसी की समस्या ब्लड प्रेशर

ब्लड प्रेशर अब हर किसी की समस्या है, बहुत कम उम्र के लोगों को भी अब ये बीमारी घेरे हुए है। ऐसे में सोयाबीन है न। सोयाबीन ब्लड प्रेशर को मेनटेन रखता है। ये रक्तचाप को कम या ज्यादा नहीं होने देता है।

माहवारी हो नियंत्रित

अगर आपको माहवारी से जुड़ी कोई भी दिक्कत है तो भी सोयाबीन आपकी पूरी मदद करेगा। दरअसल मासिक धर्म समय पर हो, इसके लिए एस्ट्रोजेन हार्मोन की शरीर में मात्रा सही होनी चाहिए। सोयाबीन इसी मात्रा को सही करते हैं। पीरियड्स के दौरान या पहले होने वाली शारीरिक दिक्कतों में भी सोयाबीन का आहार काफी मदद करता है।

सब पर छाया डिप्रेशन

डिप्रेशन भी अब एक ऐसी समस्या है जो लगभग सभी पर हावी है। इस वक्त सोया धीरे-धीरे इसका इलाज करता है और साथ में नींद का इलाज भी करता चलता है। जब मेंटल प्रॉब्लम नहीं होती हैं तो नींद भी तो अच्छी आती है। नींद अच्छी आती है तो आप रिफ्रेश उठते हैं और अपने काम जोश के साथ कर पाते हैं।

Leave a comment