सेक्स/संभोग के दौरान कभी कभी ऐसी बातें हो जाती हैं जिसकी वजह से महिलाओं का आत्मविश्वास डगमगा जाता है।सेक्स का भरपूर आनंद लेने के बजाय वो हर समय डरी रहती हैं कि अगर सेक्स प्रक्रिया के दौरान ऐसा हो गया तो क्या होगा?

   सेक्स के दौरान मल त्याग की इच्छा साधारण नहीं है,फिर भी देखा गया है,किसी निश्चित सेक्चुअल पोज़िशन्स में होने पर महिला को मल विसर्जित (facial incontinence)करने की इच्छा,महसूस होने लगती है।२०१३ में हुए एक शोध के अनुसार ये पाया गया कि,ऐसा उन महिलाओं के साथ अधिक होता है जिन्हें सेक्स में रुचि नहीं होती या जिन्हें सेक्स से भरपूर संतुष्टि प्राप्त नहीं होती।दूसरे इन महिलाओं को ,योनि में सूखेपन की भी शिकायत रहती है,जो स्वस्थ और सुखद सेक्स में बाधक सिद्ध होती है।

क्यों होता है ऐसा-जानते हैं उन कारणो को जिनकी वजह से इंटरकोर्स के समय ये इंकोंटिनेन्स महसूस होता है-

सेक्स पोज़ीशन-महिला की पोज़ीशन की वजह से उसके पेट पर दबाव पड़ता है जिससे उसका गुदा मार्ग भी दबाव महसूस करने लगता है।लेकिन ये ज़रूरी नहीं ,कि, प्रेशर महसूस होते ही आप मल त्याग की इच्छुक हों।

और्गैज़्म-देखा गया है कि,कुछ महिलाओं का प्रसव के समय मल निकल जाता है।ऐसा ही कुछ महिलाओं के साथ और्गैज़्म के सामय भी होता है,क्योंकि और्गैज्म मूत्र नालिकाओं में संकुचन पैदा करता है।जिससे महिला का मल बाहर निकल जाता है।

दूसरे और्गैज्म के समय प्रोसटाग्लैनडिंस हॉर्मोन उत्सर्जित होते है। इससे गर्भाशय संकुचित होता है और आपके पेल्विक पोर्शन पर रक्त प्रवाह बढ़ने से ल्यूब्रिकेशन बढ़ जाता है। ये अतिरिक्त ल्यूब्रिकेशन कभी कभी,मल या मूत्र त्याग की इच्छा को उग्र कर देता है।

गुदा सेक्स-शरीर की कई नसें गुदा तक जाकर समाप्त हो जाती हैं।गुदा सेक्स से महिला  की गुदा नालिका नम हो जाती है। जिससे मल आसानी से बाहर निकल जाता है।

गुदा मार्ग के साथ ज़रा सी छेड़खानी करते ही (छोटी सी उँगली/या सपोजिटरी) डालने से ही मल त्याग की इच्छा बढ़ जाती है।फिर ऐसे में, गुदा सेक्स करते समय मल त्याग करने की सम्भावना बढ़ना स्वाभाविक ही है।

हेमोरोईड्स या रेक्टल प्रट्रूज़ंज़-जिन महिलाओं को क़ब्ज़ या गुदा पर या गुदा के अंदर कभी कोई घाव होता है,उनका भी एनल सेक्स के समय ,कई बार मल निकल जाता है।

समाधान- हालाँकि हर महिला के साथ ऐसा नहीं होता लेकिन जिसके साथ भी ऐसा होता है उसे शर्मिंदगी का अहसास होना लाज़मीं है। 

ये कुछ सुझाव जिन्हें अपनाकर काफ़ी हद तक इस समस्या से बचाव हो सकता है-

१-सेक्स से पहले बाथरूम जाकर ख़ुद को हल्का करना न भूलें।

२-पानी पिएँ,फ़ाइबर,युक्त  चीज़ों का सेवन करें।नियमित व्यायाम करें।इससे आपकी क़ब्ज़ की आदत जाती रहेगी और सेक्स के समय आप हल्का महसूस करेंगीं।

३- यदि फिर भी समस्या नहीं सुलझती तो एनिमा लें।

४- सेक्स पोज़ीशन बदलें।

५-यदि फिर भी मलत्याग की इच्छा महसूस हो रही है तो अपने पार्ट्नर से कहने में न हिचकें ।

यह भी पढ़ें-

सेक्स जीवन का महत्वपूर्ण हिस्सा है

सेक्स के बाद अगर होती है एंजाइटी,तो अपनाये ये टिप्स