googlenews
Bedroom Blackmail: कहीं आप तो नहीं हो रही हैं बेडरूम में ब्लैकमेलिंग का शिकार
Avoid Bedroom Blackmailing

Bedroom Blackmail: एक मल्टीनेशनल कंपनी में काम करने वाला 32 वर्षीय सोमेश कहने को बहुत खुले विचारो का है लेकिन अपनी पत्नी अशिता की हर समस्या का उसके पास एक ही जवाब था – उसे चूमना और सेक्स के लिए बिस्तर पर ले जाना। अशिता तो शुरू -शुरू में इसे सोमेश का प्यार समझती थी। लेकिन धीरे – धीरे उसे महसूस होने लगा कि समस्याओं से भागना सोमेश की आदत रही है। यही वजह है कि अब वो ऐसी स्थिति में अलग बिस्तर पर सोती है। उसे लगता है कि उसने अपनी बात रखने का नया तरीका ढूंढ निकाला है। लेकिन यहां भी सोमेश हार नहीं मानता है। कुछ दिनों तक ऐसा ही चलने के बाद वह फिर कोई न कोई उपहार लाकर अशिता को मना ही लेता है। यहां गलती सोमेश और अशिता दोनों की है। सोमेश इस तरह से अपनी पत्नी से दूर होता चला जाएगा और अशिता सेक्स के प्रति रूचि दिखा कर इसी दूरी को बढ़ा रही है। ‘तुम मेरी बात सुनो वरना मैं तुम्हें ना तो प्यार करूंगी और न ही करने दूंगी, अशिता को इस तरह से सेक्स में इमोशनल ब्लैकमेलिंग की बजाय सोमेश को यह कहना चाहिए, ‘मैं उस व्यक्ति के साथ खुद को नहीं बांटना चाहती, जो मेरी समस्याएं नहीं समझना चाहता। इस तरह से आमने – सामने बात करने से दोनों कंफर्ट महसूस करेंगे और बातों को सुलझा पाएंगे।

बिस्तर पर इमोशनल ब्लैकमेलिंग

यह कहानी कई जोड़ों की कहानी है। कई बार तो इस तरह के पल आते हैं और चले जाते हैं। लेकिन कई बार जब पति या पत्नी में से कोई भी झुकने को तैयार नहीं होता तो सेक्स लाइफ खराब होती जाती है। रिश्तों में इमोशनल ब्लैकमेलिंग खूब देखी जाती है, खासकर बिस्तर पर। यह बात दोनों को पता होती है कि सेक्स के आगे कई लोग हार जाते हैं, यही वजह है कि वे इसका इस्तेमाल बतौर ब्लैकमेलिंग करने लगते हैं। हम अपने जीवन साथी को लेकर जो भी महसूस करते हैं, वह हमें जताने की जरूरत तो होती ही है। पति – पत्नी के बीच की दिक्कतों को भी प्यार, इज्जत और खुशी से सुलझाने की कोशिश करनी चाहिए। एक बार की दूरी को यदि खत्म न किया जाए तो वह धीरे – धीरे लंबी दूरी का रूप ले लेती है। वैसे बात तो यह भी सच है कि सेक्स के दौरान, आपसी असहमित को लाना सेक्स लाइफ को खराब कर सकता है और इसके दूगामी परिणाम भी देखने को मिल सकते हैं। सच तो यह भी है कि सेक्स के दौरान जब तक पति – पत्नी एक – दूसरे के साथ रिलैक्स नहीं महसूस करते, भावनाओं और खुशी का संचार स्वत: नहीं होता।

सेक्स को न बनाएं हथियार

यह भी समझने कि जरूरत है कि वैवाहिक ज़िन्दगी की शुरुआत में स्वत: ही आकर्षण और सेक्सुअल उत्साह बना रहता है। इस दौरान यदि पति या पत्नी को कोई बात परेशान भी करती है तो वे इसे तवज्जो नहीं देते हैं, बल्कि प्यार और रोमांच की लय में बहते चले जाते हैं। जबकि जब शादी को कुछ समय बीत जाता है, तो ये रूटीन सा बन जाता है। दिन- प्रितदिन छोटी -छोटी बातें भी दुःख देने लगती हैं। यदि पति और पत्नी में आपसी समझ न हो तो यह झगड़े का रूप ले लेती हैं और नस्तर की तरह चुभने लगती हैं। इसके बाद से सेक्स को लेकर आपकी रूचि कम होने लगती है। जैसे ही यह स्थिति आए, दोनों को इस पर बात करनी चाहिए न की एक दूसरे से नाराज हो कर मुंह फेर लेना चाहिए। क्योंकि बात करने से बड़ी से बड़ी समस्या का हल निकल आता है।

सेक्स को लेकर अप्रोच नहीं सही

बेडरूम ब्लैकमेलिंग को आसानी से पहचाना जा सकता है। कई दफा तो सीधे शब्दों में आपका साथी आप से कह देता है – मैं नहीं चाहता कि तुम नौकरी करो, क्योंकि मैं तुमसे बहुत प्यार करता हूं। या फिर यदि तुमने अपनी मां को नहीं समझाया तो हमारे बीच सेक्स नहीं होगा। यदि बार-बार इस तरह की बातें आपका जीवन साथी कर रहा है तो समझजाइए कि वह ‘बेडरूम ब्लैकमेलिंग का इस्तेमाल कर रहा है।

बेडरूम ब्लैकमेलिंग से बचने के टिप्स

1. बेडरूम ब्लैकमेलिंग से बचने के लिए उपाय तो आपको ही ढूंढने होंगे ताकि आपकी सेक्सुअल लाइफ खराब न हो। आप जानती हैं कि एक बार आपकी सेक्सुअल लाइफ खराब हो गई तो फिर दूरियां दिन प्रतिदिन बढ़ती ही जाएंगी।

2. सबसे पहले अनुरोध और मांग में अंतर करना सीखें। मांग वह है, जब आपका साथी अपनी बात न मनवा पाने के बाद प्यार/सेक्स न करने दे। आपसे दूरी बना कर रहे।

3. वह आप पर पहले तो चिल्लाए, डांटे, फिर बाद में आप को प्यार करने लगे और कहे कि पुरानी बातों को भूल जाओ। सेक्स के बाद हमें अच्छा महसूस होगा। यहां आप को अपने पति/ पत्नी को इज्जत, प्यार, विश्वास का पाठ सीखा ने की जरूरत है।

 4. उसे यह समझाने की कोशिश तो करें ही सेक्स को बीच में लाकर किसी भी समस्या का समाधान नहीं किया जा सकता है। यदि आप उसके दबाव के आगे घुटने टेकती हैं तो वह कभी भी आप की इज्जत नहीं करेगा।

 5. आपको अपनी बात पर टिके रहने की जरूरत है, लेकिन साथ ही आप को अपनी बातों को रखना भी आना चाहिए। उसे यह जताइए कि झगड़े के बीच सेक्स को लाना किसी के भी हित में नहीं है।

Leave a comment