क्या आपको लगता है कि कुछ साल पहले तक आप और आपके पति मिलकर काफी मजेदार चीज़ें करते थे? लेकिन अब आपका पति टीवी के सामने से उठाना या सोफे पर बैठे-बैठे मोबाइल में आंखें गढ़ाए रहते हैं और उन्हें बिलकुल अच्छा नहीं लगता है जब आप अपने ‘काउच पोटैटो’ हसबैंड को किसी काम के लिए उठने पर मजबूर करती हैं। अगर आप भी अपने पति के आलसी रवैये से परेशान हैं, उन्हें अब काउच पोटैटो नहीं बने रहने देना चाहती हैं और उनकी व अपनी लाइफ़ में फिर वही एक्साइटमेंट लाना चाहती हैं तो आपको कुछ टिप्स को अपनाने ही पड़ेंगे।

आलसी पति के साथ डील करना एक कठिन टास्क है, लेकिन यह असंभव नहीं है। ऐसी कुछ चीजें हैं जिसके ज़रिए आप उनके घर में हाथ न बटाने या उनके अपने करियर के लक्ष्यों से गायब हुई रूचि को फिर ला सकती हैं।

सबसे पहले बात करें

लाइफ़स्टाइल को बदलने का सबसे अच्छा तरीका है कि आपके आलसी पति से रोजाना बात करें। उनसे बातचीत की शुरुआत इससे करें कि वे कैसा महसूस कर रहे हैं और आप महसूस करते हैं कि आप उनके आलस के कारण घर या परिवार के लिए बहुत सारी जिम्मेदारियां उठाती हैं। यदि आप उनसे उनके प्रयासों के बारे में बात करते हैं और उनकी पत्नी के रूप में आप शादी करने के बाद से किसी भी चीज़ के प्रति उनके रवैये में बदलाव से निपटने में मुश्किल महसूस कर रही हैं, तो घर में कुछ भी हो सकता है। किसी भी शादी में यह सुनिश्चित करने के लिए कम्यूनिकेशन महत्वपूर्ण है कि समस्याओं पर ध्यान दिया जाए और एक पत्नी और पति के बीच एक नई समझ तक पहुंचा जा सके।

गुस्से और आलोचना से बचें
अब पति को सामान्य की तरफ लाने में पहला कदम है कम से कम आलोचना और गुस्सा नहीं है। ऐसे में रिश्तों में मनमुटाव भी हो सकता है। पहले तो समझना होगा कि उनके इस रवैया का असली कारण क्या है। कई बार ऑफिस की टेंशन के कारण या किसी भी तरह के डर के कारण पति एक जगह बैठना पसंद करता है। इसलिए पहले तो पति की साइकोलॉजी समझना जरूरी होगा। हो सकता है कि वह पहले से ही अपने से परेशान हो और उसमें आपका गुस्सा और आलोचना बुरा असर करे।

मदद जरूर मांगिए
कभी-कभार पति आलसी रवैया रख रहा हो तो कोई बात नहीं लेकिन यह चीज लंबी चले तो सोचने वाली बात है। इसलिए इतना भी सपोर्ट न करें उनकी गलत आदत को। कई महिलाएं परेशान होती रहती है लेकिन पति की हर हरकत को सहती है। अगर आपको अपने घर या बाहर के काम में पति की मदद चाहिए तो ज़रूर मांगिए। वह ना भी कर सकते हैं लेकिन आपको मदद मांगना बंद नहीं करना चाहिए।

तारीफ ज़रूर करें
पति इन दिनों काउच पोटैटो हैं लेकिन उन्होंने आपकी किसी भी तरह से कोई मदद की हो तो उनकी तारीफ करना न भूले। इससे उन्हें आगे काम करने में प्रोत्साहन मिलेगा।

ज्यादा उम्मीद न करें
आप सोचती हैं कि पति का आलसी रवैया दो दिन में दूर हो जाएगा तो ऐसा नहीं हो सकता है। अगर उनका आलसी रवैया दूर करना है तो वह धीर-धीरे ही होगा। उनसे बहुत ज्यादा उम्मीद न लगाएं, वरना इससे खुद को ही दुख पहुंचेगा। आप चाहें तो उनसे आराम से या प्यार से बात बताएं और फिर उनका रिएक्शन देखें। पहले से ही उम्मीद न लगाएं।

फिज़िकल एक्टिविटी के लिए प्रोत्साहित करें
अपने पार्टनर की आलस को भगाने का सबसे शानदार तरीका हैं उन्हें फिज़िकल एक्टिविटी के लिए एनकरेज करना। एक्सरसाइज़ या योग करवाने का सोच रही हैं, तो थोड़ा उनके साथ रहें ताकि वह इसमें उबाऊ महसूस न करें। फिज़िकल फिटनेस के लिए कोई फन एक्सरसाइज तलाशें।

बच्चों के सामने चुप रहें
आपने कोई काम पति को कहा है लेकिन वह सही तरीके से रिस्पॉन्स नहीं कर रहे हैं तो उन्हें कम से कम बच्चों के सामने भला-बुरा न कहें। इससे वह सुधरने की बजाए और गलत राह पर जाएंगे। उन्हें महसूस होना चाहिए कि बच्चों के सामने उन्होंने सही उदाहरण पेश नहीं किया है। अगली बार वह खुद इस बारे में ध्यान रखने की कोशिश करेंगे।

खुद पॉज़िटीव रहें
यह मान के चलिए कि आप अपने पार्टनर की पेड ट्रेनर नहीं है। यह आपका काम नहीं है कि उन्हें काउच से उठाकर खड़ा किया जाए। उन्हें तब ज़रूर एनकरेज करें जब वह कोई सकारात्मक प्रयास करते दिखें और ऐसा करने में विफल रहे तो चुपचुपा सपोर्ट करें। हार नहीं मानें। एक अच्छा उदाहरण सेट करें और वह भी अपने एक्शन के साथ।

छोटे-छोटे काम दें
अगर आप सोचती हैं कि आपके एक बार कहने पर पति सरपट दौड़ने लगेगा तो यह आपकी गलती है। अगर पति काउच पोटैटो है तो उन्हें पहले तो घर के छोटे-छोटे काम सौंपिए। बेहतर होगा कि आप पहले ऐसे काम करवाएं जो कि उन्हे उनके फेवरेट काउच पर बैठकर करने वाले हों। अब वह भले ही ऑनलाइन बिजली का बिल भरना हो, या फिर अपना सामान ऑर्डर करना हो, या ऐसा भी हो सकता है कि आपको बच्चों के ट्यूशन टीचर से बात करनी हो। कुछ भी ऐसा जो पहले वह अपने काउच पर बैठकर कर सकें। उसके बाद आप उन्हें उसी रूम के लिए कुछ काम दें। जैसे कि ज़रा मुझे पेपर थमा दोगे या फिर जैसे कि ज़रा डाइनिंग टेबल से अचार की बरनी किचन में दे दोगे।

घरवालों का चाहिए सपोर्ट
अकेली आप ज्यादा देर तक चीजें हैंडल नहीं कर सकती हैं, इसके लिए घर के अन्य सदस्यों और बड़े-बूढ़ों का भी सहयोग चाहिए। सास यानी आपके पति की मां को अपने बेटे को इतना लाड़-दुलार करने की ज़रूरत नहीं है कि बेटा अपने ही परिवार के दुख का कारण बन जाए। आपको खुद अपनी सास को इस बात के लिए समझाना होगा कि उनके बेटे का आलसी रवैया वास्तव में उनके लिए ही खराब है। उन्हें समझाना होगा कि आलस की वजह से वह खुद के साथ गलत करने के साथ परिवार की खुशियों में भी परेशानी खड़ी कर रहा है।

अब जो भी हो आपको बागडोर संभालनी होगी अपने आलसी पति के रवैये से छुटकारा पाने की। परेशान होने से अच्छा है कि आप इस मैदान में उतर जाइए और जीत कर ही लौटिए।

गुस्सैल पति को ऐसे करें हैंडल, काम आएंगे ये 8 टिप्स: Husband Control Tips

यहां जानिए 5 फेमस अमेरिकन फूड रेसिपीज़