दो दिलों को खूबसूरत रिश्ते में जोड़ने का नाम है शादी। ये  रिश्ता दो दिलों को तो मिलाता ही है साथ ही इससे जुड़ते हैं और भी बहुत सारे अनमोल रिश्ते जो उस अटूट बंधन के साक्षी बनते है जिसे हम शादी का बंधन कहते हैं। कहा जाता है किसी भी रिश्ते की अहमियत तब और ज़्यादा बढ़ जाती है जब माता -पिता की सहमति की मुहर उसमें लग जाती है। जब आप एक सीरियस रिलेशनशिप में हैं तो आपको लड़की और लड़के दोनों के पेरेंट्स से इस रिश्ते की सहमति ज़रूर लेनी चाहिए। यदि आप अपनी गर्लफ्रेंड के पेरेंट्स से पहली बार मिलने जा रहे हैं तो अपनाएं कुछ ख़ास ट्रिक्स जिससे आपका फर्स्ट इम्प्रेशन लास्ट इम्प्रेशन बन जाए और लड़की के पेरेंट्स बिना किसी हिचकिचाहट  के आपको  अपने परिवार में शामिल कर लें। 
 
अपने पहनावे पर ध्यान दें 
अभी तक जब आप सिर्फ अपनी गर्लफ्रेंड से मिलते थे आपको कभी ये सोचने की ज़रुरत नहीं पड़ी होगी कि आपको क्या और कैसा पहनना है। लेकिन जब आप उसके माता-पिता से मिलने जा रहे हैं तो आपको अपने पहनावे पर विशेष ध्यान देने की ज़रूरत है। ध्यान रखें कि आपके कपड़े बहुत ज्यादा सिकुड़े नहीं होने चाहिए कपड़ों को ठीक से आयरन करके ही पहनें। आपके जूते साफ़ होने चाहिए और आपके कपड़ों से मैच करते हुए होने चाहिए। अपनी गर्लफ्रेंड से एक बार इस बात पर चर्चा ज़रूर करें की उसके पेरेंट्स की किस तरह का पहनावा पसंद है और उसी के आधार पर कपड़ों का चयन करें।
 
कभी भी खाली हाथ न जाएं 
 
गर्लफ्रेंड के पेरेंट्स से मिलने जाते समय ये बात ध्यान में रखना बहुत ज़रूरी है कि आप कभी भी खाली हाथ उनके घर न जाएँ। उपहार एक ऐसा जरिया है जो संबंधों में प्रगाढ़ता लाता है। आप उनकी पसंद के हिसाब से कोई गिफ्ट ले सकते हैं जैसे फूलों का सुन्दर सा बुके और उनकी पसंद की कोई मिठाई। इसके अलावा यदि उन्हें संगीत पसंद है तो ब्लू टूथ स्पीकर या फिर एमपीथ्री प्लेयर गिफ्ट कर सकते हैं। यदि आप किसी वजह से कुछ नहीं ला पा रहे हैं तो उनके घर के इंटीरियर की या फिर उनके बगीचे की तारीफ़ अच्छे ढंग से करें। 
 
कुछ खास प्रश्नों के लिए तैयार रहें 
जब आप अपनी गर्लफ्रेंड के पेरेंट्स से मिलने जा रहे हैं तो उसके परिवार के इतिहास के बारे में पूरी जानकारी होनी चाहिए। इसके आलावा कुछ महत्त्वपूर्ण प्रश्नों के लिए तैयार रहें  जैसे कि आपके भविष्य की योजनाएं क्या हैं , आपके शौक क्या हैं और आपकी पसंद नापसंद क्या है? ऐसे प्रश्नों के सही तरीके से जवाब देने से उसके पेरेंट्स अपनी बेटी का हाथ आपको आसानी से देने के लिए तैयार हो जाएंगे।  
 
 
उसके पेरेंट्स के बारे में पूरी जानकारी लें 
आप उसके पेरेंट्स से  बहुत सारे सवाल पूछें ये बातें आपकी उनके प्रति रूचि को दिखाती हैं। उन्हें जानने के लिए वास्तव में रुचि रखें। आप उनकी रुचियों के  अनुसार अपने आप को ढालने का प्रयास करें।  
 
सीमाओं का ध्यान रखें
जब आप किसी के साथ गंभीर रिलेशनशिप में हैं तो आपको उसके बारे में बहुत सारे सेक्रेट्स भी मालूम होते हैं। ऐसे में यदि आप उसके बारे में कोई ऐसी बात जानते हैं जो उसके पेरेंट्स को नहीं पता है तो उस बात का जिक्र उनके सामने न करें। आपके लिए ज़रूरी है कि अपनी सीमाओं को ध्यान में रखते हुए एक अच्छा श्रोता बनने का प्रयास करें ज्यादा बातूनी बनना आपके लिए अच्छा नहीं है। कोशिश करें कि ऐसी भाषा का प्रयोग करें जो उसके पेरेंट्स आसानी से समझ सकें जैसे यदि वो इंग्लिश में कम्फर्टेबल नहीं हैं तो उनसे हिंदी में बात करें।