googlenews
बचत और निवेश में अंतर: Saving and Investment
Saving vs Investment

Saving and Investment: आमतौर पर लोग बचत और निवेश को एक ही मान लेते हैं, जबकि इन दोनों में बड़ा अंतर होता है दरअसल, देखा जाए तो बचत और निवेश दोनों एक दूसरे से जुड़े हुए हैं, लेकिन फिर भी एक दूसरे से काफी अलग हैं। क्योंकि बचत के बिना निवेश सम्भव नहीं है और बिना निवेश के आप अधिक लाभ नहीं पा सकते हैं। असल में निवेश आपकी की गई बचत का सही उपयोग होता है। चलिए इसे विस्तार से समझते हैं।

क्या है बचत और निवेश

दरअसल व्यक्ति की मासिक आय और उसके खर्च के बीच का अंतर ही बचत होता है। जबकि निवेश उन बचाए गए पैसों को सही जगह लगाकर उसे बनाना है। जैसे कि एफडी, शेयर बाजार, म्यूचुअल फंड आदि निवेश के लोकप्रिय माध्यम हैं।

निवेश के लिए जरूरी है सही प्लानिंग

बचत के लिए व्यक्ति को संयम की जरूरत होती है, जबकि निवेश के लिए समझ की। क्योंकि निवेश एक बड़ा जोखिम हो सकता है, ऐसे में इसके लिए सही प्लानिंग की जरूरत पड़ती है और उसका फैसला काफी सोच समझकर करना चाहिए।

भविष्य के लिए जरूरी है निवेश

जी हां, बचत के साथ निवेश करना बेहद जरूरी है, क्योंकि समय के साथ महंगाई बढ़ती रहती है। ऐसे में बचत के पैसों को रखने कि बजाए इसका सही जगह निवेश करना जरूरी है ताकी उसका उन पैसों का सही मूल्य मिल सके।

निवेश में जोखिम से बचें

निवेश में जोखिम की काफी सम्भावना रहती है, ऐसे में सोच समझकर ही निवेश करें। खासकर म्यूचुअल फंड और शेयर बाजार में पैसा लगाने से पहले मार्केट की पूरी जानकारी ले लें। अगर आप किसी तरह की एफडी ले रहे हैं तो अपने एजेंट से उसकी सही जानकारी लेने के बाद ही उसमें निवेश करें।