googlenews
किस्सों का कोना विद नीलेश मिसरा
 
टीवी जर्नलिस्ट रह चुकी शिखा ने कॉमनवेल्थ गेम्स के दौरान बतौर मीडिया मैनेजर अपनी सेवाएं दी। फिर जब बेटे की ज़िम्मेदारियां बढ़ी, तो उन्होंने जॉब छोड़ने का निर्णय लिया। लेकिन घर पर रहकर भी उन्खाहोंने खुद को व्यस्त रखा और खाली बैठने की बजाय अपना लेखन जारी रखा।
शिखा ने रेडियो के पॉपुलर शो “यादों का इडियट बॉक्स विद नीलेश मिसरा” और “यूपी की कहानियां विद नीलेश मिसरा के लिए 50 से ज़्यादा कहानियां लिखी हैं। फिर सावन ऐप के शो ‘टाइममशीन विद नीलेश मिसरा’ और “किस्सों का कोना विद नीलेश मिसरा” के लिए भी कहानियां लिखी। इसके अलावा इनके और कई समाचार पत्र और पत्रिकाओं में कविता, कहानियां और लेख प्रकाशित हो चुके हैं। 
6 साल के लंबे करियर ब्रेक के बाद अब शिखा फिर से बतौर क्रिएटिव मैनेजर काम कर रही हैं।
 
पसंद– लिखना, पढ़ना और घूमना है बेहद पसंद।
 
जिंदगी का मंत्र – सपने खुली आंखों से देखो और उसे जियो।
 
एक शब्द में आप– आत्मविश्वासी।
 
आइडियल – शिखा हर उस शख़्स को अपना आइडियल मानती हैं जो उन्हें एक भी अच्छी चीज़ सीखा दे।
 
आपका सपना-फिल्मों के लिए गाने लिखना।
 

अगर आपको भी बनना है गृहलक्ष्मी ऑफ द डे?

यदि आप भी ‘गृहलक्ष्मी ऑफ़ द डे’ बनना चाहती हैं, तो हमें अपनी एंट्री भेंजें या किसी को नॉमिनेट करें और गृहलक्ष्मी के फेसबुक पेज पर सभी पोस्ट को लाइक व शेयर करें । फिर देर किस बात की, आज ही भेजें अपनी एंट्री। साथ में अपने बारे में ये जानकारियां भी लिख भेजें-

 पसंद-

जिंदगी का मंत्र –

एक शब्द में आप-

आइडियल –

आपका सपना

आपकी उपलब्धियां-

 

ये जवाब लिखकर भेजें अपने फ़ोन नंबर और ईमेल आई डी और फोटो के साथ।अपनी फोटो हमारे फेसबुक मेसेज बॉक्स में या वेबसाइट पेज पर नीचे लॉगिन कर कमेंट बॉक्स में या फिर grehlakshmihindi@gmail.com पर भेजे।

 

ये भी पढ़े-

निखिल आडवानी पूछ रहे हैं कौन हैं युद्ध के असली बंदी? 

आपके काम की है अमिताभ बच्चन की ये सलाह

तस्वीरों में देखिए गृहलक्ष्मी के 8वें किटी पार्टी की झलकियां 

 आप हमें फेसबुकट्विटरगूगल प्लस और यू ट्यूब चैनल पर भी फॉलो कर सकती हैं।