इनफर्टिलिटी ट्रीटमेंट इन हिंदी

Fertility Issues : इनफर्टिलिटी कहने को एक शब्द है, लेकिन इससे कई जिंदगियां प्रभावित होती हैं। सबसे ज्यादा प्रभावित होते हैं वे कपल्स जो सालों से घर में किलकारी गूूंजने का इंतजार कर रहे हैं। साथ ही उनसे जुड़े वे बुजुर्ग और रिश्तेदार जो घर में नन्हें मेहमान के आने का इंतजार कर रहे हैं। दरअसल, बदलती लाइफस्टाइल ने महिलाओं ही नहीं पुरुषों की फर्टिलिटी को भी प्रभावित किया है। करियर बनाने की दौड़ में शामिल युवा देरी से फैमिली प्लानिंग कर रहे हैं। लेकिन बढ़ती उम्र का असर उनके स्पर्म काउंटर पर पड़ता है। स्पर्म काउंट कम होने के साथ ही स्पर्म की क्वालिटी भी प्रभावित होती है। शिकागो यूनिवर्सिटी में प्रकाशित एक रिपोर्ट के अनुसार बीते 38 वर्षों में पुरुषों के औसम स्पर्म की संख्या में 59 प्रतिशत तक की गिरावट आई है। स्टडी में यह भी सामने आया कि 35 प्रतिशत मामलों में महिलाएं और पुरुष दोनों ही इनफर्टिलिटी से प्रभावित होते हैं। ऐसे में उन्हें बेबी प्लान करने में परेशानी आती है। इस स्थिति में अपनी लाइफस्टाइल में सुधार करना महिलाओं के साथ ही पुरुषों के लिए भी जरूरी है। स्वस्थ खानपान से पुरुष फर्टिलिटी बढ़ सकती है। वहीं कुछ फूड्स उनकी फर्टिलिटी पर असर डालते हैं। आइए जानते हैं, ऐसे ही फूड्स के बारे में जो पुरुषों की फर्टिलिटी के लिए हानिकारक है-

प्रोसेस्ड मीट से रहें दूर

कुछ लोग मीट को भले ही हेल्थ के लिए अच्छा मानते हैं, लेकिन प्रोसेस्ड मीट बॉडी के लिए हानिकारक हो सकता है। यह पुरुषों की फर्टिलिटी पर सीधा असर डालता है। इसमें पाए जाने वाले हार्मोनल अवशेषों से स्पर्म काउंट कम होता है। इतना ही नहीं ये स्पर्म की गतिशीलता भी कम कर देता है। प्रोसेस्ड मीट के नियमित सेवन से हार्ट प्रॉब्लम भी हो सकती हैं। कोशिश करें कि इन्हें अपनी डेली डाइट में बिलकुल शामिल न करें।  

मीठा है फर्टिलिटी का दुश्मन

मीठे को फर्टिलिटी का दुश्मन कहा जाता है। ज्यादा मीठा खाने से पुरुषों में इनफर्टिलिटी बढ़ने का खतरा रहता है। मीठा खाने से न सिर्फ डायबिटीज होने की आशंका रहती है, बल्कि यह ब्लड प्रेशर को भी प्रभावित करता है। अत्यधिक मीठा खाने से स्पर्म काउंट घटने लगता है और स्पर्म की क्वालिटी पर भी इसका सीधा असर पड़ता है। इसलिए मीठा खाएं पर लिमिट में।

अवॉइड करें ज्यादा सोडियम वाली चीजें  

hs
Assortment of unhealthy products that’s bad for figure, skin, heart and teeth. Fast carbohydrates food. Space for text

हम सभी जानते हैं कि फास्ट फूड सेहत के लिए हानिकारक है, लेकिन क्या आप ये जानते हैं कि यह पुरुषों में इनफर्टिलिटी के लिए भी जिम्मेदार है। दरअसल, बर्गर, पास्ता, पिज्जा, नूडल्स आदि में सोडियम की मात्रा ज्यादा होती है, जो स्पर्म को प्रभावित करती है। साथ ही सेहत को भी नुकसान पहुंचाती है।  

स्मोकिंग है स्पर्म काउंट की दुश्मन

पुरुषों में इनफर्टिलिटी बढ़ने का सबसे बड़ा कारण हैं स्मोकिंग की लत है। स्मोकिंग से स्पर्म काउंट कम होता है। साथ ही यह स्पर्म की क्वालिटी पर भी विपरीत असर डालती है। इसी के साथ गुटखा, तंबाकू का सेवन भी हानिकारक होता है। रेगुलर स्मोकिंग से टेस्टोस्टेरोन हार्मोन पर बुरा असर पड़ता है। इसी के साथ शराब का सेवन भी आपके लिए नुकसानदायक है। शराब पीने से पुरुषों का हार्मोनल बैलेंस गड़बड़ा जाता है। जिससे स्पर्म काउंट सीधे प्रभावित होता है।  

ट्रांस फैट भी खाएं संभलकर

दूध को सेहत के लिए बहुत जरूरी माना जाता है। लेकिन ज्यादा फैट युक्त मिल्क प्रोडक्ट्स खाने से पुरुषों की स्पर्म क्वालिटी खराब हो सकती है। सन 2011 में हुई एक स्पेनिश स्टडी में खुलासा हुआ कि शरीर में ट्रांस फैट की मात्रा ज्यादा होने से स्पर्म काउंट कम हो जाता है।