डार्क चॉकलेट खाने के शौकीन हैं, तो पहले जान लें ये ज़रूरी बातें: Dark Chocolate Effects
Dark Chocolate Effects

कहीं आप भी डार्क चॉकलेट खाने की नहीं हैं शौकीन, जान लें खतरे

कम चीनी और एंटी-ऑक्सीडेंट का अच्छा सोर्स होने की वजह से यह ज्यादा पॉपुलर हो रही है। लेकिन, शायद आपको इस बात का अंदाजा नहीं है कि हर दिन डार्क चॉकलेट खाना आपके लिए खतरनाक भी हो सकता है।

Dark Chocolate Effects: चॉकलेट खाना तो हर किसी को पसंद होता है और डार्क चॉकलेट को तो आजकल फिटनेस फ्रीक लोगों ने अपनी डेली डाइट का हिस्सा ही बना लिया है। कम चीनी और एंटी-ऑक्सीडेंट का अच्छा सोर्स होने की वजह से यह ज्यादा पॉपुलर हो रही है। लेकिन, शायद आपको इस बात का अंदाजा नहीं है कि हर दिन डार्क चॉकलेट खाना आपके लिए खतरनाक भी हो सकता है। अगर आप भी डॉर्क चॉकलेट के शौकीन हैं, तो अब थोड़ा संभल जाइए क्योंकि हम आपको बता रहे हैं कि हर दिन डार्क चॉकलेट खाने से क्या हो सकता है-

हो सकती है मोटापे की समस्या

Dark Chocolate Effects
weight gain

डार्क चॉकलेट का ज़्यादा सेवन करने से वज़न बढ़ने की समस्या हो सकती है। चॉकलेट में कैफीन और शुगर की मात्रा ज्यादा होता है जिससे आप मोटे हो सकते हैं। दरअसल, 44 ग्राम की एक चॉकलेट बार में 235 कैलोरीज़ और 221 ग्राम चीनी होती है। चीनी की उच्च मात्रा वज़न बढ़ाती है। यह चीनी आपके ब्लड शुगर के स्तर को भी बढ़ा सकती है, जो डायबिटीज़ का ख़तरा बन सकता है। अगर आप वेट कम करने की कोशिश कर रही हैं तो ज्यादा चॉकलेट खाने से बचें। खासतौर, रात में सोने के पहले चॉकलेट कभी भी ना खाएं।

दिल की बीमारी और स्ट्रोक

cholestrol
cholestrol

एक चॉकलेट बार में 13 ग्राम वसा होता है और इसमें से 8 ग्राम संतृप्त वसा से आता है, जो ब्लड कोलेस्ट्रॉल को बढ़ाने के लिए जाना जाता है। इस बेड कॉलेस्ट्रोल की बढ़ी हुई मात्रा दिल की बीमारी और स्ट्रोक का कारण बन सकती है।

एसिडिटी बढ़ती है

acidity
acidity

चॉकलेट की प्रकृति एसिडिक होती है और इसका ज्यादा सेवन आपके पेट में एसिड को और बढ़ा सकता है। कई बार चॉकलेट खाने से सीने में जलन की समस्या भी शुरू हो जाती है। अगर कोई व्यक्ति पहले से गैस से जुड़ी समस्या से जूझ रहा है, तो उसे चॉकलेट खाने से बचना चाहिए। सुबह के समय चॉकलेट का सेवन कभी ना करें।

लेड और केडमियम से हो सकती हैं समस्याएँ

हाल ही में सामने आए एक शोध के मुताबिक, कुछ डार्क चॉकलेट में लेड और कैडमियम होता है। ये दो ऐसी भारी धातुएं हैं, जो हमारे शरीर में कई तरह की स्वास्थ्य परेशानियों पैदा कर सकती हैं। लेड के ज्यादा सेवन से नर्वस सिस्टम की प्रॉब्लम्स, हाई ब्लड प्रेशर, इम्यून सिस्टम का सप्रेशन, किडनी डैमेज और रिप्रोडक्शन से जुड़ी समस्याएं हो सकती हैं।

प्रेगनेंसी में है नुकसानदायक

pregnancy
pregnancy

डार्क चॉकलेट में कैफीन होता है और इसका ज्यादा मात्रा में सेवन आपके बच्चे के लिए खतरनाक हो सकता है। कई बार इसकी वजह से समय से पहले डिलीवरी, कम वजन के बच्चे का पैदा होना या फिर गर्भपात भी हो सकता है इसलिए प्रेगनेंसी के दौरान डार्क चॉकलेट का सेवेन करने से बचें। यह बच्चे के दिमाग पर भी विपरीत असर डाल सकता है। इसके अलावा ब्रैस्टफीड करा रही माँ को भी इसका सेवन नहीं करना चाहिए।

अगर आपको भी चॉकलेट क्रेविंग होती है तो इस पर नियंत्रण करना शुरू कर दीजिये।

Leave a comment