बीज आपकी सेहत के लिए काफी लाभदायक हैं। तो आज कविता देवगन आपको कुछ बीजों का ही नाम बताने वाली हैं, जो आप अपने स्वास्थ्य को बेहतर रखने के लिए खा सकती हैं।

आप अक्सर यह सोचते होंगे कि बीजों में ऐसा क्या होता है, जो यह आपके लिए लाभदायक है। यह साइज में तो इतने छोटे से होते हैं, लेकिन इतने लाभ कैसे प्रदान कर देते हैं? बीजों को शुरू से ही बहुत कम आंका गया है। हम इन्हें काफी अनदेखा भी करते रहते हैं। लेकिन अनदेखा करने से पहले आपको एक बार सोच लेना चाहिए कि यह आपकी सेहत को बहुत बेहतर बना सकते हैं। इसके साथ ही कुछ बीजों को अगर आप किसी व्यंजन में एड करती हैं तो इससे आपकी डिश बहुत अधिक क्रंची बन जाती है। 

अगर आप प्रोटीन और गुड फैट जैसे विभिन्न पोषण तत्वों को डाइट में शामिल करना चाहती हैं तो आपको इनका प्रयोग जरूर करना चाहिए। अगर आपको ड्राई फ्रूट पसंद नहीं है तो यह उनका भी एक अच्छा विकल्प है। एक बार इन्हें अपनी डाइट का हिस्सा बनने का मौका देकर देखें और यह आपको कभी भी निराश नहीं करने वाले हैं।

बीजों के लाभ

सारे बीजों में एंटी ऑक्सीडेंट्स होते हैं और सभी के बारे में कोई न कोई खास बात जरूर होती है।

  • अगर आप विटामीन-बी की और कैल्शियम की मात्रा का अधिक मात्रा में सेवन करना चाहती हैं तो आप सेम के सीड्स को अपनी डाइट में शामिल कर सकती हैं। यह आपकी स्किन के लिए भी बहुत अच्छे रहते हैं।
  • सूरजमुखी के बीजों में भी पोली अनसैचुरेटेड फैटी एसिड्स होते हैं। साथ में इनमें विटामिन-ई और मैग्नेशियम भी होता है। ये आपकी हड्डियों को मजबूत रखने में और हृदय को स्वस्थ रखने में सहायक हैं।
  • कद्दू के बीजों का भी बहुत स्वादिष्ट फ्लेवर होता है और इसमें कैरेटनॉयड होते हैं, जो आपकी इम्यूनिटी को मजबूत करते हैैं। आपकी आंखों को भी बहुत हेल्दी रखते हैं।
  • अगर आप शाकाहारी हैं तो आप मछली का सेवन नहीं करती होंगी। इस कारण आपको ओमेगा-3 की पर्याप्त मात्रा भी नहीं मिल पाती होगी। इस पोषण की कमी को पूरा करने के लिए आपको अलसी के बीजों को अपनी डाइट में जरूर शामिल करना चाहिए। यह आपको स्वस्थ रखने और बीमारियों को दूर रखने के लिए एक चमत्कारी फार्मूला है। इसमें मौजूद अल्फा लिन ओलेनिक एसिड आपको ओमेगा-3 प्रदान करवाता है, जो आपकी सेहत के लिए लाभदायक होता है।

कुछ तरीके जिनके माध्यम से आप सीड्स को अपनी डाइट में शामिल कर सकती हैं-

  • आप बीजों को केवल रोस्ट करके उन्हें अपने स्नैक की तरह ही खा सकती हैं।
  • आप इन्हें सीरियल्स पर ऊपर सजा कर खा सकती हैं। इसके साथ ही दही और फलों की स्मूदी में इसे ऐड कर सकती हैं या फिर भेलपुरी में छिड़क कर खा सकती हैं।
  • आप इन्हें बेक की गई डिश में एड कर सकती हैं या आप इन्हें ब्रेड के चूरे के स्थान पर प्रयोग कर सकती हैं। 
  • मफिन और कुकीज़ को क्रंची बनाने के लिए आप इनका प्रयोग कर सकती हैं।
  • सलाद के ऊपर भी दही में मिला कर इनका प्रयोग कर सकती हैं।
  • बच्चों को इन्हें देने के लिए कढ़ी-पकोड़ा या फिर भेलपुरी में इनको मिला कर दे सकती हैं।
  • अगर आप मछली का सेवन करती हैं तो मछली बनाते समय भी इसका प्रयोग कर सकती हैं।
  • अलसी के बीजों की चटनी भी आप बना कर खा सकती हैं।

सभी बीजों में फैट हाई मात्रा में होता है इसलिए उन्हें खराब होने से बचाने के लिए आपको अच्छे स्थान पर स्टोर करके रखना चाहिए। आप फ्रिज में इन्हें स्टोर करके रख सकती हैं। 

बीज जो नहीं खायें

टमाटर के बीज का सेवन कम करना चाहिए क्योंकि यह नुकसानदायक हो सकते हैं। अध्ययनों ने सुझाव दिया है कि टमाटर के बीज खाने से गुर्दे की पथरी हो सकती है, क्योंकि इनमें ऑक्सालेट होता है, जो पत्थरी के निर्माण में मदद करता है। हालांकि, आपको यह भी मालूम होना चाहिए कि ऐसा तभी होता है जब आप हर दिन भारी मात्रा में टमाटर का सेवन कर रहे हों।

यह भी पढ़ें –मेनोपॉज के दौरान कैसे रखें अपना ख्याल

स्वास्थ्य संबंधी यह लेख आपको कैसा लगा? अपनी प्रतिक्रियाएं जरूर भेजें। प्रतिक्रियाओं के साथ ही स्वास्थ्य से जुड़े सुझाव व लेख भी हमें ई-मेल करें-editor@grehlakshmi.com

Leave a comment