क्या आपने कभी मेंस्ट्रुअल कप का प्रयोग किया है? अगर नहीं तो इसका कारण हो सकता है कि आप कुछ बातों से डर रही हों या आपको उसे प्रयोग करने में कुछ खतरा महसूस हो रहा हो। इन चीजों से जुड़ी अफवाहें भी बहुत जल्दी फैलती हैं और आप इन पर विश्वास भी कर लेती होंगी। इसलिए ही हम आज आपके लिए कुछ ऐसे तथ्य लेकर आए है जो इन सभी अफवाहों को खारिज कर देगा और आपके दिमाग से सारे प्रश्न क्लीयर कर देगा। पीरियड में  आपको मेंस्ट्रुअल कप का प्रयोग जरूर करना चाहिए क्योंकि अगर आप इसका प्रयोग एक बार करने लग जाएंगी तो या एक बहुत आरामदायक तरीका बन जायेगा और आपको पैड्स से भी राहत मिल जायेगी।  तो आइए जानते हैं मेंस्ट्रुअल कप को लेकर कुछ झूठी अफवाहें और उनके बारे में सच्चाई।

जब आप एक्सरसाइज करेंगी तो मेंस्ट्रुअल कप लीक होने लगेगा: अगर आपने सही साइज के कप का प्रयोग किया होगा तो आप बिना लीक किए एक्सरसाइज भी कर सकती हैं। एक्सरसाइज करते समय केवल आपको अधिक पसीने या थकान महसूस हो सकती है लेकिन लीकेज का खतरा नहीं होगा। अगर आपको अच्छा महसूस होता है केवल तब ही एक्सरसाइज करें।

आपकी वेजाइना मेंस्ट्रुअल कप के लिए बहुत बड़ी है: यह बात पूरी तरह से झूठ है। आपको अपनी वेजाइना के अंदर अच्छे से फिट होने वाले मेंस्ट्रुअल कप के साइज को खोजने की जरूरत होती है। आपकी वेजाइना कैनाल 7 से 12 cm लंबी होती है। आप पीरियड्स के थोड़े दिन पहले या बाद में अपनी उंगली डाल कर अपने सर्विक्स को चेक कर सकती हैं। अगर आपकी सबसे बड़ी उंगली पूरी फिट हो जाती है तो आपका हाई सर्विक्स है इसलिए लार्ज कप का प्रयोग करें।

मेंस्ट्रुअल कप आपके अंदर गायब हो जायेगा: अगर आपके मेंस्ट्रुअल कप की स्टेम नहीं मिल रही है तो वह कुछ देर के लिए अपनी जगह से हट सकता है और आपके मिलने में थोड़ी दिक्कत हो सकती है लेकिन वह परमानेंट रूप से गायब नहीं हो सकता है। यह कप सर्विक्स से हो कर आपके यूटरस तक कभी नहीं जा सकता है। अगर आप थोड़ा पुश करेंगी तो आसानी से कप आपके बाहर आ जायेगा।

आप मेंस्ट्रुअल कप का प्रयोग करते हुए ट्रैवल नहीं कर सकती हैं: इसका प्रयोग करते हुए भी आप ट्रैवल कर सकती हैं लेकिन आपको हर जगह इसे साफ करने के लिए पानी उपलब्ध नहीं होता है। इसलिए जब भी आप ट्रैवल करती हैं तो इसे बाथरूम में खाली करके और साफ करने के प्रबंध का ध्यान पहले ही रख कर चलें।

मेंस्ट्रुअल कप के लिए आपके पीरियड्स बहुत हैवी हैं: लार्ज साइज के कप अधिक या हैवी फ्लो के लिए बिल्कुल परफेक्ट होते हैं इसलिए अगर आपको लगता है कि आपका फ्लो हैवी रहता है तो आप बड़े साइज के कप का प्रयोग कर सकती हैं। अधिकतर महिलाओं के फ्लो को एक नॉर्मल कप हैंडल कर सकता है।

मेंस्ट्रुअल कप के लगे होने के साथ साथ पी और स्टूल पास करना संभव नहीं है: जब आप मेंस्ट्रूअल कप का प्रयोग करती हैं तो आपको यूरीनेट करने में कोई दिक्कत नहीं होती है लेकिन जब आप स्टूल पास करती हैं तो प्रेशर के कारण हो सकता है वह अपनी जगह से हिल जाए इसलिए आपको पहले उसे रिमूव करना चाहिए।

मेंस्ट्रुअल कप आपकी वेजाइना को स्ट्रेच कर देता है: जब आपकी वेजाइना खाली होती है तो उसकी वॉल्स एक दूसरे के प्रति कंप्रेस्ड रहती हैं लेकिन जब आप इसमें मेंस्ट्रुअल कप जैसा कुछ डालती हैं तो इसकी वॉल्स थोड़ी मुड़ जाती हैं ताकि थोड़ी जगह बन सके। इस दौरान आपको थोड़ा स्ट्रैची महसूस हो सकता है लेकिन जैसे ही आप अपनी उंगली बाहर निकालती हैं तो वह पहले जैसी अवस्था में लौट आती है।

निष्कर्ष

हम आशा करते हैं कि इन सभी पॉइंट्स से आपके मेंस्ट्रूअ कप को लेकर सारे सवाल अब क्लीयर हो गए होंगे और अब आप इसे प्रयोग करने में नहीं हिचकिचाएंगी। यह एक बजट फ्रेंडली और एनवायरनमेंट फ्रेंडली तरीका है इसलिए इसका प्रयोग जरूर करें।

यह भी पढ़ें-अगर पीरियड क्रैंप्स से छुटकारा पाना चाहती हैं तो अपनाएं यह टिप्सस्वास्थ्य संबंधी यह लेख आपको कैसा लगा? अपनी प्रतिक्रियाएं जरूर भेजें। प्रतिक्रियाओं के साथ ही स्वास्थ्य से जुड़े सुझाव व लेख भी हमें ई-मेल करें- editor@grehlakshmi.com