googlenews
Banarasi Shawl
Banarasi Shawl Design Tips

Banarasi Shawl: कई रिसर्च में दावा किया गया है कि महिलाएं साड़ियों में सबसे ज्यादा सुंदर दिखाई देती हैं। हमारे देश के इस परिधान का विदेशोें में काफी चलन बढ़ गया है। जब बात ट्रेडिशनल पहनावे की आती है तो ज्यादातर महिलाएं साड़ी पहनने का ही विचार करती है। साड़ी पहनने के मामले में महिलाएं फैशन और ट्रेंड को भला कैसे भूल सकती हैं। महंगी-महंगी साड़ियां खरिदने के बाद जब उस साड़ी का फैशन चला जाता है तो वह साड़ी सिर्फ आपके वार्डरोब के लिए शॉ पिस की तरह बन कर रह जाती है। अब बनारसी साड़ी का कलेक्शन तो भला किसके पास नहीं होगा।

बनारसी साड़ी लगभग हर महिला की वार्डरोब में होगी ही। ऐसे में महिलाएं अपनी पुरानी बनारसी साड़ी को पहनना पसंद नहीं करती हैं। जिसकी वजह से उनकी साड़ी ऐसी ही वार्डरोब में रखी रहती है और कुछ समय बाद वे साड़ी फैशन ट्रेड से बाहर हो जाती हैं। ऐसे में महिलाओं के पास बहुत सारी साड़ियां जमा हो जाती हैं। ऐसे में आप अपनी पुरानी बनारसी साड़ी को भी बढ़िया और नया स्टाइलिश लुक दे सकती है। जी हां आप अपनी पुरानी बनारसी साड़ी को शॉल के तौर पर कैरी कर सकती हैं। खास कर शादियों में किसी ड्रेस के साथ आप इसे ऊपर से कैरी कर सकती हैं।

साड़ी का चुनाव

Banarasi Shawl
Select Saree

अपनी बनारसी साड़ी को शॉल की तरह कैरी करने के लिए आपको सबसे पहले बनारसी साड़ी का चुनाव करना होगा जिसे आप शॉल बनाना चाहती हैं।

निशान बनाना शुरु करें

Banarasi Shawl
Choosing a sari Pallu can be a better option.

अब आप साड़ी को सिलेक्ट करने के बाद उसपर शॉल बनाने के लिए निशान लगाना शुरु करें। निशान करने के लिए साड़ी के पल्लू को चुनना ज्यादा अच्छा ऑप्शन हो सकता है। साड़ी के पल्लू का साइज लगभग आपके शॉल के साइज जितना ही आता हैै। आप साड़ी के पल्लू को फोल्ड कर लें और उसपर अपनी लंबाई के हिसाब से निशान लगा लें। हालांकि थोड़ी लंबी शॉल के लिए आप इसे अपने अनुसार भी चुन सकती हैै।

कटिंग की बारी

Banarasi Shawl
Cutting Turn

शॉल के लिए साड़ी पर निशान बनाने के बाद आप साड़ी की कटिंग करना शुरू कर दें। कटिंग करते समय आप इस बात का ध्यान रखें कि जहां आपने निशान लगाए हैं, आप उससे थोड़ी जगह छोड़ कर ही साड़ी को कट करें। क्योंकि कई बार निशान साइज के हिसाब से ठीक नहीं लग पाते हैं और कपड़ा कम पड़ जाता है।

अब सिलाई करें

Banarasi Shawl
Stitch the edges of the cut border of the shawl

कटिंग के बाद बारी आती हैै सिलाई कि शॉल की कटिंग के बाद अब आप अपनी शॉल के कटे हुए बॉर्डर के किनारों पर सिलाई मशीन की मदद से सिलाई कर लें। आप चाहे तो इससे मैचिंग लेस का भी उपयोग कर सकती है। यह आपकी शॉल को और भी ज्यादा शानदार बना सकता है।

Leave a comment