googlenews
क्या है फाइनेंशियल एब्यूज? कैसे करें सामना?: Financial Abuse
Financial Abuse

Financial Abuse: जब भी लोग घरेलू हिंसा के बारे में सोचते हैं तो उनके दिमाग में सबसे पहले शारीरिक हिंसा और मानसिक हिंसा ही आती है।  ठीक है। लेकिन शोध से पता चलता है कि फाइनेंशियल एब्यूज अस्वस्थ रिश्तों में उतनी ही बार होता है, जितना कि अन्य प्रकार के एब्यूज। आज इस आर्टिकल में हम जानेंगे कि क्या है फाइनेंशियल एब्यूज क्या है और महिलाएं किस तरह इसका सामना कर सकती हैं। 

यह भी पढ़ें | क्या है BIS केयर ऐप?

क्या है फाइनेंशियल एब्यूज

फाइनेंशियल एब्यूज में पीड़ित की फाइनेंशियल रिसोर्स को प्राप्त करने, उपयोग करने और बनाए रखने की क्षमता को नियंत्रित करना शामिल है। जो लोग आर्थिक रूप से पीड़ित हैं, उन्हें काम करने से रोका जा सकता है। ऐसे लोगों के पास धन और अन्य रिसोर्स तक पहुंच नहीं होती है। जब उनके पास पैसा होता है, तो उन्हें अक्सर खर्च किए गए एक-एक पैसे का हिसाब देना पड़ता है।

कुल मिलाकर, फाइनेंशियल एब्यूज के रूप स्थिति से अलग-अलग होते हैं। कभी-कभी एक एब्यूजर स्थिति के अनुसार अलग-अलग रणनीति का उपयोग कर सकता है जबकि कुछ अन्य एब्यूजर अधिक खुले, मांग करने वाले और डराने वाले हो सकते हैं। 

कैसे पता चलता है कि आप हो रही हैं फाइनेंशियल एब्यूज का शिकार? 

Financial Abuse
Using your money or property for personal gain without asking
  • आपके द्वारा कमाए या सहेजे गए धन के इस्तेमाल या उस तक पहुंच को नियंत्रित करने का प्रयास करना
  • बिना पूछे अपने निजी फायदे के लिए आपके पैसे या संपत्ति का इस्तेमाल करना
  • बिना अनुमति के आपके पैसे लेना या क्रेडिट कार्ड का इस्तेमाल करना
  • सीमा बढ़ा कर और फिर बिलों का भुगतान न करके आपके क्रेडिट इतिहास को बर्बाद करना
  • अपने नाम से भुगतान करने या बिलों का भुगतान करने का दावा करना, लेकिन इसका पालन नहीं करना
  • पैसे उधार लेना 
  • आपके पैसे या संपत्ति का खुद को हकदार महसूस करना
  • यह मांग करना कि आप अपनी तनख्वाह, पासवर्ड और क्रेडिट कार्ड उन्हें वापस कर दें
  • आपसे उनके बिलों या उनके दायित्वों का भुगतान करने की अपेक्षा करना
  • आपके फाइनेंस पर नियंत्रण पाने के लिए आपके बजट या फाइनेंशियल निर्णयों को कवर के रूप में सहायता के लिए ऑफ़र देना 
  • कठिन फाइनेंशियल परिस्थितियों से उबारने में आपकी मदद की अपेक्षा करना 
  • आपकी तनख्वाह या आय के अन्य स्रोतों को जब्त करना
  • आपके बैंक स्टेटमेंट और अन्य फाइनेंशियल रिकॉर्ड को इंटरसेप्ट करना या खोलना

फाइनेंशियल एब्यूज का प्रभाव 

फाइनेंशियल एब्यूज के प्रभाव अक्सर विनाशकारी होते हैं। आर्थिक शोषण के साथ होने वाले भावनात्मक शोषण के कारण पीड़ित खुद को अपर्याप्त और अनिश्चित महसूस करता है। उन्हें कई बार भूखा और मूलभूत सुविधाओं के बिना रहना पड़ता है क्योंकि उनके पास पैसा नहीं होता। यही वजह है कि कम समय में, फाइनेंशियल एब्यूज पीड़ितों को शारीरिक शोषण और हिंसा के प्रति संवेदनशील बना देता है। पैसे, क्रेडिट कार्ड और अन्य फाइनेंशियल चीजों तक पहुंच के बिना, किसी भी प्रकार की सुरक्षा योजना बनाना बेहद मुश्किल है।

यदि कोई एब्यूजर हिंसक है और पीड़ित को सुरक्षित रहने के लिए छोड़ने की आवश्यकता है, तो यह पैसे या क्रेडिट कार्ड के बिना मुश्किल है। और अगर उन्हें हमेशा के लिए रिश्ते से बाहर निकलना है, तो रहने के लिए सुरक्षित और किफायती स्थान ढूंढना चुनौतीपूर्ण है। वे भोजन, कपड़े और परिवहन जैसी मूलभूत जरूरतों को पूरा करने के लिए भी संघर्ष करते हैं।

कैसे करें फाइनेंशियल एब्यूज का सामना?

Financial Abuse
Help can be sought from a domestic violence agency

यदि आपके पास पैसे नहीं हैं, और आप उस रिश्ते से निकलना चाहती हैं, तो घरेलू हिंसा एजेंसी से मदद ली जा सकती है। यदि आप ऐसा नहीं चाहती हैं, तो नीचे बताए गए तरीकों से आपको फाइनेंशियल एब्यूज का सामना करने में मदद मिल सकती है। 

आर्थिक रूप से शिक्षित हों

अपने दोस्तों और परिवार के साथ फाइनेंशियल एब्यूज के अपने अनुभव के बारे में बात करना और फाइनेंस के बारे में जानक्री पाने से मदद मिल सकती है। इसके लिए आप अपने बैंक को कॉल करके अपने पर्सनल फाइनेंस के बारे में जान सकती हैं। इसके अलावा, किसी फाइनेंशियल प्लानर से मिलकर, वकील से बात करके, अपने क्रेडिट स्कोर की जांच करके, अपनी क्रेडिट रिपोर्ट को फ्रीज करके फाइनेंस में एक्सपर्ट हो सकती हैं। 

क्रेडिट रिपोर्ट और अपने टैक्स रिटर्न की की कॉपी अपने पास रखना भी जरूरी है। अपने बैंक अकाउंट के लिए एक्सेस का अनुरोध करने और विवरण प्राप्त करने के लिए पर्सनली बैंक जा सकती हैं। इसके लिए आप किसी अपने की मदद ले सकती हैं। 

अलग से बैंक अकाउंट खोलें 

इन कदमों को उठाने के बाद अपना अलग से बैंक अकाउंट खोला जा सकता है। उसके लिए ईमेल और फोन नंबर भी अलग से सेट करें। आपके पास यदि कैश है, तो उसे अपने बैंक अकाउंट में जमा कर दें। आजकल तो पासबुक भी नहीं मिलती है, जिससे आपको डर होगा कि आपके अलग बैंक अकाउंट के बारे में किसी को पता चल सकता है।

भावनात्मक समर्थन प्राप्त करें

यदि आपको लगता है कि आप भावनात्मक तरीके से टूट गई हैं, तो पहले खुद को मजबूत बनाने की कोशिश  करें। यह याद रखें कि खुद को भावनात्मक तरीके से मजबूत करने के बाद ही आप पॉजिटिव दिशा में अपनी जिंदगी को आगे लेकर जा पायेंगी और फाइनेंशियली भी मजबूत हो पायेंगी। इसके लिए आप चाहें तो ऑनलाइन एक्सपर्ट की मदद भी ले सकती हैं, जो भावनात्मक तरीके से आपकी मदद कर सकते हैं। 

रिकवरी के लिए एक बार में एक कदम उठाएं

रिकवरी से निपटना एक चुनौती हो सकती है, लेकिन इसे एक बार में एक कदम उठाना महत्वपूर्ण है। किसी भी अन्य एब्यूज की तरह फाइनेंशियल एब्यूज से उबरने में समय लगता है। अपना आत्मविश्वास वापस पाने के लिए लगातार छोटे कदम उठाना एक शानदार तरीका है।

Leave a comment