चाहे आप कोई एथलीट हों या फिर एक आम आदमी जो अपना वजन कम करने के लिए एक्सरसाइज करता हो। हर उस व्यक्ति को रिकवरी की जरूरत होती है जिसने एक्सरसाइज की है। रिकवरी भी उतनी ही जरूरी होती है जितनी एक्सरसाइज करना। इसलिए इसे करना बिलकुल न भूलें। इसके कुछ लाभ भी होते हैं जैसे इसके द्वारा आपने जितनी एक्सरसाइज करी है उस सारी का आपको अधिक लाभ मिलता है और अगर आप कभी ओवर एक्सरसाइज कर लेते हैं तो इससे आपके शरीर में अधिक दर्द या किसी प्रकार की अन्य दिक्कत नहीं होती है। चाहे आपने एक्सरसाइज करनी आज से ही चालू की हो या फिर सालों से करते आ रहे हों हर किसी के लिए रिकवरी एक्सरसाइज लाभदायक होती है और हर व्यक्ति को यह करनी चाहिए। बहुत से लोगों को यह पता होता है कि एक्सरसाइज को अपने रुटीन का हिस्सा बनाना उन्हें हेल्दी रखता है लेकिन यह पता नहीं होता है कि एक्सरसाइज रिकवरी भी उनके लिए जरूरी होती है। तो आइए जानते हैं उन 3 टिप्स को जो आपको रिकवरी के समय जरूर फॉलो करनी चाहिए।

अपने शरीर को थोड़ा ब्रेक दे: एथलीट्स के लिए बीच में ब्रेक लेना संभव नहीं होता है लेकिन अगर आप अपने शरीर की प्रवाह करते हैं और उसे थोड़ा हील होने का समय देना चाहते हैं तो आप हफ्ते में एक बार ब्रेक जरूर ले सकते हैं। रेस्ट की मात्रा हर व्यक्ति के लिए अलग अलग हो सकती है लेकिन आपको हफ्ते में एक या दो दिन का ब्रेक तो लेना ही चाहिए। अगर आपका वर्कआउट बहुत अधिक इंटेंस होता है तो आपको 3 या 4 महीनों के बीच एक हफ्ते का ही ब्रेक ले लेना चाहिए। अगर आप बीच में ब्रेक नहीं लेते हैं तो इससे आप ओवर एक्सरसाइज कर सकते हैं और इससे आपके शरीर को अंदर से चोट भी पहुंच सकती है। अगर आप ओवर एक्सरसाइज करते हैं और ब्रेक नहीं लेते हैं तो आपकी मसल्स भी दर्द करने लगती हैं।

रिकवरी एक्सरसाइज में आपको निम्न चीजें। शामिल करनी चाहिए : 

  • फोम रोलिंग
  • थोड़ी बहुत स्ट्रेचिंग
  • लो इंटेंसिटी से थोड़ी बहुत देर साइक्लिंग करें।
  • वॉकिंग करें।
  • योग

सोना न भूलें: हर चीज की तरह ही नींद भी आपके शरीर के लिए जरूरी होती है और यह आपको एक्सरसाइज से रिकवर होने में भी मदद करती है। मसल्स ग्रोथ का अगर हम उदाहरण लेते हैं तो वह एक्सरसाइज करने के दौरान नहीं बल्कि उसके बाद में होती है। एक्सरसाइज करने से आपकी बॉडी पर स्ट्रेस पड़ती है और इससे सच में ही आपकी मसल्स पर डेमेज होता है और यह डेमेज ही आपकी मसल्स बिल्ड करने में लाभदायक होता है। जब हम सोते हैं तो यह डेमेज ठीक होने लगता है और हमारी मसल्स ग्रो होती हैं। इसलिए आपके लिए सोना अधिक जरूरी होता है। अगर आप एक ऐसे एथलीट हैं जिनके पास सोने का समय नहीं है तो भी आपको 8 से 10 घंटे की नींद लेनी जरूरी होती है।

एक संतुलित मील खाएं: आपको यह तो पता ही होगा कि पोषण के लिए आपको एक संतुलित भोजन खाने की जरूरत होती है। यह आपके वर्कआउट के लिए एक फ्यूल का काम करता है। यह आपके शरीर को वर्कआउट से रिकवर होने में भी मदद करता है। अगर आप डाइट में कार्ब्स शामिल करते हैं तो वर्कआउट के दौरान जितने कार्ब आपने बर्न किए हैं उनके बाद आपको एनर्जी मिलती है। वर्कआउट करने के आधे घंटे बाद आपको एक प्रोटीन से युक्त चीज। खानी चाहिए। 

  • कार्ब से युक्त चीजें
  • ओटमील
  • होल व्हीट पास्ता
  • शकर कंद
  • क्वीनोआ
  • केले और बेरीज जैसे फल।
  • प्रोटीन से युक्त चीजें
  • अंडे 
  • कॉटेज चीज़
  • ग्रीक दही
  • सालमन
  • चिकन
  • टूना

इन सभी टिप्स को वर्कआउट करने के बाद जरूर फॉलो करें।

यह भी पढ़ें- इम्युन सिस्टम को मजबूत करने में कारगर है तुलसी का काढ़ा, ये हैं इसके फायदे60 सेकंड फेस वॉश रूल, आप भी कर सकती हैं ट्राई