googlenews
इन 6 तकनीकों से खूबसूरत बनाएं मुस्कान: 6 Techniques to Smile
6 Techniques to Smile

6 Techniques to Smile: खूबसूरत दांत आपकी मुस्कान पर चार-चांद लगा देते हैं, जिससे चेहरा बिना मेकअप के ही बहुत आकर्षक दिखाई देने लगता है।

आपको वो टीवी ऐड याद होगा! राजू तुम्हारे दांत तो मोतियों से जैसे चमकते हैं। तो राजू उन्हें बताता है कि वो एक खास तरह का मंजन इस्तेमाल करता है। अब केवल मंजन से बात नहीं बनाने वाली। सुंदर दांत और आकर्षक मुस्कान के लिए आप ये तकनीक आपना
सकते हैं-

स्पिलिंट से दांत

अगर आपके दांत टेढ़े-मेढ़े हैं और आप इनकी वजह से मुस्कराने में हिचकिचाते हैं तो आप स्पिलिंट की मदद से सही आकार पा सकते हैं। दांतों को सही शेप देने के लिए पहले के दौर में वायर की मदद ली जाती थी। आजकल वायर की जगह ले ली है, अदृश्य रहने वाली स्पिलिंट्स ने। ये प्लास्टिक के वायर ही होते हैं, जो आपके दांतों पर लगाये जाते हैं ताकि आपके दांतों को सही आकार मिले। ये पारदर्शी होते हैं इसलिए अदृश्य रहते हैं और इलाज के दौरान भी आपकी मुस्कराहट उतनी ही मोहक बनी रहती है।

ऑर्थोडोन्टिक्स ट्रीटमेंट

टेढ़े-मेढ़े दांतों को जगह पर लाने और सीधा करने के लिए ऑर्थोडोन्टिक्स ट्रीटमेंट का इस्तेमाल किया जाता है। इस ट्रीटमेंट में कई सप्ताह लग जाते हैं। दांतों को जगह पर लाने के लिए तारों या ब्रैकेट्स का इस्तेमाल नहीं किया जाता। इसके लिए एक अलाइनर का इस्तेमाल किया जाता है, जो दिखता नहीं है और उसे निकाला भी जा सकता है। इन अलाइनरों को हर दो सप्ताह में बदलने की जरूरत होती है। इनकी डिजाइनिंग व्यक्ति के हिसाब से की जाती है, ताकि वे आरामदायक रहें।

इन 6 तकनीकों से खूबसूरत बनाएं मुस्कान: 6 Techniques to Smile
orthodontics treatment

वाइटनिंग कराकर पाएं मोतियों से दांत

कोल्ड ड्रिंक, स्मोकिंग, जंक फूड, डिं्रकिंग ये सब ऐसी आदतें हैं, जो आपके दांतों पर पाई जाने वाली सफेद परत को नुकसान पहुंचाकर उसे खराब करती है और हमेशा के लिए आपके दांतों की खूबसूरती छीन लेती है। अकसर हम इस डर से अपने दांतों के पीलेपन का इलाज नहीं कराते क्योंकि हमें लगता है कि इससे हमारे दांतों को नुकसान होगा। लेकिन इस बारे मे डेंटिस्ट से दांतों की सफाई कराने में कोई नुकसान नहीं है। कम से कम 6 महीने में एक बार तो डेंटिस्ट से चेकअप कराकर सफाई करवानी चाहिए, क्योंकि यह पद्घति पूरी तरह से सुरक्षित होती  है। बाजार में मिलने वाले वाइटनिंग टूथपेस्ट से बचना चाहिए क्योंकि उनमें कई हानिकारक केमिकल होते हैं, जो आपके दांतों को नुकसान भी पहुंचा सकते हैं। उन्हें प्रयोग में लाने से पहले एक बार डॉक्टर से सलाह जरूर लें।

लेजर ट्रीटमेंट से भी दांतों को चमकदार बना सकते हैं

दांतों को सफेद और मोतियों जैसे चमकदार बनाने के लिए यह बहुत ही प्रभावी ट्रीटमेंट है। लेजर ट्रीटमेंट के तहत दांतों को सफेद और चमकदार बनाने के लिए उसे घिसा नहीं जाता और न ही मसूढ़ों के साथ कोई छेड़छाड़ की जाती है। इसमें ब्‍लीचिंग जेल और लेजर के जरिए दांतों के पीलेपन को दूर किया जाता है। 

पोर्सेलेन वेनीर

पोर्सेलेन वेनीर, ट्रांसलूसेंट मेटेरियल होता है, जो दांतों की सतह पर फैला दिया जाता है। इससे टूटे-फूटे दांतों को ठीक किया जाता है। खूबसूरत मुस्कुराहट के लिए इस्तेमाल होने वाला वेनीर बहुत ही आकर्षक और प्राकृतिक लगने वाला पदार्थ होता है।

गम पिगमिंटेशन

इन 6 तकनीकों से खूबसूरत बनाएं मुस्कान: 6 Ways to Smile
gum pigmentation

जब दांत मोतियों से सफेद हों और मसूढ़े गुलाबी तो मुस्कान तो खूबसूरत होगी ही। यदि मसूढ़े काले हैं तो इसके लिए गम पिगमिंटेशन कराई जा सकती है। अपनी मुस्‍कान को और भी खूबसूरत बनाने के लिए इस प्रक्रिया का सहारा ले सकते हैं। इसकी सहायता से बेरंग मसूढ़ों को ठीक किया जाता है।

दांतों की खूबसूरती बढाने के कुछ घरेलू उपाय

  • आप अपने दांतों को सुंदर बनाने के लिए कई अलग-अलग तरीकों से बेकिंग सोडा का उपयोग कर सकते हैं। जैसे- आप सबसे पहले बेकिंग सोडा लें और 1/4 चम्मच बेकिंग सोडा को कुछ बूंद पानी में घोलकर पेस्ट बना लें। अब इस पेस्ट से दांतों को साफ करें और फिर कुल्ला कर लें।
  • आप चाहें तो अपने टूथपेस्ट के साथ मिलाकर भी बेकिंग सोडा से दांतों पर ब्रश कर सकते हैं। यह दांतों की सफेदी बढ़ाने में सहायक है।
  • आप बेकिंग सोडा को नमक के साथ मिलाकर भी पेस्ट कर सकते हैं। यह दांतो का पीला रंग दूर करने में मदद करेगा साथ ही आपके मसूड़ों में किसी भी तरह की समस्या को पनपने नहीं देगा।
  • नमक में सरसों का तेल मिला लें और इसे अपने टूथपेस्ट मंजन की तरह लगाकर ब्रश करें। कुछ दिन लगातार ऐसा करने पर आप पाएंगे कि आपके दांतों की चमक बढ़ने लगी है। इस नुस्खे से आपकी सांसों की दुर्गंध दूर करने में भी सहायता मिलेगी। साथ ही ओरल हाइजीन बेहतर होगी।
  • नीम और बबूल की दातून सबसे अच्छी प्राकृतिक टूथब्रश है। इन दातून का उपयोग करने से दांत साफ, सुंदर, स्वस्थ और सफेद रहते हैं। जो लोग नियमित रूप से इन दातून का उपयोग करते हैं, उन्हें कभी भी कैविटी, मसूड़ों में सूजन या दांत दर्द का सामना नहीं करना पड़ता है। 

अगर आप अपनी मुस्‍कुराहट हमेशा बनाए रखना चाहते हैं। तो डाक्‍टरी सलाह और दांतों की कमियों को दूर करने के साथ प्रतिदिन ओरल हाइजीन का भी ध्‍यान रखना जरूरी है। इसके लिए कुछ बातों को अपनाकर दांतों की खूबसूरती बनाए रखें-

  • दांतों के सौंदर्य के लिए पहला कदम है उनकी सही से सफाई। इसके लिए दिन में दो बार ब्रश करना चाहिए। रात को सोने से पहले दांतों को ब्रश करना जरूरी है।
  • टूथपेस्‍ट का चयन सोच समझकर करें। अगर आपके दांत सेंसटिव हैं तो डॉक्‍टर से सलाह लेकर टूथपेस्‍ट चुनें।
  • आप दिन में जितनी बार खाना खाते हैं उतनी ही बार दांतों को साफ करना आपके लिए जरूरी है, लेकिन इसका मतलब यह नहीं है कि आप खाना खाने के तुरंत बाद ब्रश लेकर दांतों को साफ करना शुरू कर दें। खाने से बने एसिड दांतों के एनेमल को मुलायम कर देते हैं, इसलिए खाने के कम से कम एक घंटे बाद ही ब्रश करें।
  • ज्यादातर लोग दांतों को ब्रश करने का सही तरीका नहीं अपनाते हैं। ब्रश पर पेस्ट लगा कर दांतों को रगड़ देते हैं और सोचते हैं कि दांत साफ हो गए। कुछ लोग तो बस एक ही राउंड में कुल्ला कर लेते हैं। जबकि आपको कम से कम दो मिनट तक ब्रश करना चाहिए और दिन में दो बार करना चाहिए।
  • अपने टूथब्रश को अक्सर बदलते रहें और नया टूथब्रश इस्तेमाल करें। ज्यादा ताकत से ब्रश न करें, ऐसा करने से दांत और मसूड़े जख्मी हो सकते हैं। ब्रश करते वक्‍त ऊपर से नीचे और नीचे से ऊपर की तरफ ब्रश करें। बच्चों को सही तरीके से ब्रश करने की आदत डालें जिससे वे सही तरीके से ही ब्रश करना सीख सकें।
  • अगर आप धूम्रपान करते हैं, तो आज ही इसे बंद करें क्योंकि धूम्रपान के बाद काफी बैक्टीरिया मुंह में रह जाते हैं और ये दांतों व मसूड़ों का संक्रमण फैलाने का काम करते हैं। इसलिए दांतों को स्वस्थ रखने के लिए धूम्रपान की आदत को छोड़ने की जरूरत है।
  • विटामिन सी और कैल्शियम युक्त उचित आहार के साथ मौसमी खाद्य पदार्थों और सब्जियों का सेवन जरूरी है। मानसून में सेब, नाशपाती, स्ट्रॉबेरी, दही और ओट का सेवन लाभकारी होता है।

Leave a comment