googlenews
Preeti Jhangiani's Interview: मैं एक शांत गृहलक्ष्मी हूँ - प्रीति झंगियानी
Interview of Preeti Jhangiani

Preeti Jhangiani’s Interview: गृहलक्ष्मी के फंडे में आज हमारी सहयोगी रिचा तिवारी ने फेमस अभिनेत्री प्रीति झंगियानी से खास बातचीत की. वीडियो एल्बम यह है प्रेम के साथ एंटरटेनमेंट इंडस्ट्री में कदम रखने वाली प्रीति की पहली बॉलीवुड फिल्म मोहब्बतें थी. यह फिल्म हिट थी और अपने किरदार से उन्होंने सभी का दिल जीत लिया था. पढ़िए प्रीति के जीवन के कुछ खास फंडे-

आप खुद को कैसी गृहलक्ष्मी मानती हैं?

मुझे लगता है कि मैं मुश्किल समय में शांत रहने वाली गृहलक्ष्मी हूं. मैं खुद भी शांत रह सकती हूं और लोगों को भी शांत रख सकती हूं. मुश्किल सिचुएशन को मैं खत्म कर सकती हूं. एक शब्द में अगर कहे तो मैं शांत गृह लक्ष्मी हूं.

पर्सनल और प्रोफेशनल में क्या अंतर है?

किसी व्यक्ति का व्यक्तित्व बदलता नहीं है. मेरा एक शांत साइड तो है ही लेकिन गुस्सा तो हर किसी को आता है चाहे वह पर्सनल लाइफ हो गया प्रोफेशनल. लेकिन उसे कंट्रोल में रखते हुए सामने वाले को यह समझाना कि वह कहां गलत है और दूसरे की बात समझना यह बहुत जरूरी है. पर्सनल लाइफ में मैं इस तरह रहती हूं.

आप अपनी जिंदगी में कितने किरदार निभाती हैं

मैं एक बेटी, बहन, पत्नी और मां हूं. मैं वही करती हूं जो इंडिया की हर औरत करती है. ऑर्गेनाइजेशन, वैसे भी औरतें मल्टीटास्कर होती हैं. मैं भी मल्टीटास्किंग काफी अच्छे से कर लेती हूं. घर के बारे में हो, ऑफिस के बारे में, वहां के स्टाफ के बारे में या अपने बच्चों के बारे में सब चीजों का ध्यान रखना होता है. मेरे ख्याल से एक औरत में ऑर्गेनाइजेशन कैपेसिटी होना जरूरी है.

पर्सनल और प्रोफेशनल लाइफ को किस तरह मैनेज करती हैं?

मैं बहुत लकी हूं मुझे कि हेल्प मिल जाती है. बच्चों का ध्यान रखने में मेरी मम्मी और बहन ने मदद की हैं. जब दिल्ली से मेरे हस्बैंड के पेरेंट्स आते हैं तो उनका भी पूरा सहयोग मिलता है.

आपके हस्बैंड आपको किस तरह की गृहलक्ष्मी मानते हैं?

एक रिश्ते में हमें दोनों साइड को बराबर रखना पड़ता है. हमेशा किसी एक को आगे नहीं रखा जा सकता. हम दोनों ने हमेशा एक दूसरे के लिए एडजस्ट किया. हम दोनों के बीच में एक-दूसरे की पर्सनालिटी और प्रोफेशन को लेकर रिस्पेक्ट है. वह मुझे लेकर बहुत प्रोटेक्टिव हैं. जब मुझे लगता है कि मुझे संभालने की जरूरत है तब मैं उनके आगे आ जाती हूं.

आपकी सास के साथ आपकी बॉन्डिंग कैसी हैं

मेरे सास और ससुर की तरह कोई है ही नहीं. वह मुझे बहुत प्यार और सपोर्ट करते हैं. हर चीज में हमारा ध्यान रखते हुए सपोर्ट करते हैं.  मैं बहुत लकी हूं कि जितने सपोर्टिव मेरे पेरेंट्स है उतनी ही मेरे इनलॉज भी हैं.

आप अपने दोस्तों के लिए किस तरह टाइम निकालती हैं

आजकल दोस्तों के साथ टाइम बिताना मुश्किल होता है. क्योंकि सभी लोग अपनी लाइफ में बहुत बिजी हैं. पहले सब आसान था लेकिन अब बहुत मुश्किल हो गया है क्योंकि सभी की फैमिली है.

आप अपना मी टाइम किस तरह स्पेंड करती हैं?

हर औरत को अपनी नींद बहुत प्यारी होती है. मुझे भी जब मौका मिलता है मैं एक नींद निकाल लेती हूं. मुझे पढ़ना पसंद है और मुझे वेब सीरीज और नेटफ्लिक्स देखना बहुत पसंद है. इसके अलावा मैं मैनीक्योर, पेडीक्योर और शॉवर लेना पसंद करती हूं.

खाने में आपको क्या बनाना पसंद है?

मैं नॉनवेजिटेरियन बना लेते हूं लेकिन रोटी-सब्जी और दाल-चावल बनाना मैंने अभी तक नहीं सीखा है.

आपके हस्बैंड के लिए आप कौन सी स्पेशल डिश बनाती हैं?

अपने हस्बैंड के लिए मैं प्रॉन्स बना लेती हूं.

आपका फैशन फंडा क्या है?

फैशन वहां तक फॉलो करना चाहिए जहां तक आप कंफर्टेबल हो. कितनी भी अच्छी ड्रेस पहन लें लेकिन आप अनकंफर्टेबल है तो आप अच्छे नहीं लग पाएंगे. हर एक का अपना फैशन और स्टाइल होता है. आपको अपनी स्टाइल खुद डेवलप करनी चाहिए ना की किसी फोटो को देखकर कुछ अपनाना चाहिए. मैं बहुत मॉडर्न फैमिली से बिलॉन्ग करती हूं जहां हमने कभी भी शॉर्टस, पैंट, जींस इनके अलावा कुछ नहीं पहना. लेकिन फिल्मों में आने के बाद मैंने हर तरह की साड़ी पहनना सिखा और आज मैं साड़ी में सबसे ज्यादा कंफर्टेबल फील करती हूं.

आपका ब्यूटी फंडा क्या है?

सबसे जरूरी बात है कि पानी बहुत पीना है और रात को सोने से पहले अपना मेकअप पूरी तरह से क्लीन करना है. खाना जहां तक हो घर का ही खाएं. हरी चीजें आपकी स्किन को अच्छा बनाती हैं.

आपका फिटनेस फंडा क्या है?

आजकल मैं और मेरे हस्बैंड सुबह से उठकर एक्सरसाइज करते हैं. मेरे हस्बैंड फिटनेस फैन है और वह हमेशा से ही एक्सरसाइज करते आए हैं. पहले मैं इतना सब कुछ नहीं करती थी लेकिन दो बच्चों के बाद मुझे लगा कि मुझे भी करना पड़ेगा. इन सब चीजों में मुश्किल जरूर हुई लेकिन अगर आप समय देंगे तो खुद ब खुद बॉडी को सही शेप में ला पाएंगे.

आपकी दिनचर्या कैसी होती है?

भीगे हुए बादाम से मेरे दिन की शुरुआत होती है. उसके बाद हम एक्सरसाइज करते हैं. इसके बाद में ब्लैक टी लेती हूं. इसके बाद बच्चे स्कूल और हम ऑफिस आ जाते हैं. काम कंप्लीट होने के बाद 4 बजे मैं घर चली जाती हूं उसके बाद बच्चों का ट्यूशन होता है. यह सब होने के बाद हम बच्चों के साथ थोड़ा टाइम बिताते हैं. बच्चे सो जाते हैं उसके बाद हम हस्बैंड और वाइफ वाला टाइम बिताते हैं.

फ्यूचर में अपने आप को कहां देखती हैं?

बहुत सारे ऑफर हैं, बहुत सारी स्क्रिप्ट है जो यहीं पर रखी हुई है. लेकिन मुझे काम की वजह से पढ़ने का मौका नहीं मिल पाया. बहुत जल्दी ऑडियंस मुझे ओटीटी प्लेटफॉर्म पर देखेगी. मैंने एक स्क्रिप्ट चूनी है. इसी के साथ मैंने महापौर नाम की एक फिल्म भी साइन की है. इसे हम लखनऊ में शूट करने वाले हैं जिसमें मैं मेयर का किरदार निभाने वाली हूं. हमने अपना एक टूर्नामेंट स्टार्ट किया है जिसमें हम बिजी चल रहे हैं.

बायोपिक मूवी का चलन बहुत बढ़ गया है. आप किस व्यक्ति की बायोपिक करना चाहेंगी?

मुझे श्रीदेवी बहुत पसंद हैं. मुझे बहुत पसंद आएगा अगर मैं उनकी बायोपिक का हिस्सा बनूं.

महिला सशक्तिकरण को किस तरह से बढ़ावा देती हैं?

हमारा जो प्रो पंजा लीग है उसमें हम महिला, पुरुष और स्पेशली एबल सभी को सेम प्राइज मनी देते हैं. समान मौके सभी को दिए जाते हैं. बाकी कई स्पोर्ट्स में यह नहीं होता है. पुरुषों को या पुरुषों की टीम को ज्यादा प्राइज मनी मिलती है. लेकिन हमारे लीग में ऐसा नहीं है हम सबको बराबर अपॉर्चुनिटी देते हैं. यह कोशिश हम कर रहे हैं. बाकी पर्सनल लाइफ में हम बच्चों को यही सिखाते हैं कि औरत और मर्द में अंतर ना करें. कोई भी हो इंसान में फर्क ना करें.

दर्शकों को क्या मैसेज देना चाहेंगी?

मैं हमेशा एक ही बात कहती हूं जियो और जीने दो. अपने बिलीव अपने रिलीजन खुद तक और अपने घर तक रखो और लोगों को भी अपनी चीजें निभाने दो. दूसरा यह कि आप सभी को रिस्पेक्ट दें क्योंकि आप प्यार देंगे तो आपको प्यार मिलेगा.

Leave a comment