“ना उम्र की सीमा हो ना जन्म का हो बंधन ना उम्र की सीमा हो ना जन्म का हो बंधन, जब प्यार करे कोई तो देखे केवल मन” जगजीत सिंह के यह बोल दिलीप कुमार और शायरा बानो की पूरी कहानी बयां कर देती है। गौरतलब है कि, बॉलीवुड के दिग्गज अभिनेता और ट्रेजडी किंग कहे जाने वाले दिलीप कुमार का 98 की उम्र में निधन हो गया है। आपको बता दें कि, दिलीप कुमार काफी समय से बीमार चल रहे थे जिसके बाद कुछ समय पहले ही उनका निधन हो गया।हालांकि पत्नी सायरा बानो ने हेल्थ अपडेट देते हुए उनकी हालत को स्थिर बताया था, लेकिन 7 जुलाई की सुबह बॉलीवुड के लिए एक गहरा सदमा लेकर आई थी।

 

दिलीप कुमार को कुछ समय से सांस लेने में तकलीफ हो रही थी जिसके बाद 29 जून को अस्पताल के आईसीयू में एडमिट करवाया गया था। लेकिन 7 जुलाई को उन्होंने अंतिम सांस ली और दुनिया को अलविदा कह दिया। आपको बता दें कि दिलीप कुमार और सायरा बानो की जोड़ी को बॉलीवुड इंडस्ट्री में सदाबहार जोड़ी कहा जाता है। दोनों ने एक दूसरे के साथ 55 साल बी बहुत ही प्यार से बिताए है। वहीं आज इस पोस्ट के जरिए हम आपको सायरा और दिलीप कुमार की लव स्टोरी के बारे में बातएंगे।

 

फ़िल्मी है लव स्टोरी

दिलीप कुमार और सायरा बानो की लव स्टोरी बिलकुल फिल्म की स्क्रिप्ट की तरह ही है। आपको इनकी स्टोरी को जानने के बाद ऐसा लगेगा की यह किसी ने  लिखा है। एक इंटरव्यू में सायरा ने कहा कि, वे जब 12 साल की थीं, तब दिलीप कुमार की फिल्म ‘आन’ देखी। जिसके बाद से उन्होंने ठान लिया था कि वे शादी करेंगी तो दिलीप कुमार से ही, लेकिन यह इतना आसान नहीं था। क्योंकि दिलीप कुमार पर देश-विदेश की लड़कियां जान छिड़कती थीं। इसके बाद सायरा जैसी ही बड़ी हुईं उन्होंने फिल्मों में काम करना शुरू किया। वहीं दूसरी ओर थे दिलीप कुमार जो दो बार प्यार में नाकाम हो चुके थे और इसके बाद उन्होंने सायरा में कोई दिलचस्पी नहीं दिखाई।

 

ट्रेजडी किंग का रौब था अलग

आपको बता दें कि, दिलीप कुमार उस समय के सबसे लोकप्रिय और पॉपुलर अभिनेता थे। उनके पीछे हमेशा ही लड़कियों की लाइन लगी रहती थी। भारत के अलावा भी अन्य कई देशों की लड़किया उन पर जान छिड़कती थी। वहीं दूसरी ओर थी सायरा बानो जो बहुत ही सिंपल सादी लड़की थी। लेकिन उन्हें ऊपर भी दिलीप कुमार को पाने का खुमार बचपन में ही चढ़ गया था। सायरा के फिल्म इंडस्ट्री में आने की वजह भी दिलीप ही थे। वहीं एक बार तो उन्होंने सायरा बानो को बोल भी दिया था, ‘अरे मेरे सफेद होते बालों को तो देखो’ लेकिन फिर भी सायरा नहीं मानी।

 

सायरा का इंतजार हुआ ख़त्म

दिलीप कुमार को पाने के लिए सायरा बानो ने वह सब कुछ सीखा जो दिलीप साहब को पसंद था। उन्होंने बहुत कोशिश की दिलीप कुमार को पाने की मानो सायरा ने बस यह ठान ही लिया था की वो सिर्फ और सिर्फ दिलीप कुमार की ही हो कर रहेंगी। वहीं फिर लंबे समय से इंतजार कर रहीं सायरा का इंतजार खत्म हुआ। साल 1966 में दिलीप-सायरा ने बिना बताए शादी कर ली थी। मीडिया और दुनिया की चकाचौंद से दूर दिलीप और सायरा जन्मों-जन्मों के लिए एक दूसरे के हो गए। जैसे ही मीडिया को दोनों की शादी की भनक पड़ी तो लाखों लड़कियों के दिन टूट गए और हर जगह बस दोनों के ही चर्चे शुरू हो गए।

 

उम्र का फासला

आपको बता दें कि, दिलीप-सायरा के बीच उम्र का भी बहुत अंतर है। सायरा दिलीप से 22 साल छोटी हैं। शादी के समय दिलीप की उम्र 44 थी, जबकि सायरा की उम्र 22 साल थी। लेकिन यह उम्र का अंतर कभी भी दोनों के प्यार के बीच नहीं आया। सालों बाद भी दिलीप कुमार और सायरा बानो का प्यार पहले जैसा ही है। सायरा बानो अंत समय तक दिलीप साहब का बहुत ध्यान रखा है। सायरा बानो दिलीप कुमार संग उनके हर अच्छे और बुरे समय में साथ रहती हैं।

 

शादी के पहले सायरा हुई प्रेग्नेंट

दिलीप कुमार की ऑटोबायोग्राफी ‘द सबस्टांस एंड द शैडो’ में उन्होंने अपनी जिंदगी से जुड़े कई बड़े खुलासे किए है। ऑटोबायोग्राफी में उन्होंने बताया कि सायरा एक बार प्रेग्नेंट हुई थीं, लेकिन पैदा होने से पहले ही बच्चे की मौत हो गई थी। इस घटना से दोनों ही बुरी तरह टूट गए थे। इसके बाद सायरा कभी मां नहीं बन सकीं। फिर भी दोनों साथ खड़े रहे।

 

यह भी पढ़े। 
नरम और फूली हुई रोटियां बनाने के लिए अपनाएं यह छोटे-छोटे टिप्स
बॉलीवुड से जुड़े हमारे लेख आपको कैसे लगे? अगर आपको किसी सेलिब्रिटी के बारे में जानना हैं या हमारे कोई लेख आपको पसंद आया हो तो आप अपनी प्रतिक्रियाएं जरूर भेेजें।  हमें ई-मेल कर सकते हैं- editor@grehlakshmi.com