googlenews
itchy head
get rid of itchy head

Goodbye To Itchy Head: गर्मी और उमस से होने वाली कुछ समस्याएं आम होती हैं जैसे- ज्यादा पसीना, गीलापन और रूखी रूसी, फंगल संक्रमण, मुंहासे अथवा सिर में फुंसियां इत्यादि। इनमें से कुछ समस्याओं की अनदेखी करने पर वो भयंकर रूप धारण कर लेती हैं जैसे- पसीने की वजह से सिर की त्वचा में बैक्टीरिया और फंगस पनपने लगते हैं और त्वचा में संक्रमण हो जाता है। कई बार यीस्ट इन्फेक्शन भी हो जाता है और परिणामस्वरूप सिर में खुजली या पपड़ी हो जाती है। इन समस्याओं के डर से हम गर्मियों में घर से बाहर निकलना तो बंद नहीं कर सकते हैं किंतु बचाव के उपाय जरूर कर सकते हैं। त्वचा रोग विशेषज्ञ डॉ. सोनम यादव के अनुसार गर्मी के चलते बालों में होने वाली समस्याओं से बचने के लिए सबसे जरूरी है कि हम अपने सिर और बालों की सफाई अच्छी तरह से करें, साथ ही नीचे दिए उपायों को अपनाएं।

बालों को धोएं लेकिन सौम्यता का ख्याल रखें :

गर्मियों में सबसे ज्यादा जरूरी होता है समय-समय पर अपने बालों को धोते रहना। अपने बालों की स्थिति को देखते हुए हर दूसरे दिन अपने बालों में शैंपू लगाएं। खासतौर से तब जब आप बाहर ज्यादा समय गुजारते हैं। ज्यादा यात्रा करते हों और धूप के सीधे संपर्क में आते हों, तब आपको अपने सिर को साफ करने की जरूरत ज्यादा महसूस होती है। हालांकि शैंपू का ज्यादा इस्तेमाल आपके सिर की त्वचा से नमी चुरा सकता है, ऐसे में शैंपू का चयन करते समय सावधान रहें।

बालों को सूखा रखें :

बालों में गीलेपन से बैक्टीरिया और फंगस को पनपने का मौका मिलता है, ऐसे में आपको जहां तक हो सके अपने सिर को सूखा रखने की कोशिश करनी चाहिए। शैंपू करने के बाद बालों को बांधने से पहले अच्छी तरह से सुखाएं।

बालों को सांस लेने दें :

चूंकि बालों को खोल कर रखने से ज्यादा गर्मी लगती है, ऐसे में बहुत सारे लोग घर से बाहर निकलते समय बालों को कसकर बांध लेते हैं और फिर दिन के आखिर में ही इन्हें खोलते हैं। इससे आपकी गर्दन पर ठंड का एहसास रह सकता है लेकिन सिर में असहजता हो सकती है, बाल कमजोर हो सकते हैं और झडऩे भी शुरू हो सकते हैं। अपने बालों की जड़ों को खींचकर बांधने के बजाय बाल हल्के से बांधें और बीच-बीच में पसीने को सूखने का मौका देने और सांस लेने के लिए बालों को खोलते रहें।

तौलिए और कंघी एक-दूसरे के साथ न बांटें :

रूसी, बैक्टीरियल संक्रमण और फंगल संक्रमण एक-दूसरे की त्वचा तक पहुंच सकते हैं। ऐसे में बचाव के लिए कभी भी तौलिया या कंघी एक-दूसरे के साथ शेयर न करें खासतौर से तब जब डैंड्रफ की समस्या हो। इन चीजों को एक-दूसरे के साथ शेयर करने की आदत जुएं की वजह भी बन सकती है, जो कि सिर में खुजली की सबसे बड़ी वजह है।

तैराकी के दौरान रहें सावधान : 

गर्मियों में तैराकी बेहद लोकप्रिय है, क्योंकि इससे न सिर्फ शरीर और दिमाग को आराम मिलता है बल्कि यह व्यायाम का भी एक बेहतरीन स्रोत है। हालांकि, आपके बाल स्विमिंग पूल के क्लोरीन वाले पानी से डैमेज हो सकते हैं। ऐसे में जब भी तैराकी के लिए जाएं, शॉवर कैप लगा लें अथवा अपने बालों में कंडीशनर लगा लें। स्विमिंग पूल से बाहर आने के तुरंत बाद अपने बालों को साफ पानी से धोने की आदत डालें।

रूसी को रखें दूर :

जब पसीना, सीबम, धूल और मृत कोशिकाएं एक साथ मिलकर हमारी त्वचा के ऊपर एक परत बना देती हैं, तो इससे डैड्रफ बन जाती है इसलिए आवश्यक है कि हफ्ते में एक बार कोई का इस्तेमाल करें। अगर समस्या एक महीने से ज्यादा समय तक बनी रहे तो किसी त्वचा रोग विशेषज्ञ से संपर्क करें।एंटीबायटिक तत्वों वाले तेल का इस्तेमाल करें अगर बार-बार शैंपू करने से आपके सिर की नमी कम या खत्म हो गई है तो तेल की मालिश बेहद फायदेमंद हो सकती है। इससे आपके सिर का रक्त संचार बढ़ेगा और त्वचा के नीचे की तेल ग्रंथियों का संतुलन बना रहेगा। गर्मियों में जब सिर में संक्रमण का खतरा अधिक रहता है तब एंटी बैक्टीरियल तत्वों जैसे कि नीम ट्री ऑयल, टी ट्री ऑयल आदि तेल से मालिश करना फायदेमंद होता है। इससे आपके सिर की त्वचा को बैक्टीरियल संक्रमण से लडऩे में मदद मिलेगी। तो गर्मियों में छोटे-छोटे उपायो को अपनाएं और बालों को खुलकर लहराने के लिए तैयार हो जाएं।