googlenews
घर पर फेस पैक कैसे बनाएं

जाड़े आ रहे हैं या ये कहें कि जाड़ों ने दस्तक बस दे ही दी है। जाड़े आने का मतलब ही है कि त्वचा का खास ख्याल रखा जाए। ऐसा न किया जाए तो अक्सर त्वचा पर गलत असर होता है। ये खिंचने लगती है, रूखी हो जाती है या फिर बिलकुल खराब सी दिखने लगती है। लेकिन अगर कुछ छोटे ट्रीटमेंट घर पर ही कर लिए जाएं तो समझ लीजिए कि जाड़ा त्वचा पर ज्यादा असर नहीं डाल पाएगा। ये छोटे और आसान ट्रीटमेंट हैं फेस मास्क। जिन्हें घर पर मौजूद चीजों से ही आसानी से बनाया और इनका फायदा उठाया जा सकता। चलिए फिर जान लेने हैं, ऐसे ही कुछ फेस मास्क के बारे में-

घर पर फेस पैक कैसे बनाएं
फलों से बनें बेस्ट विंटर फेस मास्क 4

केला खाएं तो लगाएं

केला एक ऐसा फल है, जो पोषण से भरपूर होता है। विटामिन अच्छी मात्रा में होते हैं तो पपीते का भी यही हाल है। इसमें एंटीऑक्सीडेंट खूब होता है। इन दोनों से मिलकर त्वचा के लिए एक बेहतरीन मास्क बनता है। अब अगर इसमें शहद की कुछ बूंदें भी मिला ली जाएं तो मानिए कि आपकी त्वचा आपको ‘थैंक यू’ तो बोलेगी ही। आप उसको जरूरत भर का पोषण जो दे देंगी, वो भी जाड़े के समय। इसके लिए केला, पपीता और शहद को मिलाना है। अब इस मिश्रण को पूरे चेहरे पर जरूर लगा लें। मसाज करें और फिर सूखने दें। अब इसे धो लें। आपको धोते ही चमकती हुई त्वचा मिल जाएगी। 

एलोवेरा के साथ नारियल तेल

एलोवेरा और कोकोनट ऑयल, दोनों ही चेहरे के लिए बेहतरीन हैं। ये एक नेचुरल फेस मास्क है, जो कूलिंग एजेंट की तरह काम करता है खासकर तब जब जाड़े की वजह से त्वचा में काफी इरिटेशन हो रही हो। इसके लिए आपको कोकोनट ऑयल के साथ घर के गार्डेन से एलोवेरा जेल भी लेना है। कुछ देर के लिए इसको रखिए, फिर धो दीजिए। 

 

घर पर फेस पैक कैसे बनाएं
फलों से बनें बेस्ट विंटर फेस मास्क 5

नींबू का कमाल

विटामिन सी के गुणों से लबरेज नींबू खराब स्किन पर बेहतरीन काम करता है। इसके लिए आपको शहद में कुछ नींबू का रस मिलाना होगा। अब इसको पूरे चेहरे पर फैला लें। आंखों के आस-पास इसे न लगाएं और 10 मिनट बाद धो दें। इसके बाद चेहरे पर एक मॉश्चराइजर लगा लें। ड्राई स्किन है तो ये मास्क आपके लिए बेहतरीन है। इसके साथ जाड़ेभर आपको चमकती हुई त्वचा मिल जाएगी। 

एक्सपर्टकीराय

फलों के छिलके वो कमाल करते हैं। जो महंगे पार्लर भी ना कर पाएं। जबकि ज्यादातर बार इसे फेंक ही दिया जाता है। अक्सर फलों के छिलके में एंटीऑक्सीडेंट के साथ दूसरे पोषक तत्व भी होते हैं। जिनसे त्वचा साफ रहने के साथ उसमें नमी भी बनी रहती है। छिलकों में कुछ न मिलाएं, तो भी काम बढ़िया होता है, फिर इसमें शहद, दही या एलोवेरा भी मिला हो तो बात की क्या।

अपर्णा निगम, ब्यूटी एंड हेयर एक्सपर्ट, हबीब 

ये भी पढ़ें-