ऑनलाइन पार्टनर का चयन करना मतलब अपने पार्टनर को ऑनलाइन मॅट्रिमोनी साइट्स के द्वारा चुनना या फिर किसी अन्य ऑनलाइन स्रोत जैसे  सोशल नेटवर्किंग साइट्स के द्वारा चुनना। शाश्वत और स्निग्धा शादी करके विदेश चले गए। कुछ दिन तो सब ठीक चला लेकिन १ महीना भी नहीं बीता था कि स्निग्धा भागकर वापस इंडिया आ गई। वजह चौंका देने वाली थी, शाश्वत ने पहले से ही किसी और लड़की से शादी कर रखी थी। एक ऑनलाइन मैट्रीमोनी साइट से दोनों का रिश्ता तय हुआ था और धूमधाम से शादी।  फिर आखिर गलती कहां  हुई  ये बात सोचकर सब हैरान थे। शाश्वत काफी सालों से विदेश में था और उसका फैमिली बैकग्राउंड भी अच्छा था। यही सोचकर स्निग्धा के पैरेंट्स ने ज्यादा गहराई में गए बिना ही उनकी शादी कर दी और नतीजा स्निग्धा को भुगतना पड़ा।  न जाने कितनी ही शादियां होती हैं जो किसी अंजान से मॅट्रिमोनी साइट्स में मिलने के बाद तय कर दी जाती हैं। आमतौर पर इन शादियों में ज्यादा कोई परेशानी नहीं आती लेकिन कई बार दोनों का रिश्ता टूटने की कगार पर भी आ जाता है। यदि आप भी ऑनलाइन लाइफ पार्टनर ढूंढ रहे हैं तो आपको कुछ बातों का ध्यान जरूर रखना चाहिए –

प्रोफाइल चेक करें

सबसे पहले लड़के या लड़की के  सोशल मीडिया लिंक चेक करें। उसका प्रोफाइल कितना पुराना है, तसवीरें कैसी और कब की हैं, कुछ संदिग्ध तो नहीं नजर आ रहा, उसकी फ्रेंड लिस्ट में कौन हैं, ये लोग सही हैं या नहीं ?  यदि किसी भी बात का कन्फ्यूजन हो तो उस व्यक्ति से पूछताछ करें और जवाब संतुष्ट करने वाला नहीं है उससे बात आगे न बढ़ाएं। 

मिलने अकेले न जाएं 

अगर आप उससे  थोड़े दिनों तक ऑनलाइन बात करके मिलने का प्लान कर रहे हैं तो मिलने अकेले न जाएं। हो सके तो अपने पैरेंट्स की उपस्थिति में ही मिलें।  

सामने वाले पर भरोसा न करें 

ऐसा कभी न सोचें कि सामने वाले ने अपनी जो जानकारी ऑनलाइन दी है वह पूरी तरह से ठीक है। किसी तरह की कोई जल्दबाजी न करें। अच्छी तरह से जानें पहचाने और हो सके तो उसके कार्यस्थल से भी  उसकी सारी डिटेल लें, उसके परिवार और फ्रैंड्स के बारे में पूछें। अच्छी तरह जांच परख के ही बात को आगे बढ़ाएं ।

जल्दबाजी से बचें

अगर शुरुआती दौर में ही दूसरा पक्ष अनावश्यक रूप से निजी जानकारियां लेना चाह रहा है तो बात आगे न बढ़ाएं। सामने वाला जल्दबाजी दिखाए या परिवार के बारे में जानकारी दिए बिना बात आगे बढ़ाना चाहे तो उस पर भरोसा न करें।  क्योंकि हो सकता है कि वो किसी गलत इरादे से जल्दबाजी कर रहा हो। 

मैट्रीमोनी साइट्स का चयन

किसी भी भरोसेमंद मैट्रिमोनियल साइट्स पर ही भरोसा करें।  केवल उन्हीं साइट्स पर भरोसा करें जो पूरी तरह से वैरीफाइड हों।  गलत साइट के चयन आपकी ज़िन्दगी खराब कर सकता है। कोशिश करें कि  जो पेड मेंबर्स हों उन्ही को चुनें क्योंकि कई लोग टाइम पास के लिए भी इन साइट्स में रजिस्ट्रेशन करा देते हैं।