घर

वास्तुशास्त्र के हिसाब से घर का हर एक कोना वास्तुदोष  रहित होना चाहिए। वास्तु विज्ञान में घर की हर वस्तु, कमरे आदि का अपना एक उचित स्थान बताया गया है। इसी तरह घर में बने मंदिर की दिशा, उसमें रखी मूर्तियों का स्थान, कौन सी मूर्ति मंदिर में रखनी चाहिए या नहीं रखनी चाहिए ये सब भी बहुत मायने रखता है। आज हम आपको बताएंगे कि ऐसी कौन सी मूर्तियां हैं जिन्हें मंदिर में नहीं रखना चाहिए।

1. मंदिर में भगवान की युद्ध करते हुए या दानव को मारते हुए कोई भी मूर्ति या तस्वीर नहीं रखनी चाहिए। इस प्रकार के चित्रों के दर्शन करने से घर की सुख-शांति छिन जाती है।

सावधान हो जाइए!!!अगर घर के मंदिर में रखी हैं इन देवी-देवताओं की मूर्तियां 8

2. शक्ति स्वरूपा मां दुर्गा के रौद्र रूप की तस्वीर या मूर्ति मंदिर में न रखें। मान्यता है कि मां के इस क्रोधित स्वरूप को मंदिर में स्थापित करने से फैमिली मेंबर्स के बीच हमेशा लड़ाई-झगड़े होते हैं।

सावधान हो जाइए!!!अगर घर के मंदिर में रखी हैं इन देवी-देवताओं की मूर्तियां 9

3. शिव भगवान के अवतार कहे जाने वाले भैरव बाबा की मूर्ति घर में नहीं लानी चाहिए। भैरव देव तंत्र विधा के देवता हैं कहते हैं इनकी उपासना घर के भीतर ना होकर बाहर ही करनी चाहिए।

सावधान हो जाइए!!!अगर घर के मंदिर में रखी हैं इन देवी-देवताओं की मूर्तियां 10

4. भगवान शिव का रौद्र रूप नृत्य ही नटराज कहलाता है। ऐसी क्रोधित अवस्था की मूर्ति या चित्र मंदिर में स्थापित करने से घर में अशांति फैलती है।

सावधान हो जाइए!!!अगर घर के मंदिर में रखी हैं इन देवी-देवताओं की मूर्तियां 11

5. माता लक्ष्मी का विराजमान स्वरूप शुभ मन जाता है। कहते है खड़ी हुई लक्ष्मी माँ का चित्र या मूर्ति मंदिर में रखने से घर में पैसा रूकता नहीं है।

सावधान हो जाइए!!!अगर घर के मंदिर में रखी हैं इन देवी-देवताओं की मूर्तियां 12

6. शनि देव की पूजा-अर्चना से जीवन से कष्ट दूर होते है लेकिन इनकी मूर्ति घर में स्थापित नहीं करनी चाहिए। बाहर बने मंदिरों में ही शनि देव की पूजा का विधान है।

सावधान हो जाइए!!!अगर घर के मंदिर में रखी हैं इन देवी-देवताओं की मूर्तियां 13

 

ये भी पढ़ें –

बहुमंजिले भवन और फ्लैट में भी ध्यान रखें वास्तु का

हर किसी को पढ़ने चाहिए ‘गाय’ से जुड़े ये तथ्य

कैसे बचें बुरी नजर से ?

आप हमें फेसबुकट्विटर और यू ट्यूब चैनल पर भी फॉलो कर सकते हैं।